Close

Recent Posts

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

भारत

एनआईए ने आतंकवादियों, गुंडा गिरोहों और मादक पदार्थों के तस्‍करों के बीच उभरते गठजोड़ को तोड़ने के लिए 50 स्थानों पर छापे मारे

एनआईए ने आतंकवादियों, गुंडा गिरोहों और मादक पदार्थों के तस्‍करों के बीच उभरते गठजोड़ को तोड़ने के लिए 50 स्थानों पर छापे मारे
  • PublishedSeptember 14, 2022

13-09-2022 -राष्‍ट्रीय अन्‍वेषण अभिकरण- एनआईए ने आतंकवादियों, गुंडा गिरोहों और मादक पदार्थों के तस्‍करों के बीच उभरते गठजोड़ को तोड़ने के लिए देश-विदेश के 50 स्‍थानों पर तलाशी अभियान चलाया। पंजाब, हरियाणा, राजस्‍थान और दिल्‍ली तथा आसपास के क्षेत्रों में व्‍यापक पैमाने पर तलाशी की गई | इस तरह की आतंकी और आपराधिक गतिविधियों में शामिल भारत और विदेशों में स्थित कुछ गिरोहों की पहचान की गई और उन पर मामले दर्ज किए गए।

राष्‍ट्रीय अन्‍वेषण अभिकरण- एनआईए ने आतंकवादियों, गुंडा गिरोहों और मादक पदार्थों के तस्‍करों के बीच उभरते गठजोड़ को तोड़ने के लिए देश-विदेश के 50 स्‍थानों पर तलाशी अभियान चलाया। पंजाब, हरियाणा, राजस्‍थान और दिल्‍ली तथा आसपास के क्षेत्रों में व्‍यापक पैमाने पर तलाशी की गई। एनआईए दो मामलों का फिर से पंजीकरण कराने के बाद जांच कर रही है जिन्‍हे दिल्‍ली पुलिस ने पिछले महीने की 26 तारीख को पंजीकृत किया था। इस तरह की आतंकी और आपराधिक गतिविधियों में शामिल भारत और विदेशों में स्थित कुछ गिरोहों की पहचान की गई और उन पर मामले दर्ज किए गए।

एनआईए ने कहा है कि हाल ही में आपराधिक गिरोह और उनके सरगनाओं द्वारा व्‍यापारियों और डॉक्‍टरों सहित पेशेवरों से फिरौती की मांग से लोगों में व्‍यापक भय पैदा हो गया था। ये गिरोह जनता में बड़े पैमाने पर दहशत पैदा करने के लिए इन अपराधों को साइबर स्‍पेस के माध्‍यम से प्रचारित कर रहे हैं। एनआईए की जांच में यह भी पता चला है कि इस तरह के आपराधिक कृत्‍य स्‍थानीय स्‍तर की छिटपुट घटनाएं नहीं थी बल्कि आतंकवादी गिरोहों और तस्‍करों के बीच गहरी साजिश का हिस्‍सा थीं जो देश और अन्‍य देशों से संचालित की जा रही थीं। प्रवक्‍ता ने बताया कि गिरोहों के कई सरगना देश छोड़कर भाग गए हैं और वे अब पाकिस्‍तान, कनाडा, मलेशिया और ऑस्‍ट्रेलिया जैसे देशों से आपराधिक गतिविधियों को अंजाम दे रहे हैं।

तलाशी अभियान के दौरान बडी मात्रा में हथियार और गोलाबारूद बरामद किया गया है। एनआईए ने कहा है कि मादक पदार्थों के अलावा नकदी, डिजिटल उपकरण, बेनामी संपत्ति के दस्‍तावेज और धमकी भरे पत्र भी बरामद किए गए हैं।

Written By
bhangu