पत्रकार निकाय ने पाक सरकार से पत्रकारों को लक्षित करने वाले प्रस्तावित कानून में संशोधन करने का आग्रह किया

10 July 2021
Author 

वाशिंगटन। पाकिस्तान में प्रेस की स्वतंत्रता के लिए खतरा पैदा करने वाले नए कानून पर चिंता जताते हुए पत्रकारों की सुरक्षा समिति (सीपीजे) ने पंजाब के राज्यपाल चौधरी मोहम्मद सरवर और विधानसभा अध्यक्ष परवेज इलाही से प्रस्तावित कानून में संशोधन करने को कहा है।रिपोर्ट के मुताबिक, 'पिछले महीने, पंजाब प्रांतीय विधानसभा ने पंजाब विशेषाधिकार (संशोधन) अधिनियम, 2021 की प्रांतीय विधानसभा को पारित किया। यह ऐसा विधेयक था जो स्पीकर को विधायी निकाय के कवरेज पर पत्रकारों को दंडित करने की क्षमता के साथ एक न्यायिक समिति बनाने का अधिकार देता है।'लोकल मीडिया के अनुसार, 'सीपीजे ने कहा कि यदि अधिनियमित किया जाता है, तो न्यायिक समिति के पास संक्षिप्त परीक्षण करने और पत्रकारों को छह महीने तक जेल की सजा देने और किसी भी विधानसभा सदस्य की शिकायत के आधार पर 10,000 रुपये (यूएसडी 63) तक का जुर्माना लगाने की शक्ति होगी।'

28 VIEWS
Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें

data-ad-type="text_image" data-color-border="FFFFFF" data-color-bg="FFFFFF" data-color-link="0088CC" data-color-text="555555" data-color-url="AAAAAA">