वाशिंगटन। उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के सौतेले भाई किम जोंग नम (Kim Jong Nam) की साल 2017 में मलेशिया में हत्या कर दी गई थी। एक विदेशी अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक किम जोंग नम सीआइए (अमेरिकी इंटेलिजेंस एजेंसी) का मुखबिर था।रिपोर्ट में कहा गया है कि CIA (Central Intelligence Agency) के साथ किम जोंग नम के संबंध के कई विवरण अभी अस्पष्ट हैं। खबरों के मुताबिक CIA ने इसपर कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है। एक व्यक्ति का हवाला देते हुए रिपोर्ट में कहा गया है कि CIA और किम जोंग नम के बीच सांठगांठ थी।कई पूर्व अमेरिकी अधिकारियों ने कहा कि किम जोंग का सौतेला भाई कई वर्षों से उत्तर कोरिया के बाहर रहता था। उसके पास कोई शक्ति नहीं थी औऱ न ही इस बात की कोई संभावना की वह उत्तर कोरिया के आंतरिक कामकाज की जानकारी दे सके। रिपोर्ट के मुताबिक पूर्व अधिकारियों का मानना है कि किम जोंग नम कई दूसरे देशों और विशेष रूप से चीन की सुरक्षा एजेंसी के संपर्क में था।दक्षिण कोरियाई और अमेरिकी अधिकारियों ने कहा है कि उत्तर कोरिया ने ही किम जोंग नम की हत्या का आदेश दिया था, क्योंकि ये परिवार के वंशवादी शासन के लिए बेहद जरूरी था। वहीं, प्योंगयांग ने इन आरोप से इनकार कर दिया है।बता दें कि फरवरी 2017 में कुआलालंपुर हवाई अड्डे पर एक प्रतिबंधित रासायनिक हथियार से किम जोंग नम को मारने के आरोप में दो महिलाओं को आरोपित किया गया था। मलेशिया ने वियतनामी महीला दोन थी हुओंग को मई और इंडोनेशिया की सिति आसियाह को मार्च में रिहा कर दिया था।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें