इस्लामाबाद। बिगड़ते आर्थिक हालात के कारण पाक अब भारत से अच्छे संबंधों की पहल करना चाहता है। जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने के विरोध में पाक के तेवरों में आई गर्मी अब ठंडी पड़ने लगी है। धारा 370 हटाने के दौरान कपास के आयात पर रोक के बाद अब पाकिस्तान फिर हालात सामान्य करना चाहता है। इसके लिए सरकारी स्तर पर प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इस रोक से पाक की टेक्सटाइल इंडस्ट्रीज दिक्कत में आ गई है।पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के अधीन काम करने वाले टेटाइल मंत्रालय ने कच्चे माल की जबर्दस्त कमी के कारण भारत से कपास और सूती धागे के आयात के लिए तुरंत रोक हटाने की संस्तुति आर्थिक समन्वय समिति (ईसीसी) से की है।आधिकारिक सूत्र ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि इस मामले में एक सप्ताह पहले ही आयात पर रोक हटाने के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। अब निर्णय कैबिनेट को लेना है। ज्ञात हो कि पाकिस्तान ने भारत में जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने के फैसले के विरोध में कपास के आयात पर रोक लगा दी थी। इसके बाद पाक ने भारत के खिलाफ अंतरराष्‌र्ट्रीय स्तर पर दुष्प्रचार कर मुस्लिम देशों को लामबंद करने की असफल कोशिश की। पाक नासमझी भरे निर्णयों से लाभ के बजाय नुकसान होने के बाद अब इन कदमों को वापस लेना चाहता है। उसकी कॉटन इंडस्ट्री की हालत खराब हो गई है और कच्चे माल की जबर्दस्त कमी होने के कारण कई कपड़ा मिल बंद होने के कगार पर आ गई हैं।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें

data-ad-type="text_image" data-color-border="FFFFFF" data-color-bg="FFFFFF" data-color-link="0088CC" data-color-text="555555" data-color-url="AAAAAA">