टोक्यो। जापान के प्रधानमंत्री शिंजो एबी तीसरी बार सत्तारूढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी (एलडीपी) का प्रमुख बनने की कोशिशों में जुटे हैं। अगले हफ्ते होने वाला यह चुनाव जीतकर एबी देश का नया संविधान तैयार करने के अपने कार्य को आगे बढ़ाएंगे। एबी को एलडीपी के 70 फीसद सांसदों का समर्थन पहले ही मिल चुका है। उनका चुनाव जीतना करीब-करीब तय माना जा रहा है।इस जीत के बाद उन्हें संविधान में संशोधन करने के लिए तीन और साल मिल जाएंगे। इस दौरान उन्हें अर्थव्यस्था सहित अन्य कई प्राथमिकताओं को भी तरजीह देने का मौका मिलेगा। पूर्व रक्षा मंत्री शिगुरु इशिबा इस चुनाव में उनके इकलौते प्रतिद्वंद्वी हैं। 20 सितंबर को होने वाले चुनाव से पहले दोनों के बीच शुक्रवार को सार्वजनिक बहस होगी।इससे पहले टीवी पर दिए अपने भाषण में एबी ने कहा, 'मैं संविधान में संशोधन का कार्यभार संभालूंगा। द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद खड़ी हुई इस चुनौती से अभी तक पार नहीं पाया गया है।' 63 वर्षीय एबी दिसंबर, 2012 से देश के प्रधानमंत्री हैं।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें