वाशिंगटन। अमेरिका में डेमोक्रेटिक पार्टी से राष्ट्रपति पद के भावी उम्मीदवार जो बिडेन के लिए भारतवंशी उद्यमी देवेन पारेख फंड इकट्ठा करने के काम में जुटे हैं। वर्चुअल माध्यम से चंदा जुटाने के काम में पारेख को अन्य उद्यमियों का भी साथ मिला है। इंसाइट पार्टनर्स के प्रबंध निदेशक पारेख ने पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के लिए भी चंदा इकट्ठा किया था। पारेख ओबामा के शासनकाल में ओवरसीज प्राइवेट इंवेस्टमेंट कॉरपोरेशन के निदेशक मंडल में अपनी सेवा दे चुके हैं।अमेरिका के पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन इस साल होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी से सबसे मजबूत उम्मीदवार बनकर उभरे हैं। नवंबर में होने वाले चुनाव में उनका मुकाबला वर्तमान राष्ट्रपति व रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप से तय माना जा रहा है। फंड जुटाने के कार्यक्रम के दौरान बिडेन ने कहा कि अगर ट्रंप गंभीर होते तो अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण से इतनी ज्यादा संख्या में लोगों की मौत नहीं होती।
बिडेन ने ट्रंप पर चुटकी ली:-समाचार एजेंसी पीटीआइ के अनुसार बिडेन ने ट्रंप पर चुटकी लेते हुए कहा कि चुनाव होने में अब छह महीने से भी कम वक्त बचा है, लेकिन ट्रंप 2016 में राष्ट्रपति चुने जाने के बाद से चंदा इकट्ठा कर रहे हैं। फिर उन्होंने महामारी के दौरान ट्रंप के नेतृत्व की आलोचना करना शुरू कर दिया। उन्होंने कहा गया कि अगर ट्रंप कोरोना वायरस को गंभीरता से लेते, तो कम अमेरिकियों की मृत्यु होती।
महमारी के समय में भी चंदा देने के लिए लोगों की सराहना की:-बता दें कि दुनियाभर में सबसे ज्यादा कोरोना वायरस के मरीज अमेरिका में सामने आए हैं और मौत भी सबसे ज्यादा यहीं हुई है। पीटीआइ के अनुसार देश में अब तक 16 लाख से अधिक मामले सामने आ गए हैं और 93 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। बिडेन ने इस चिंताजनक समय को स्वीकार करते हुए कि देश विशेष रूप से न्यू यॉर्क में रहने वाले लोगों की इस महमारी के समय में भी उन्हें चंदा देने के लिए सराहना की और आगे भी ऐसा करने के लिए आग्रह किया।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें