शशि थरूर पर केस दर्ज करवाना राजनीतिक द्वेष भावना : जार्ज अब्राहिम

12 July 2018
Author 


भारत के लोकतंत्र व न्याय शास्त्र प्रणाली पर एक काला अध्याय लिखने की सरकार की कोशिश
न्यूयॉर्क (हम हिन्दुस्तानी)-इंडियन ओवरसीज कांग्र्रेस यू.एस.ए. के वाइस चेयरमैन जॉर्ज अब्राहिम ने कहा कि शशि थरूर जोकि सांसद हैं, के खिलाफ दर्ज अदालती मामला कुछ भी नहीं अपितु राजनीतिक द्वेष भावना से प्रेरित है, जोकि बहुलवाद और लोकतंत्र की मजबूत और स्थित आवाज को दबाने हेतु रचना गए षड्यंत्र है। श्री अब्राहिम ने कहा कि भाजपा सरकार भी इसमें संलिप्त है क्योंकि सरकार ने कानून एवं प्रवर्तन एजैंसियों को विपक्ष के नेताओं को राजनीतिक द्वेष भावना का शिकार बनाकर प्रताडि़त करने हेतु विशेष आदेश जारी किए हैं ताकि उन्हें राजनीतिक से बेदखल करके देश पर एकछत्र राज किया जा सके। श्री अब्राहिम ने कहा कि शशि थरूर, जिन्हों बतौर महासचिव के रूप में अपना कार्य शुरू किया गया और संयुक्त राष्ट्र में भी उन्होंने शीर्ष पद पर कार्य किया। यही कारण है कि वे जहां एक उत्साहित वकील है वहीं पर एक विद्वान, विचार और लेखक भी हैं जोकि पूरी दुनिया में सम्मानीय हैं। श्री थरूर की पत्नी की मौत वास्तव में दुखद घटना है लेकिन सरकार द्वारा इसे राजनीतिक रंगत देखकर अपना उल्लू सीधा करने की कोशिश की जा रही है जोकि भारत के लोकतंत्र व न्याय शास्त्र प्रणाली पर एक काला अध्याय है। यदि वास्तविक लोकतंत्र जीवित रखना है, तो अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और प्रतिस्पर्धी राजनीतिक दलों की स्वतंत्रता होनी चाहिए जो भय या प्रतिक्रिया के बिना लोगों के आत्मविश्वास के लिए तैयार होंगी। हालांकि, भारत में आज फोरबोडिंग की बढ़ती भावना उस देश को पकड़ रही है जहां सत्तारूढ़ दल ने भारत को 'कांग्रेस मुक्त' बनाने की कसम खाई है। राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों का बढ़ता अभियोजन एक परिपक्व लोकतंत्र का संकेत नहीं है। बीजेपी ने सत्ता संभालने के बाद हजारों किसानों ने आत्महत्या की है। इनमें से कुछ मौतों को सीधे वर्तमान सरकार की गुमराह नीतियों के लिए जिम्मेदार ठहराया जा सकता है जिसमें राक्षस शामिल है। शायद, यह पूछने का समय है कि इन गरीब किसानों की मौत किसने की है?

88 VIEWS
Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें