दुनिया

दुनिया (5113)


नई दिल्ली - ब्रिटेन की पुलिस ने लंदन अंडरग्राउंड ट्रेन बम ब्लास्ट मामले में एक और व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। 15 सितंबर को हुए इस ब्लास्ट में 30 लोग घयल हो गये थे। शुक्रवार में हुए हमले की जांच कर रही स्कॉटलैंड यार्ड की आतंकवाद रोधी कमान ने दक्षिण वेल्स के न्यूपोर्ट से 25 साल के व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।
मेट्रोपोलिटन पुलिस ने कहा कि इस संबंध में न्यूपोर्ट में एक ठिकाने पर तलाशी ली जा रही है। शनिवार को 18 साल के युवक को डोवर पोर्ट से हिरासत में लिया गया था और इससे पहले 21 साल के व्यक्ति को पश्चिम वेल्स में हाउंस्लो से गिरफ्तार किया गया था। दोनों संदिग्धों को ब्रिटेन के आतंकवाद अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया गया था और दक्षिण लंदन के पुलिस थाने में उनसे पूछताछ चल रही है।
आधिकारिक रूप से संदिग्धों का नाम उजागर नहीं किया गया है लेकिन 21 साल के आरोपी की पहचान स्थानीय रूप से एक सीरियाई शरणार्थी याहया फारुख के तौर पर हुई है। हालिया गिरफ्तारी भी ब्रिटेन के आतंकवाद अधिनियम की धारा 41 के तहत की गई है और ये गिरफ्तारी मेट की आतंकवाद-रोधी कमान ने ग्वेंट पुलिस एवं वेल्श एक्स्ट्रीमीज्म तथा काउंटर टेररिज्म यूनिट के सहयोग से की गई है।
मेट्रोपोलिटन पुलिस कमांडर डीन हेडन ने कहा कि इसमें बहुत तेजी से जांच चल रही है। शुक्रवार हुए हमले के बाद से इसमें कई अहम गतिविधियां हुई हैं। अब हमारी हिरासत में तीन लोग हैं और चार पतों पर तलाशी जारी है। इस्लामिक स्टेट समूह ने यह दावा किया था कि इस हमले के पीछे उसका हाथ है लेकिन मेट पुलिस के सहायक आयुक्त मार्क राउले ने कहा कि किसी हमले की जिम्मेदारी ले लेना आईएस के लिये आम बात हो गयी है, चाहे वे हमलावर के संपर्क में हों या नहीं हों।


मिस्र - मिस्र में छुट्टी मनाने गई एक सात वर्षीय बच्ची के साथ कुछ ऐसा हो गया, जिसे देखकर किसी की भी रूह कांप जाए। दरअसल, बच्ची ने वहां अपने हाथ में टैटू बनवाया जिसके बाद फफोले पड़ गए।
एक अंग्रेजी वेबसाइट के अनुसार, बच्ची के 50 वर्षीय पिता मार्टिन का कहना है कि उनकी बेटी आउटिंग के दौरान टैटू बनवाने के लिए कह रही थी। जब वह अपने हाथ में टैटू बनवाकर घर लौटी तो उसने खुजली की शिकायत की। मार्टिन ने कहा, 'हाथ में फफोले देखकर वह काफी घबरा गई थी। उसके हाथों में काफी दर्द हो रहा था।'
बता दें कि टैटू बनाने के लिए पीपीडी नामक कैमिकल का इस्तेमाल किया गया था, जिससे टैटू को और डार्क किया जा सके। हालांकि, पीपीडी कैमिकल का उपयोग डाई बनाने में भी किया जाता है लेकिन बस थोड़ा सा ही।
वहीं, मार्टिन का कहना है कि उन्हें इस कैमिकल के बारे में मालूम नहीं था। उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि यह मेरी गलती है क्योंकि मुझे इस कैमिकल के बारे में कुछ नहीं पता है। लेकिन इसके साथ ही उस सैलून वाले की भी गलती है, जिसने टैटू को बनाया।'
बच्ची का इलाज करने वाले डॉक्टरों का कहना है कि उन्होंने कुछ हद तक इसे ठीक कर दिया है। डॉक्टर ने बताया, 'टैटू से इस तरह के होने वाले फफोले पहले कभी नहीं देखे थे। मैं उसका हाथ देखकर काफी घबरा गया था।'
उन्होंने बताया कि टैटू की जगह बच्ची को काफी खुजली हो रही थी। इसलिए सबसे पहले हमने उसके हाथ को पानी से धुला। इसके बाद हमने इंटरनेट पर टैटू के बारे में सर्च भी किया।


नई दिल्ली - आतंकी संगठन अलकायदा की कमान अब ओसामा बिन लादेन का बेटा हमजा संभाल सकता है। 9/11 की बरसी पर अलकायदा ने तस्वीर जारी कर इस बहस को जन्म दिया है। अलकायदा ने जो तस्वीर जारी की है, उसमें ट्विन टॉवर के धुएं के बीच लादेन का चेहरा दिख रहा है और पास में ही उसका बेटा हमजा खड़ा दिख रहा है।
हमजा बचपन से ही लादेन के साथ दिखता रहा है। अब वह 28 साल का हो चुका है। लादेन को अमेरिका ने 2011 में मार गिराया था, जिसके बाद से आतंकी संगठन लगातार कमजोर होता गया। अधिकारियों और विश्लेषकों का मानना है कि आईएस के कमजोर पड़ने का फायदा उठाकर हमजा जिहादियों के बीच एकता कायम करने की कोशिश करेगा।
‘कॉम्बेटिंग टेररिज्म सेंटर’ (सीटीसी) की एक रिपोर्ट में एफबीआई के पूर्व स्पेशल एजेंट और अल-कायदा विशेषज्ञ अली सूफान ने लिखा है,‘अब हमजा 25 साल से ऊपर है और वह उस आतंकी संगठन का नेतृत्व करने के लिए तैयार है जिसे उसके पिता ने बनाया था। लादेन के वंश से होने की वजह से जिहादी आसानी से उसे अपना नेता चुन लेंगे।’
हमजा 20 बच्चों में से 15वां :
लादेन के 20 बच्चों में से 15वां है और उसकी तीसरी बीवी के बेटे हमजा को बचपन से ही उसके पिता के पदचिह्नों पर चलना सिखाया गया है। कई वीडियो में स्पष्ट तौर पर 9/11 के हमले से पहले ही वह उसे हथियार चलाने की ट्रेनिंग लेते देखा जा सकता है। वीडियो में वह अमेरिकियों और यहूदियों के खिलाफ बोलता भी नजर आता है।
हमजा की सटीक जानकारी नहीं :
ओसामा के खात्मे के बाद उसकी पत्नियों और बेटे हमजा को अफगानिस्तान के जलालाबाद में रखा गया और उसके बाद ईरान में। यहां वो कई साल तक नजरबंद रहे। फिलहाल हमजा कहां है, इसके बारे में कोई सटीक जानकारी नहीं है। हमजा जब 22 साल का था तब एक चिट्ठी में उसने लिखा था कि वह जिहाद के रास्ते पर हूं।
लादेन की तरह बोलने की कोशिश :
सूफान कहते हैं कि हमजा अपने पिता की तरह ही बोलने की कोशिश करता है। उसकी आवाज भी लादेन से मिलती-जुलती है। ऐसी कई वजहें हैं जिससे यह संकेत मिलता है कि हमजा एक प्रभावशाली आतंकी साबित हो सकता है।

 


न्यूयॉर्क - अमेरिकी राष्ट्रपति बनने के बाद पहली बार मंगलवार को डोनाल्ड ट्रंप ने संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने दो टूक उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन को चेतावनी दी। ट्रंप ने कहा कि ‘रॉकेट मैन’ अपने शासन और जनता के खिलाफ ‘आत्मघाती मिशन’ पर हैं।
ट्रंप ने 193 देशों की संयुक्त राष्ट्र आमसभा को संबोधित करते हुए कहा, अमेरिका के पास ताकत और संयम दोनों हैं। लेकिन जब बात अपनी और सहयोगियों की रक्षा की आएगी, तो अमेरिका के पास उत्तर कोरिया को पूरी तरह से नेस्तानाबूद करने के अलावा कोई विकल्प नहीं होगा। उन्होंने कहा, उत्तर कोरिया को समझ लेना चाहिए कि परमाणु हथियारों को छोड़ने से ही उसका भविष्य सुरक्षित होगा।
अमेरिकी राष्ट्रपति ने उत्तर कोरिया के तानाशाह उन को चेतावनी देते हुए कहा कि ‘रॉकेट मैन’ अपनी सरकार और जनता के लिए ‘आत्मघाती मिशन’ पर है। वह खुद अपना विनाश करने पर तुले हैं। उन्होंने परोक्ष रूप से चीन पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ देश न केवल उत्तर कोरिया के साथ वित्तीय संबंध कायम हुए है, बल्कि हथियारों की भी आपूर्ति कर रहे हैं और दुनिया को खतरे में डाल रहे हैं।
राष्ट्रपति ने ईरान-अमेरिका के बीच हुए परमाणु शांति समझौते को भी रद्द करने का संकेत दिया। उन्होंने कहा, समझौता एकतरफा थी। इससे अमेरिका का असहम स्थिति का सामना करना पड़ा। यह एक बड़ी भूल है।
दुनिया गर्त में जा रही है
अमेरिकी राष्ट्रपति ने अपने संबोधन में कहा कि दुनिया गर्त में जा रही है। उन्होंने कहा, दुनिया का एक बड़े हिस्से में संघर्ष चल रहा है। ऐसे में संयुक्त राष्ट्र ही इस स्थिति से निपट सकता है। ट्रंप ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र महासभा में बैठे ताकतवर लोग के मार्गदर्शन और तत्वाधान में संयुक्त राष्ट्र इन गंभी और जटिल समस्याओं को निपटा सकता है।
सैन्यबल से सुलझाएंगे समस्या
ट्रंप ने एक ओर संयुक्त राष्ट्र से मिलकर दुनिया की समस्याओं से निपटने की अपील की। वहीं दूसरी ओर दो टूक कहा कि अमेरिकी सेना इन समस्याओं को सैन्य बल के रास्ते सुलझाने को तैयार है। उन्होंने कहा, जल्द ही हमारी सेना फिर से दुनिया की ताकतवर सेना होगी।
अमेरिकी मूल्य थोपना मकसद नहीं
अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, हम अन्य देशों से यह नहीं चाहते कि वह अमेरिकी मूल्यों को आत्मसात करे। बल्कि हम चाहते हैं कि सभी विकास कर नजीर बने। उन्होंने कहा, मैं हमेशा अमेरिका पहले की नीति पर काम करता हूं, जैसा कि मेरे सभी समकक्ष अपने देश और नागरिकों के प्रति भाव रखते हैं।
आतंक को पनाह देने वालों को बेनकाब करें
ट्रंप ने आतंकवाद की चर्चा करते हुए कहा कि हम चरमपंथी आतंकवाद रोकेंगे, क्योंकि हम अपने देश और दुनिया को बंटते और दुखी नहीं देख सकते हैं। उन्होंने कहा, सीरिया और इराक में इस्लामिक स्टेट के खिलाफ सफलता मिली है। ट्रंप ने विश्व नेताओं से कहा कि हम समय आ गया है कि आतंकवाद के लिए जिम्मेदार और आतंकियों को सुरक्षित पनाहगाह मुहैया कराने वाले देशों को बेनकाब करें। उनका यह बयान पाकिस्तान को आतंकियों के सुरक्षित पनाहगाह बताए जाने के बयान के बाद आया है।

जापान होक्काइडो द्वीप पर मंगलवार को नई मिसाइल भेदी प्रणाली तैनात की है। जापान ने ये कदम उत्तर कोरिया द्वारा दो मिसाइलों के परीक्षण करने के बाद लिया है। आपको बता दें उत्तर कोरिया ने ये मिसाइले जापान के ऊपर से गुजरी थीं।समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, रक्षा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि पेट्रिअट एडवांस्ड कैपेबिलिटी-3(पीएसी-3) इंटरसेप्टर को हाकोदाते शहर में स्थित एक सैन्य ठिकाने पर तैनात करने का फैसला उत्तर कोरिया की ओर से 15 सितंबर को किए गए मध्यम दूरी के मिसाइल परीक्षण के बाद लिया गया है। यह मिसाइल उत्तरी जापान के ऊपर से गुजरते हुए प्रशांत महासागर में गिरा था। इससे पहले 29 अगस्त को भी उत्तर कोरिया ने मिसाइल परीक्षण किया था, जिसने उत्तरी जापान के ऊपर से उड़ान भरी थी।प्योंगयांग ने अमेरिकी प्रतिबंधों का समर्थन करने के लिए जापान पर परमाणु बम से हमला करने की धमकी दी थी। अधिकारी ने कहा कि जापान एक और मिसाइल परीक्षण के संबंध में उत्तर कोरिया की गतिविधियों पर नजर रखे हुए है।जापान ने पिछले महीने भी पश्चिमी जापान में मिसाइल भेदी प्रणाली तैनात की थी। जापान ने यह निर्णय प्योंगयांग के अमेरिकी द्वीप गुआम में चार मिसाइल दागने की धमकी के बाद लिया था।उल्लेखनीय है कि 15 सितंबर को प्योंगयांग की ओर से किया गया मिसाइल परीक्षण, तीन सितंबर को उसके द्वारा किए गए छठे और सबसे शक्तिशाली परमाणु परीक्षण करने के दो सप्ताह से कम समय के अंदर किया गया है। परमाणु परीक्षण के बाद संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने प्योंगयांग के तेल उत्पाद आयात और कपड़ा नियार्त पर प्रतिबंध सहित नए प्रतिबंध लगा दिए थे।

रुस में बहुत ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक मां अपने 9 महीने के बच्चे को घर में अकेला छोड़कर पार्टी मनाने के लिए एक हफ्ते अपने दोस्तों के पास चली गई। हालांकि महिला को इसके लिए दस साल की जेल की सजा भी मिली है।
सात दिन तक बच्चा भूख और प्यास से तड़पता रहा
विक्टोरिया की उम्र 17 साल है और वो अपने पति के साथ उस घर में रहती थी। सात दिन तक बच्चा भूख और प्यास से तड़पता रहा। इसकी भनक तब लगी जब बच्चा मर गया और पड़ोसियों को घर में से बदबू आने लगी। इसके बाद पड़ोसियों ने पुलिस को बुलाया। फिलहाल महिला को 10 साल की सजा मिली है। दरअसल महिला का पति घर में नही था और मौका देखकर वह बच्चे को घर में अकेले बंद करके दोस्तों के घर चली गई। जब उसे पुलिस ने गिरफ्तार किया तो उसने बताया कि वो अपने पति और बच्चे से खुश नहीं थी। महिला पति को तलाक देना चाहती और बच्चे को पालना उसे पसंद नहीं ता। इससे पहले इसी बच्चे को वह अनाथआलय छोड़ आई थी।

भारत ने मंगलवार को पाकिस्तान की तरफ इशारा करते हुए कहा कि उत्तर कोरिया की परमाणु प्रसार संबंधी गतिविधियों की जांच की जानी चाहिए और इसके लिए जो जिम्मेदार हैं, उन्हें जवाबदेह ठहराया जाना चाहिए।विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का यह बयान उत्तर कोरिया द्वारा शुक्रवार को जापान के ऊपर से मध्यम दूरी की एक और बैलिस्टिक मिसाइल दागे जाने के कुछ दिन बाद आया है।विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार…
लाहौर - पाकिस्तान में रविवार को लाहौर संसदीय सीट पर हुए उप-चुनाव के में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पत्नी कुलसूम नवाज़ ने जीत दर्ज की। पनामा पेपर्स घोटाला मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा नवाज शरीफ को के अयोग्य करार दिए जाने के बाद उनके परिवार के लिए ये चुनाव इस बात की परीक्षा बन गया था कि उन्हें जनता का कितना समर्थन प्राप्त है।लाहौर की एनए-120 सीट को शरीफ…
ऑकलैंड - न्यूजीलैंड के सबसे बड़े हवाईअड्डे पर विमान ईंधन की आपूर्ति करने वाली पाइपलाइन में विस्फोट के बाद सोमवार को ऑकलैंड में उड़ान सेवाएं बंद हो गई हैं। आपकोे बता दें कि इस डैमेज्ड पाइपलाइन से ही ऑकलैंड हवाईअड्डे में जेट ईंधन की आपूर्ति की जाती थी। इस पाइपलाइन के संचालक 'रिफाइनरी न्यूजीलैंड' ने कहा कि पाइपलाइन को ठीक करने के लिए टीमें पिछले 24 घंटे से काम में…
नई दिल्ली - विदेश मंत्री सुषमा स्वराज वार्षिक संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) सत्र में शामिल होने के लिए संयुक्त राष्ट्र पहुंच चुकी हैं। सत्र में भारत के प्रमुख लक्ष्यों को रेखांकित करते हुए, संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने शनिवार को कहा था कि हमारा एजेंडा व्यापक, प्रगतिशील और विस्तारवादी है और वैश्विक प्रकृति के लक्ष्य हैं।सत्र की औपचारिक बैठकें आज संयुक्त राष्ट्र में सुधार के…

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें