दुनिया

दुनिया (432)

वाशिंगटन।पेंटागन प्रमुख पैट्रिक शनहान ने कहा है कि अमेरिका-मैक्सिको सीमा दीवार के लिए राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप को एक बिलियन डालर की राशि मुहैया होगी। पेंटागन के एक बयान में कहा गया है कि मैक्सिको सीमा पर दीवार के लिए 'यूएस आर्मी काप्‍स आफ प्‍लानिंग' विभाग को योजना बनाने के लिए अधिकृत किया है।उधर, कार्यवाहक रक्षा सचिव ने अमेरिकी संघीय कानून का हवाला देते हुए ट्रंप के आपातकालीन फैसले का बचाव किया है। सचिव ने कहा कि रक्षा विभाग को सड़कों और बाड़ के निर्माण का अधिकार प्रदान करता है। उन्‍होंने इसके समर्थन में कहा है कि दीवार के निर्माण से अंतरराष्‍ट्रीय सीमाओं पर नशीली दवाओं एवं तस्‍करी पर रोक लगाई जा सकेगी। राष्‍ट्रपति ट्रंप ने मैक्सिको दीवार को लेकर विरोधियों के सख्‍त रूख को देखते हुए पिछले महीने राष्‍ट्रीय आपातकाल की घोषणा की थी, ताकि सांसदों के अवरोध को बाइपास किया जा सके।बता दें कि ट्रंप के इस कदम को विपक्षी डेमोक्रेट्स और उनकी पार्टी रिपब्लिकन दोनों ने निंदा की थी। विपक्ष के साथ ट्रंप की रिपब्लिकन पार्टी ने भी इसे लेकर चेतावनी जारी किया था। दोनों प्रमुख दलों ने इसे राष्ट्रपति शक्तियों का दुरुपयोग बताया है। ट्रंप के इस कदम को एक खतरनाक मिसाल कहा गया था। गौरतलब है कि इसके लिए राष्‍ट्रपति ट्रंप ने 5.7 अरब डालर की मांग की थी। लेकिन उन्‍हें 1.4 अरब डालर की राशि का अनुमोदन मिल सका। इस धन से महज 55 मील लंबी बाड़ लग सकती है। यह स्‍टील की बाड़ होगी, जबकि ट्रंप ने कंक्रीट की दीवार बनाने का वादा किया था।

 

 

शेरोन। इज़राइल में एक बार फिर हमला हुआ है। इस बार गाजा से दागे गए एक रॉकेट ने सोमवार को मध्य इज़राइल के एक घर को निशाना बनाकर छह लोगों को घायल कर दिया। हमले का शोर सुनकर शेरोन क्षेत्र के लोग जाग गए और इसके बाद एक जौरदार धमाका हुआ। इजरायली सेना ने कहा कि उन्होंने गाजा से दागे गए इस रकेट की पहचान कर जांच शुरू कर जी है।पुलिस ने बताया कि इस विस्फोट के कारण एक घर में आग लग गई और छह लोग घायल हो गए। ये हमला ऐसे वक्त हुआ है जब गाडा बॉर्डर प्रोटेस्ट की सालगिरह को लेकर पहले ही देश में तनाव है और 9 अप्रैल में चुनाव होने वाले है। फिलहाल इस घटना की जिम्मेदारी का दावा नहीं किया गया है।धमाका इतना तेज था कि इसकी आवाज मध्य इज़राइल तक सुनाई दीं। Magen David Adom एम्बुलेंस सेवा ने कहा कि हमले में घालय 6 लोगों का इलाज किया जा रहा है। गाजा को हेमास द्वारा कंट्रोल किया जाता है। यह क्षेत्र ईरानी समर्थित संगठन इस्लामिक जिहाद सहित अन्य सशस्त्र समूहों का घर है।इजराइल और हेमाज हमेशा के एक दूसरे के कट्टर दुश्मन रहे है। दोनों के बीच तीन बार युद्ध लड़ा जा चूका है। क्योंकि समूह ने 2007 में गाजा में सत्ता पर कब्जा कर लिया था। इजरायल और हमास ने 2014 में अपना आखिरी युद्ध लड़ा था, तब से छोटे-छोटे झगड़े होते रहे है। इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू हमले के दौरान देश में नहीं थे। दरअसल, वो अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप से मिलने के लिए वॉशिंगटन गए थे।

पिलबरा। पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया के तट से शक्तिशाली चक्रवाती तूफान वेरोनिका (Cyclone Veronica) की वजह से मूसलाधार बारिश और तेज हवाओं का चलना शुरू हो गया है। जिसके खतरे को देखते हुए रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है।खबरों के मुताबिक चक्रवात तेज गती से पश्चिम तट की ओर बढ़ रहा हैं, फिलहाल यह चक्रवात पोर्ट हेडलैंड से 95 किलोमिटर की दूरी पर है। चक्रवात के आठ से बारह घंटे के बीच पहुंचने की उम्मीद जताई जा रही है।चक्रवाती तूफान वेरोनिका की गती को देखते हुए लोगों को सुरक्षा के उचित इंतजाम करने को कहा गया है। चक्रवात के साध मूसलाधार बारिश का भी अनुमान लगाया गया है।तूफान की वजह से ज्वार के बढ़ने की भी संभावना है, जिसकी वजह से भारी नुकसान पहुंचा सकता है और खतरनाक तटीय बाढ़ का खतरा पैदा हो सकता है।

काबुल। सोमवार को अमेरिका ने अफगानिस्तान पर एयर स्ट्राइक कर एक ही परिवार के 13 लोगों की हत्या कर दी इसमें तीन वयस्क और 10 बच्चे शामिल हैं। युनाइटेड नेशन ने इस हमले की जानकारी दी। यूएन ने बताया कि, अमेरिका ने यह एयर स्ट्राइक शनिवार को अफगानिस्तान के तालिबान वाले हिस्से पर की। अमेरिकी सेना पिछले 30 घंटों से अफगानिस्तान के उत्तर में स्थित कुंडूज प्रांत में युद्ध जारी रखे हुए है। बताया जाता है कि यह इलाका तालिबान का सबसे मजबूत क्षेत्र है।अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन ने घटना के बारे में अपने प्रारंभिक निष्कर्ष में बताया कि इन बच्चों और उनके परिवार को देश युद्ध के चलते विस्थापित किया गया था। यूएनएएमए ने इस बात की पुष्टि की कि मारे गए 13 नागरिक हवाई हमले के दौरान ही हताहत हुए थे। साथ ही उन्होंने यह भी बताया की मारे गए 13 लोगोंके अलावा 3 अन्य नागरिक भी इस हमले में घायल हुए हैं। अमेरिका ने यह एयर स्ट्राइक कुडूज शहर के पास तेलवाका नामक जगह के पड़ोस में हुई। अफगानिस्तान में नाटो के नेतृत्व वाले संकल्प सहायता मिशन के प्रवक्ता सार्जेंट देबरा रिचर्डसन ने रविवार को अमेरिकी सेना द्वारा हवाई हमले की पुष्टि की, उन्होंने कहा कि मिशन का उद्देश्य उस इलाके में तालिबान द्वारा सिविलयंस को हताहत करने से रोकना था। आपको बता दें कि इस इलाके में तालिबानी आतंकी जानबूझकर आम जनता के बीच छिपे रहते हैं। जिससे उनपर कार्रवाई कर पाना बहुत मुश्किल होता है।संयुक्त राष्ट्र ने फरवरी को जारी एक रिपोर्ट में बताया कि कि हवाई हमलों और आत्मघाती बम विस्फोटों के चलते पिछले साल काफी ज्यादा अफगानी नागरिक मारे गए थे। 2014 के बाद से हर साल हवाई हमलों के चलते ज्यादा बच्चों की मौत हुई है।

इस्‍लामाबाद। भारतीय वायु सेना द्वारा तमाम सबूतों और साक्ष्‍य पेश किए जाने के बावजूद पाकिस्‍तान लगातार झूठ बोल रहा है। एक बार फ‍िर पाकिस्‍तानी सेना ने कहा है कि उसने भारत के खिलाफ अमेरिका निर्मित एफ-16 लड़ाकू विमान का इस्‍तेमाल नहीं किया है। पाकिस्‍तान का कहना है कि भारतीय वायु सेना ने उसके एफएफ-17 थंडर लड़ाकु विमान को ध्‍वस्‍त किया था। यह विमान चीन के साथ संयुक्‍त रूप से विकसित किया गया है।पाकिस्‍तान सेना के प्रवक्‍ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने सोमवार को एक बार फ‍िर झूठ बालते हुए कहा कि उसने भारत के खिलाफ एफ 16 का इस्‍तेमाल नहीं किया। गफूर ने कहा कि 26 फरवरी को भारतीय जेट विमानों ने पाकिस्‍तानी हवाई पट्टी को नष्‍ट कर दिया था। भारतीय वायु सेना ने किसी भी बुनियादी ढांचे को नकुसान पहुंचाए बिना पाकिस्‍तानी सीमा में अपने पेलोड गिराए थे। इसके बाद पाकिस्‍तान ने एफएफ-17 विमानों को इस्‍तेमाल किया था। बता दें कि भारत के खिलाफ एफ-16 के इस्‍तेमाल को अमेरिका ने बड़ी गंभीरता से लिया था। इस विमान के इस्‍तेमाल से पाक की बहुत किरकिरी हुई थी। इसके बाद पाकिस्‍तान ने यह छिपाने के सारे जतन किए कि उसने भारत के खिलाफ अमेरिकी एफ-16 का प्रयोग नहीं किया। भारतीय वायु सेना ने एफ-16 के इस्‍तेमाल के सभी साक्ष्‍य दुनिया के सामने रख दिए। लेकिन एक बार फ‍िर पाकिस्‍तानी सेना ने इसे नकारा है।बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारतीय वायु सेना ने पाकिस्‍तान के बालाकोट में जैश-ए-मुहम्‍मद के आतंकी कैंपों पर हमला किया और उनके कई कैंपों को ध्‍वस्‍त कर दिया। इसके प्रतिरोध में पाकिस्‍तान ने भारत के खिलाफ अमेरिकी निर्मित एफ-16 लड़ाकू विमानों का इस्‍तेमाल किया। इस हमले में भारतीय वायु सेना ने पाकिस्‍तान के एफ-16 को मार गिराया था। पाकिस्‍तानी सेना प्रवक्‍ता ने रूसी समाचार एजेंसी को दिए अपने एक साक्षात्‍कार में कहा कि पाकिस्तान केवल भारत को यह एहसास दिलाना चाहता है कि वह किसी हमले का जवाब देना चाहता है। उन्होंने कहा कि पाकिस्‍तान के पास ऑपरेशन के फुटेज हैं।

 

इस्लामाबाद।पाकिस्तान में दो नाबालिग हिंदू लड़कियों का जबरन धर्म परिवर्तन कर उनका निकाह करवाने वाले मौलवी को गिरफ्तार कर लिया गया है। खबरों के अनुसार इन नाबालिग हिंदू लड़कियों का पहले अपहरण किया गया इसके बाद इस घटना को अंजाम दिया गया। इन दोनों नाबालिक लड़कियों ने पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की बहावलपुर अदालत का दरवाजा खटखटाया है और कोर्ट से सुरक्षा की गुहार लगाई है। निकाह करवाने वाले मौलवी को सिंध में खानपुर से गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले को संज्ञान में लेते हुए पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने जांच के आदेश दिए है। गौरतलब है कि 13 वर्षीय रवीना और 15 वर्षीय रीना को उनके ही इलाके के बाहुबली लोगों के समूह ने घोटकी जिले स्थित उनके घर से अपहरण कर लिया था।
बेटियों के बचाव में उतरी सुषमा:-विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने रविवार सुबह ही भारतीय समाचार पत्रों में छपी खबर का संज्ञान लेते हुए इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। सुषमा स्वराज ने इस घटना के संबंध में मीडिया रिपोर्ट साझा करते हुए ट्वीट कर लिखा कि पाकिस्तान अपने नागरिकों खास तौर पर अल्पसंख्यकों की रक्षा के लिए जरूरी कदम उठाए।
सुषमा के ट्वीट के बाद मचा पाक में हंगामा:-विदेश मंत्री स्वराज के इस ट्वीट के बाद पाकिस्तान में हंगामा मचा हुआ है। पाकिस्तानी मीडिया चैनल इसे अपना अंदरूनी मामला में हस्तक्षेप बता रहे है। सुषमा के ट्वीट का जवाब देते हुए पाक के संचार मंत्री चौधरी फवाद ने कहा 'ये पाकिस्तान का अंदरूनी मामला है, ये मोदी का भारत नहीं है कि अल्पसंख्यकों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़े। उम्मीद है कि आप इतनी ही तत्परता भारतीय अल्पसंख्यकों के अधिकारों को लेकर भी दिखाई होती'
सुषमा ने पाक संचार मंत्री पर किया पलटवार:-सुषमा ने फवाद के ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा की महोदय, मैंने सिर्फ दो नाबालिग लड़कियों के अगवा होने और उनके जबरन निकाह कराने पर भारतीय उच्चायोग से रिपोर्ट मांगी है। यह आपको परेशान करने के लिए काफी था। यह आपका अपराध बोध दिखाता है।’ बता दें कि इस साल जनवरी में अनुषा कुमारी नाम की युवती का अपहरण कर मुस्लिम युवक से निकाह करा दिया गया।पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी ने कहा कि वह अपने आगामी सत्र में पाक असेंबली में एक प्रस्ताव पेश करेगी ताकि जबरन धर्मांतरण को समाप्त किया जा सके। 2016 में सिंध विधानसभा द्वारा जबरन धर्मांतरण के खिलाफ बिल को सर्वसम्मति से पारित किया गया लेकिन गवर्नर ने इसे मंजूरी नहीं दी थी।

वाशिंगटन/यरूशलम। मध्य इजरायल में गाजा की ओर से सोमवार को हुए एक रॉकेट हमले के बाद प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने अपनी अमेरिका की यात्रा में कटौती की है। तेल अवीव के नजदीक यह रॉकेट एक घर पर गिरा जिसमें दो बच्चों समेत सात लोग घायल हुए हैं। नेतन्याहू ने अपनी यात्रा को कम करने के बारे में खुद घोषणा की। इजराइली प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की सुरक्षा के मद्देनजर…
यानचेंग। चीन (China) के शहर यानचेंग (Yancheng) में अब तक का सबसे भीषण औद्योगिक हादसा हुआ है। केमिकल प्लांट में हुए ब्लास्ट में मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 64 हो गया है। जबकि हादसे के बाद अब भी 24 लोग लापता है। विस्फोट की वजह से 34 लोग की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है, जबकि 73 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। बताया जा रहा है की इस…
वाशिंगटन। वैज्ञानिकों ने पानी से हाइड्रोजन ईधन के उत्पादन का सस्ता और प्रभावी तरीका खोजा है। अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ अरकंसास और आरगोन नेशनल लैब के वैज्ञानिकों ने पाया कि निकेल और लोहे के नैनो पार्टिकल अन्य महंगे उत्प्रेरकों का बेहतर विकल्प हो सकते हैं।वैज्ञानिकों ने पाया कि निकेल और लोहे के सूक्ष्म उत्प्रेरकों की मदद से पानी के विखंडन की प्रक्रिया तेज हो जाती है। विखंडन से हाइड्रोजन और…
लंदन। ब्रिटेन में रहने वाले भारतीय मूल के लोगों को सोने का प्रेम भारी पड़ रहा है। बीते पांच साल में उनके घरों से 140 मिलियन पाउंड (1,280 करोड़ रुपये) के आभूषण चोरी हुए हैं। यह जानकारी सूचना के अधिकार के तहत मांगी गई जानकारी से सामने आई है। यह जानकारी बीबीसी ने अपनी खोजपूर्ण पत्रकारिता के जरिये जुटाई है। ब्रिटेन की दुकानों में एशियन गोल्ड के नाम से बेचे…
Page 6 of 31

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें