बीजिंग। आधारभूत परियोजनाओं में अपना लोहा मनवा चुके चीन ने नया कीर्तिमान गढ़ा है। बुधवार को राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने एक नए एयरपोर्ट की शुरुआत की। इसका आकार 100 फुटबाल मैदानों जितना है। विशालकाय स्टारफिश मछली जैसा दिखने वाला यह एयरपोर्ट (बीजिंग दाक्सिंग अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा) थ्येनआनमन चौक से 46 किमी दक्षिण में दाक्सिंग जिले और लांगफांग की सीमा पर मौजूद है।चीन में कम्युनिस्ट शासन के 70 साल पूरे होने से कुछ दिनों पहले इस एयरपोर्ट की शुरुआत को सरकार की बड़ी उपलब्धि के तौर पर देखा जा रहा है। माना जा रहा है कि एयरपोर्ट वर्ष 2040 से पूरी क्षमता चलना शुरू होगा और इसमें आठ रनवे होंगे। प्रत्येक वर्ष यहां से 10 करोड़ यात्री सफर कर सकेंगे। नए एयरपोर्ट का कोड नाम पीकेएक्स है जिसे राष्ट्रपति शी के नाम से जोड़कर देखा जा रहा है।
पहली उड़ान ही आधा घंटे देरी से गई:-एयरपोर्ट की शुरुआत के साथ सब कुछ ठीक नहीं रहा। इसकी पहली वाणिज्यिक उड़ान-एक 380 सुपरजंबो जो चीन के दक्षिण में स्थित ग्वांगडोंग शहर जा रही थी, वह लगभग 30 मिनट देरी से गई। पहली उड़ान का लाइव कवरेज करने वाली सरकारी प्रसारणकर्ता सीसीटीवी ने देरी के लिए कोई स्पष्टीकरण नहीं दिया है।
173 एकड़ में है फैला;-यह पूरा एयरपोर्ट 700,000 वर्ग मीटर (173 एकड़) में फैला है। इसका आकार 100 फुटबाल मैदानों के बराबर है। इमारत को इराकी-ब्रिटिश वास्तुकार जाहा हदीद ने डिजाइन किया था, उनकी 2016 में मृत्यु हो गई थी। परियोजना पर एक लाख 24 हजार करोड़ रुपये की (120 बिलियन युआन या 17.5 बिलियन डॉलर) लागत आई है। हालांकि रेल और रोड पर खर्च होने वाले पैसे को मिला लिया जाए तो लगभग चार लाख करोड़ रुपये बैठती है। टर्मिनल के नीचे एक ट्रेन स्टेशन और मेट्रो लाइन है, जो 20 मिनट में यात्रियों को बीजिंग के केंद्र में पहुंचा देगी।
दुनिया के एकल टर्मिनल वाला सबसे बड़ा एयरपोर्ट:-वास्तुकारों के मुताबिक जब यह अपनी पूरी क्षमता से काम करने लगेगा तो यह दुनिया के एकल टर्मिनल वाला सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा। अमेरिका का अटलांटा एयरपोर्ट अभी दुनिया का सबसे व्यस्ततम एयरपोर्ट है, जहां पर 10 करोड़ से अधिक यात्री प्रतिवर्ष यात्रा करते हैं, लेकिन यहां दो टर्मिनल हैं।
2020 में अमेरिका से आगे निकल जाएगा चीन:-मलेशिया स्थित एविएशन कंसल्टेंसी एंडा एनालिटिक्स के प्रमुख शुकूर युसूफ के मुताबिक दाक्सिंग एयरपोर्ट चीन में विमानन बाजार की अभूतपूर्व वृद्धि का परिचायक है। एक अनुमान के मुताबिक 2020 के मध्य तक विमानन बाजार के मामले में चीन अमेरिका से आगे निकल जाएगा।वर्तमान बीजिंग राजधानी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा एयरपोर्ट है और यहां से एक साल में 10 करोड़ से अधिक यात्री यात्रा करते हैं। 2037 तक चीन में प्रत्येक वर्ष 1.6 अरब उड़ानों का परिचालन होने लगेगा, यह 2017 के मुकाबले एक अरब ज्यादा होगा।

 

 

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें