Editor

Editor

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट के सबसे महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर ने अपने इंटरनेशनल क्रिकेट करियर में कुल 100 शतक लगाए थे, लेकिन आपको ये जानकर हैरानी होगी कि वो इससे भी ज्यादा शतक लगा सकते थे। सचिन तेंदुलकर अपने क्रिकेट करियर के दौरान कुल 17 बार नाइनटीज पर आउट हुए यानी नर्वस नाइनटीज का शिकार हुए। अगर ऐसा नहीं होता को उनके इंटरनेशनल शतकों की संख्या 117 हो सकती थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। सचिन ने अपने क्रिकेट करियर में 200 टेस्ट मैच, 450 से ज्यादा वनडे और सिर्फ एक टी20 इंटरनेशनल मैच खेले थे और सभी प्रारूपों में वो कुल 17 बार नाइनटीज पर आउट हुए। वो नर्वस नाइनटीज का शिकार होेने वाले भारतीय खिलाड़ियों में पहले स्थान पर हैं। सचिन तेंदुलकर के बाद भारत की तरफ से सबसे ज्यादा बार नर्वस नाइनटीज का शिकार टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली हुए थे। गांगुली को बेहद आक्रामक ओपनर बल्लेबाज माना जाता था। टीम इंडिया में जबरदस्त बदलाव लाने वाले और विदेशी धरती पर भारतीय टीम को जीत का मंत्र देने वाले गांगुली भी अपने क्रिकेट करियर के दौरान 6 बार नवर्स नाइटीज का शिकार बने। वो इस मामले में दूसरे स्थान पर हैं यानी सचिन के बाद उनका स्थान दूसरा है। वहीं उनमें और सचिन में काफी फर्क भी है। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली नर्वस नाइटीज का शिकार होने के मामले में तीसरे स्थान पर हैं। विराट के भी इंटरनेशनल क्रिेकेट में अब तक कुल 70 शतक हो चुके हैं और अगर वो 5 बार नर्वस नाइनटीज के शिकार नहीं हुए होते तो उनके भी शतकों की संख्या ज्यादा होती। इस मामले में विराट कोहली और पूर्व तूफानी ओपनर बल्लेबाज संयुक्त रूप से तीसरे स्थान पर हैं। सहवाग भी अपने करियर के दौरान 5 बार नर्वस नाइटीज का शिकार हुए।
पांच भारतीय बल्लेबाज जो नाइनटीज पर सबसे ज्यादा बार आउट हुए
1. सचिन तेंदुलकर - 17
2. सौरव गांगुली - 6
3. विराट कोहली - 5
4. वीरेंद्र सहवाग - 5
5. गौतम गंभीर- 4

इस्लामाबाद। पाकिस्तान क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज शोएब अख्तर को अपने समय में क्रिकेट के मैदान पर धमाकेदार गेंदबाजी करने के लिए जाना जाता था, लेकिन अब मैदान के बाहर भी शोएब अख्तर आतिशी नजर आ रहे हैं। शोएब अख्तर ने हाल ही में दावा किया है कि वह घास खाने के लिए तैयार है, लेकिन इससे उनके देश की सेना के बजट में बढ़ोतरी होनी चाहिए।पाकिस्तानी चैनल ARY न्यूज को दिए इंटरव्यू में शोएब अख्तर ने कहा है, "अगर अल्लाह ने मुझे कभी अधिकार दिया तो मैं खुद घास खाऊंगा, लेकिन सेना का बजट बढ़ा दूंगा।" क्रिकेट के इतिहास में सबसे तेज गेंद फेंकने के लिए माने जाने वाले अख्तर ने कहा कि उन्हें समझ नहीं आता कि असैन्य क्षेत्र सशस्त्र बलों के साथ मिलकर काम क्यों नहीं कर सकता।'रावलपिंडी एक्सप्रेस' के नाम से फेमस गेंदबाज शोएब अख्तर ने कहा है, "मैं अपने सेना प्रमुख को मेरे साथ बैठने और निर्णय लेने के लिए कहूंगा। अगर बजट 20 फीसदी है, तो मैं इसे 60 फीसदी कर दूंगा। अगर हम एक-दूसरे का अपमान करते हैं, तो नुकसान हमारा ही है।" अख्तर ने यह भी दावा किया था कि वह अपने देश के लिए गोली खाने के लिए तैयार थे। उन्होंने काउंटी क्रिकेट की लाखों रुपयों की डील को ठुकरा दिया था, क्योंकि वह 1999 के कारगिल युद्ध में भारत के खिलाफ लड़ना चाहते थे।इससे पहले 'पिंडी ब्वॉय' यानी शोएब अख्तर ने भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग द्वारा उन्हें स्लेज करने के दावे को नकार दिया था। सहवाग अक्सर कहा करते थे कि उन्होंने अख्तर को बोला था कि सचिन को बाउंसर मारो तो उन्होंने बाउंसर मारा था। उस गेंद पर सचिन ने छक्का जड़ा था तो वीरू ने अख्तर को बोला था कि बाप-बाप होता है। इस पर अख्तर ने कहा है, "हां, पूरी तरह से उनके द्वारा बनाई गई कहानी है। मुझे ये बोल के उसको बचकर किधर जाना था।"

हांगकांग। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन की टेक कंपनियों Tencent Holdings Ltd और ByteDance के साथ अमेरिकी लेनदेन के प्रतिबंधित करने वाले कार्यकारी आदेश पर गुरुवार को हस्ताक्षर कर दिया। Tencent के पास लोकप्रिय चीनी मैसेजिंग एप WeChat का स्वामित्व है। वहीं, ByteDance शॉर्ट वीडियो शेयरिंग एप TikTok की पैरेंट कंपनी है। इन फैसलों पर अगले 45 दिन के अंदर अमल होगा। अमेरिका के वाणिज्य मंत्री विलबर रॉस इस ऑर्डर के तहत कवर लेनदेन को चिह्नित करेंगे। ऐसे में आइए जानते हैं कि सोशल मीडिया और वीडियो गेम से जुड़ी चीन की दिग्गज कंपनी Tencent ने अमेरिका और दुनिया के अन्य देशों में कौन से बड़े निवेश किए हैंः
Tesla Inc: चीनी कंपनी Tencent ने 2017 में 1.78 अरब डॉलर के निवेश के जरिए इलेक्टिक वाहन बनाने वाली कंपनी की पांच फीसद हिस्सेदारी खरीद ली थी। Tesla के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एलन मस्क ने Tensent को एक निवेशक और टेस्ला के लिए परामर्शदाता करार दिया था।
Riot Games: Tencent ने 2011 में लॉस एंजिल्स की इस गेम डेवलपमेंट से जुड़ी कंपनी की बहुलांश हिस्सेदारी खरीद ली थी। इसके बाद 2015 में यह Tencent की पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी बन गई।
Activision Blizzard Inc: Tencent के पास बेहद लोकप्रिय 'कॉल ऑफ ड्यूटी' फ्रेंचाइज की पैरेंट कंपनी की अल्पांश हिस्सेदारी है। Tencent ने पिछले साल “Call of Duty Mobile” लंच किया था। टावर सेंसर के डेटा के मुताबिक इसे अमेरिका में 4.5 करोड़ बार डाउनलोड किया गया है।
Epic Games: इस कंपनी की अल्पांश हिस्सेदारी Tencent ने 2012 में खरीद ली थी।
Snap Inc: Tencent ने 2017 में मैसेजिंग एप ऑपरेटर की 12 फीसद हिस्सेदारी खरीद ली थी।
Reddit Inc: Tencent की अगुवाई में की गई फंडिंग के जरिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ने 2019 में 30 करोड़ डॉलर जुटाया था।
Spotify Technology SA: स्वीडन की म्यूजिक स्ट्रीमिंग कंपनी और Tencent Music Entertainment Group दोनों ने 2018 में एक-दूसरी कंपनी की अल्पांश हिस्सेदारी खरीदी थी।

नई दिल्ली। फेसबुक ने अपने 48,000 कर्मचारियों को जुलाई 2021 तक घर पर रहकर काम करने के लिए कहा है। फेसबुक ने कहा है कि सभी कर्मचारी घर पर काम करने के लिए ऑफिस के जरूरी सामान खरीद लें, इसके लिए उन्हें 1,000 डॉलर अतिरिक्त दिया जाएगा। फेसबुक ने पहले अपने कर्मचारियों को 2020 के अंत तक घर से काम करने की अनुमति दी थी।गुरुवार को फेसबुक के प्रवक्ता के हवाले से कहा गया कि स्वास्थ्य और सरकारी विशेषज्ञों के मार्गदर्शन के साथ-साथ इन मामलों के बारे में हमारी आंतरिक चर्चाओं से लिए गए फैसले के आधार पर हम कर्मचारियों को जुलाई 2021 तक घर से काम करना जारी रखने की अनुमति दे रहे हैं। इसके अलावा, हम कर्मचारियों को अतिरिक्त 1,000 डॉलर दे रहे हैं। जिससे घर में कार्यालय की जरूरत का सामान खरीदा जा सकेगा।कोविड -19 महामारी के बहुत जल्द कम होने के आसार नजर नहीं आते देख Google ने पिछले महीने कहा कि वह अपने 2 लाख कर्मचारियों को अगले साल के मध्य तक घर से काम करने की अनुमति देगा।गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने कर्मचारियों को एक ईमेल में कहा कि कर्मचारियों को आगे की योजना बनाने की क्षमता देने के लिए हम अपने वैश्विक स्वैच्छिक काम को 30 जून, 2021 तक कराने की योजना बना रहे हैं। Google ने पहले अपने कर्मचारियों के कार्यालयों में लौटने के लिए जनवरी 2021 का समय निर्धारित किया था। वहीं, ट्विटर ने अपने कर्मचारियों को घर से "हमेशा के लिए" काम करने की अनुमति दी है, अगर कर्मचारी ऐसा चाहते हैं तो वो कर सकते हैं। मई में फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने 2030 तक घर से काम करने के लिए एक विस्तृत रिमोट-वर्किंग प्लान तैयार किया।

नई दिल्ली। HDFC बैंक ने शुक्रवार को सभी टेन्योर के लिए MCLR में 10 आधार अंकों की कटौती की। इसकी दरें शुक्रवार यानी आज से प्रभावी होंगी। एचडीएफसी बैंक की वेबसाइट के अनुसार, रेट कट के बाद ओवरनाईट MCLR 7 फीसद पर है, एक महीने जबकि एक महीने के लिए यह 7.05 फीसद और तीन महीने का MCLR 7.10 फीसद है।छह महीने एक साल और दो साल का MCLR क्रमशः 7.20 फीसद, 7.35 फीसद और 7.45 फीसद पर है। मालूम हो कि बैंक ने रिज़र्व बैंक (RBI) द्वारा रेपो दर और रिवर्स रेपो दर में कोई बदलाव नहीं किया, ऐसे में HDFC बैंक का यह फैसला 1 दिन बाद आया है। बैंक आमतौर पर हर महीने MCLR की समीक्षा करते हैं। आईसीआईसीआई बैंक ने हाल ही में 1 अगस्त से अपने MCLR को 10 बीपीएस से कम करने की घोषणा की है।इंडियन ओवरसीज बैंक (आईओबी) ने शुक्रवार को बेस रेट में 0.10 फीसद की कटौती की। आईओबी ने एक नियामकीय फाइलिंग में कहा, हमारे बैंक की एसेट लायबिलिटी मैनेजमेंट कमेटी ने बेस रेट को मौजूदा 9.45 फीसद से घटाकर 9.35 फीसद करने का फैसला किया है।

साउथ सुपरस्टार राणा दग्गुबाती अपनी जिंदगी की एक नई शुरुआत करने के लिए तैयार हैं। राणा दग्गुबाती और उनकी मंगेतर मिहिका बजाज की शादी की रस्मों का दौर भी शुरु हो चुका है। बीते दिन ही राणा दग्गुबाती और मिहिका बजाज ने अपनी हल्दी की रस्मों को पूरा किया है। इस दौरान साउथ का ये शानदार जोड़ा जबरदस्त लुक में नजर आया। हल्दी की रस्में निभाने के बाद मिहिका बजाज अपने घर पर बाकी रस्मों को निभाने में व्यस्त हो गईं हैं।कुछ समय पहले ही मिहिका बजाज ने अपनी शादी के भात की रस्मों को पूरा है। इस दौरान मिहिका बजाज बड़े ही खूबसूरत आउटफिट में नजर आईं। आपको जानकर हैरानी होगी कि अपने भात की रस्म में मिहिका बजाज अपनी मां की शादी का लहंगा पहने नजर आईं।इस बात का खुलासा खुद मिहिका बजाज की मां ने किया है। मिहिका बजाज की मां बंटी बजाज ने सोशल मीडिया पर अपनी बेटी की एक प्यारी सी तस्वीर शेयर करते हुए लिखा है कि, भात की रस्म के लिए मिहिका बजाज ने मेरी शादी का जोड़ा पहना है। इस तस्वीर को देखकर मैं बहुत इमोशनल हो रही हूं। इस तस्वीर को देखकर लग रहा है कि अब मेरी बेटी वाकई में काफी बड़ी हो गई है।मां की शादी के जोड़ में मिहिका बजाज बड़े ही शान से पोज देती नजर आ रही हैं। फैंस को मिहिका बजाज का ये अंदाज बहुत पसंद आ रहा है। फैंस राणा दग्गुबाती की होने वाली दुल्हन मिहीका बजाज के इस लुक की तारीफ करते थक नहीं रहे हैं। रेड सिल्वर और ग्रे कलर के इस आउटफिट के साथ मिहिका बजाज ने मैचिंग ज्वैलरी कैरी की है।राणा दग्गुबाती और उनकी मंगेतर मिहिका बजाज की शादी में काफी गिनेचुने लोगों को दावत दी गई है। कुछ समय पहले ही साउथ अदाकारा सामंथा अक्किनेनी अपने पति नागा चैतन्य के साथ रस्मों में शामिल होने के लिए पहुंचीं हैं। सोशल मीडिया पर सामंथा अक्किनेनी की तस्वीरें वायरल हो रही हैं।

अयोध्या। रामनगरी अयोध्या में बुधवार को श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के भूमि तथा आधारशिला पूजन के बाद अब लोगों को मंदिर के निर्माण कार्य प्रारंभ होने का इंतजार है। आराध्य देव श्रीराम के भव्य मंदिर निर्माण कार्य को लेकर लोगों का इंतजार भी शनिवार को खत्म हो जाएगा, जब यहां पर मंदिर का निर्माण कार्य शुरू होगा।श्रीराम जन्मभूमि स्थल पर आल वेदर टेंट हटाने के साथ ही सफाई का काम आज से शुरू हो गया है। इस काम में करीब दो दिन का समय लगेगा। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महासचिव चंपत राय बंसल भी यहां पर शीघ्र सफाई के काम को समाप्त कराना चाहते हैं। उन्होंने आज यहां पर ठेकेदार को पांडाल हटाकर सभी जगह पर साफ-सफाई के काम में तेजी लाने का निर्देश दिया है। सफाई होने के बाद ही नींव की खुदाई का काम शनिवार से शुरू किया जाएगा। बुधवार को यहां पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंदिर निर्माण के लिए आधारशिला रखी थी। इसी स्थल पर आज श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य पहुंचे। तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय भी मंदिर का निर्माण करने वाली कंपनी एलएनटी के अधिकारियों के साथ पहुंचे। इसके बाद उन्होंने सफाई काम में तेजी लाने का निर्देश किया है। आज और कल सफाई अभियान चलेगा। इसके बाद मंदिर निर्माण का कार्य शुरू होगा।मंदिर निर्माण के लिए यहां पर मैदान के समतलीकरण के बाद अन्य काम को भूमि पूजन के कारण रोका गया था। अब यह काम शनिवार से गति पकड़ लेगा। पहले नींव को खोदने का काम होगा। मानसून सक्रिय होने के कारण इनमें कोई भी जल्दबाजी नही की जाएगी। बारिश की वजह से यह काम और धीमा पड़ सकता है। इसके साथ ही मंदिर के नींव भरने तथा ग्राउंड फ्लोर के काम में 18 महीने तक लग सकते हैं।मंदिर के डिजाइन टीम के एक सदस्य का कहना है कि फाउंडेशन तथा ग्राउंड फ्लोर का निर्माण ही सबसे मुश्किल काम होता है। ग्राउंड फ्लोर से ऊपर की दो मंजिल बनने में 14-18 महीने का वक्त लग सकता है। इसके साथ ही फिनिशिंग में भी करीब छह महीने लगेंगे। इसमें 161 फीट के शिखर का काम शामिल है। मंदिर में पांच गुंबद का निर्माण होना है।
अयोध्या विकास प्राधिकरण से मिलेगी मंजूरी;-श्रीराम जन्मभूमि मंदिर का डिजाइन फाइनल है। क्लीयरेंस के लिए अयोध्या विकास प्राधिकरण को सौंपा जाएगा। इसके लिए मंदिर निर्माण कमेटी ने दो करोड़ रुपया क्लीयरेंस भी एकत्र कर लिया है। मंदिर निर्माण में स्थानीय और निगम के नियमों का भी पूरा पालन किया जाना है। मंदिर के निर्माण कार्य को पूरा होने में करीब साढ़े तीन वर्ष का वक्त समय लग सकता है।

नई दिल्ली। चार अगस्त को पश्चिम विहार कॉलोनी में 12 साल की बच्ची से दुष्कर्म और हत्या के प्रयास के बाद घायल बच्ची से मिलने के लिए सीएम केजरीवाल एम्स पहुंचे। यहां उन्होंने बच्ची का हाल चाल लेकर मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि दोषियों को सख्त-से-सख्त सजा मिलेगी। इससे पहले दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर जानकारी है कि वह एम्स जा रहे हैं। वह एम्स में उस 12 साल की बच्ची से मिलने जा रहे हैं, जिसके साथ बीते दिनों हैवानियत हुई थी।
यह था सीएम का ट्वीट;-सीएम ने अपने ट्वीट में कहा कि ''एक 12 साल की बच्ची के साथ हैवानियत भरी वारदात की जानकारी ने आत्मा को अंदर तक झकझोर दिया है। ऐसे दरिंदे अपराधियों का खुला घूमना बर्दाश्त के बाहर है। पीड़ित बच्ची का हाल जानने के लिए मैं थोड़ी देर में एम्स (AIIMS) जा रहा हूंं।''बता दें कि पश्चिम विहार वेस्ट थाना क्षेत्र में 12 वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म का आरोपित पुलिस की पकड़ से अभी भी बाहर है। इस मामले में पुलिस ने पॉक्सो व हत्या के प्रयास से जुड़ी धारा के तहत मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की है। फिलहाल संजय गांधी अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए बच्ची को एम्स में दाखिल कराया गया है। पुलिस के अनुसार बच्ची की हालत अभी नाजुक बनी हुई है।
जांच जारी;-अभी तक की छानबीन में पुलिस को पता चला है कि घटना के समय बच्ची अपने घर में अकेली थी। बच्ची के माता पिता मजदूरी करते हैं। बड़ी बहन घर में ही सिलाई मशीन से कपड़े सिलने का काम करती हैं। मंगलवार शाम करीब साढ़े छह बजे पहले से ही ताक में बैठे आरोपित ने जब पाया कि बच्ची अपने घर में अकेली है तो मौका मिलते ही वह बच्ची के पास गया और गलत हरकत करना शुरू कर दिया।
विरोध करने पर किया हमला;-बच्ची ने जब आरोपित का विरोध किया तो उसने बच्ची के उपर हमला कर दिया। आरोपित ने कमरे में पड़ी कैंची उठाई और बच्ची के शरीर पर पांच वार कर दिए। सिर, पेट व पीठ पर वार किए गए हैं। इतने वार के बावजूद बच्ची ने हिम्मत दिखाई और खून से लथपथ अवस्था में घर से बाहर की ओर भागी।
अरोपित फरार;-इस बीच आरोपित मौके से फरार हो गया। बच्ची जब बाहर भागी तो वहां मौजूद कुछ लोग की नजर बच्ची पर पड़ी और उन्होंने मामले से पुलिस को अवगत कराया। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल बच्ची को संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से बच्ची को एम्स रेफर कर दिया गया। उधर मामले की जानकारी मिलते ही जिला पुलिस उपायुक्त डॉ ए कौन स्वयं अस्पताल पहुंचे और घायल बच्ची व उनके स्वजन से मिले। पुलिस का कहना है कि आरोपित की तलाश के लिए आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगाल रही है।

नई दिल्ली। मनोज सिन्हा को जम्मू कश्मीर का नया उपराज्यपाल बनाया गया है। उन्हें गिरीश चंद्र मुर्मू के इस्तीफे के बाद जम्मू कश्मीर का नया उपराज्यपाल नियुक्त किया गया है। इस बीच जम्मू कश्मीर के नए उपराज्यपाल बनाए जाने के बाद मनोज सिन्हा जम्मू कश्मीर पहुंच गए हैं। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू का इस्तीफा मंजूर कर लिया, जिसके बाद मनोज सिन्हा को जम्मू कश्मीर का नया उपराज्यपाल बनाया गया।इससे पहले केंद्र सरकार ने गुरुवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा को गिरीश चंद्र मुर्मू की जगह जम्मू-कश्मीर के नए उपराज्यपाल के रूप में नियुक्त किया। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने केंद्र शासित राज्य के उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू के इस्तीफे को स्वीकार करने के बाद मनोज सिन्हा को इस पद पर नियुक्त किया है। जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन होने के बाद बीते साल 31 अक्टूबर को मुर्मू ने उपराज्यपाल का पद संभाला था।राष्ट्रपति के प्रेस सचिव अजय कुमार सिंह द्वारा जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार, मनोज सिन्हा की नियुक्ति उनके कार्यालय के कार्यभार ग्रहण करने की तिथि से लागू होगी।
रेल राज्यमंत्री रह चुके हैं मनोज सिन्हा:-बीजेपी नेता मनोज सिन्हा मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में रेल राज्यमंत्री रह चुके हैं। पिछले साल हुए लोकसभा चुनाव में उन्होंने गाजीपुर से चुनाव लड़ा था लेकिन वह नहीं जीत सके थे। गठबंधन के बहुजन समाज पार्टी उम्मीदवार अफजाल अंसारी से उन्हें 119,392 वोटों से हरा दिया था। 2014 के चुनाव में भी सिन्हा ने समाजवादी प्रत्याशी शिवकन्या कुशवाहा को 32,452 वोटों से हराया था। 2014 में मनोज सिन्हा को कुल 306,929 वोट मिले थे।
उमर अब्दुल्ला का ट्वीट:-मनोज सिन्हा के उपराज्यपाल पद पर नियुक्ति के बाद जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा- कल रात एक या दो नाम थे, जिनके नाम सामने आए थे और इनका नाम उनके बीच नहीं था। आप इस सरकार पर हमेशा भरोसा कर सकते हैं कि ये स्रोतों से पहले लगाए गए किसी भी कयास के विपरीत अप्रत्याशित नाम सामने आता है।
मुर्मू के इस्तीफे से मचा हड़कंप:-जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद-370 के हटाए जाने की पहली वर्षगांठ पर बुधवार देर शाम, केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू(Girish Chandra Murmu) ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। मुर्मू के इस्तीफे की खबर से प्रशासन खेमे से लेकर सियासी पार्टियों में ह़़डकंप मंच गया। मुर्मू ने देर रात राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को इस्तीफा भी सौंप दिया था। वहीं, मुर्मू के इस्तीफे का कारणों का पता नहीं चला, लेकिन अफवाहें हैं कि कुछ वरिष्ठ नौकरशाहों के कामकाज से वह खफा थे। सूत्रों के अनुसार, मुर्मू की केंद्र में किसी बड़े ओहदे पर नियुक्ति हो सकती है।
सभी कार्यक्रम रद किए:-मुर्मू के इस्तीफे की खबर शाम को सूर्यास्त के साथ ही फैली। इससे पूर्व उन्होंने श्रीनगर में दोपहर से लेकर शाम तक निर्धारित सभी कार्यक्रम रद कर दिए। उन्होंने दिल्ली से आए मीडियाकíमयों के अलावा अन्य उच्चस्तरीय प्रशासनिक प्रतिनिधिमंडल के साथ बैठक को भी रद कर दिया। दोपहर करीब 12 बजे के बाद किसी से कोई भेंट नहीं की। इसके बाद वह जम्मू में ही रहे जहां उन्होंने उत्तरी कमान के जीओसी-इन-सी लेफ्टिनेंट जनरल वाईके जोशी के साथ मुलाकात करने के अलावा प्रशासनिक परिषद की बैठक में हिस्सा लिया।मुर्मू के करीबियों की मानें तो वह बीते कुछ दिनों से लगातार इस विषय पर गंभीरता से विचार कर रहे थे। नागरिक सचिवालय और स्थानीय हलकों में जारी चर्चाओं को अगर सही माना जाए तो जम्मू-कश्मीर प्रशासन में कुछ वरिष्ठ नौकरशाहों के साथ उनकी पटरी नहीं बैठ रही थी। इस मसले पर उन्होंने कथित तौर पर दिल्ली में गृहमंत्री और प्रधानमंत्री से भी चर्चा की थी। जीसी मुर्मू के इस्तीफे की चर्चा कई दिनों से चल रही थी।

लखनऊ। बीते एक हफ्ते से उमस तथा कहीं-कहीं पर बौछार झेलने वाले पूर्वी तथा मध्य उत्तर प्रदेश में शाम तक मौसम काफी बेहतर हो जाएगा। मौसम विभाग के अनुमान के अनुसार शाम तक वाराणसी तथा पास के जिलों के साथ ही मध्य उत्तर प्रदेश के जिलों में अच्छी बारिश होगी।आंचलिक मौसम केंद्र लखनऊ के अनुमान के अनुसार शाम तक अमेठी, वाराणसी, जौनपुर, प्रतापगढ़, प्रयागराज, सुल्तानपुर, अयोध्या, हरदोई, इटावा, कानपुर देहात, एटा, कासगंज, हाथरस, अलीगढ़, बुलंदशहर के कुछ स्थानों पर तेज बारिश होगी। कुछ जगह पर गरज के साथ छींटें भी पड़ सकती हैं। इससे लोगों को गरमी तथा उमस से राहत मिलेगी। लखनऊ के साथ उन्नाव, सीतापुर, रायबरेली और हरदोई में बारिश हो सकती है। इसके साथ ही साथ कन्नौज, मैनपुरी, फर्रुखाबाद औरैया और ललितपुर में भी बारिश की संभावना जताई गयी है। इस दौरान लोगों को कई जगह पर आकाशीय बिजली गिरने के खतरे के प्रति भी आगाह किया गया है।लखनऊ तथा पास के जिलों में सुबह से ही तेज हवा के झोंके चल रहे हैं। इस दौरान कुछ जगह फुहार भी पड़ी। इसके बाद दिन में तेज धूप से भयंकर गरमी तथा उमस है। अब मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले दो दिनों में बारिश का सिलसिला प्रदेश में हल्का-हल्का रहेगा। आठ अगस्त से बारिश के जोर पकडऩे की संभावना है। आठ अगस्त से मानसून रफ्तार पकड़ेगा और पूरे प्रदेश में फिर से जमकर बारिश होने की गुंजाइश है। नौ को भी अच्छी बारिश की संभावना जताई गई है। इन दोनों ही दिनों के लिए मौसम विभाग ने पूरे प्रदेश के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। 

Page 9 of 1446

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें