Editor

Editor

वेलिंगटन। देश में कोरोना वायरस के प्रसार पर नियंत्रण के लिए चौहतरफा वाह-वाही बटौर रहे न्यूजीलैंड में 102 दिन बाद संक्रमण के मामले सामने आए हैं। मंगलवार को देश की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न (Jacinda Ardern) ने कहा कि प्रशासन को कोरोना संक्रमण के चार नए मामले मिले हैं। इनमें से एक केस ऑकलैंड से दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि यह 102 दिनों में पहला मामला है जब संक्रमण के केस सामने आए हैं।आर्डर्न ने कहा कि ऑकलैंड देश का सबसे बड़ा शहर है। नया मामला सामने आने के बाद बुधवार दोपहर से शहर तीसरे स्थान पर पहुंच जाएगा। इसके बाद लोगों को घर पर ही रहने की हिदायत दी जाएगी और बार समेत विभिन्न व्यवसायों को बंद कर दिया जाएगा। इसके अलावा देश के अन्य शहरों को दूसरे स्तर पर रखा जाएगा।

मास्‍को। रूस ने विदेशी बाजारों के लिए अपनी पहली अनुमोदित COVID-19 वैक्सीन का नाम स्पुतनिक वी (Sputnik V) दिया है। रूस वैक्सीन को मंजूरी देने वाला पहला देश बन गया है। रूस के संप्रभु धन कोष के प्रमुख किरिल दिमित्रिक ने यह जानकारी दी है कि 20 से अधिक देशों ने कोरोना वैक्सीन की 1 अरब डोज का ऑर्डर दिया है। वह राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन द्वारा मानव परीक्षण के दो महीने से कम समय के बाद मंजूरी की घोषणा के बाद बोल रहे थे।रूस के राष्‍ट्रपति पुतिन ने कहा कि इस सुबह दुनिया में पहली बार नए कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्‍सीन रजिस्‍टर्ड हुई है। उन्‍होंने उन सभी लोगों को धन्‍यवाद दिया जिन्‍होंने इस वैक्‍सीन पर काम किया। पुतिन ने दावा किया कि वैक्‍सीन सारे जरूरी टेस्‍ट से गुजरी है। अब यह वैक्‍सीन बड़े पैमाने पर उत्पादन के लिए भेजी जाएगी।किरिल दिमित्रिक ने वैक्‍सीन के निर्माण की तुलना सोवियत संघ के 1957 के स्पुतनिक 1 के दुनिया के पहले उपग्रह से की। इसे एक ऐतिहासिक स्पुतनिक क्षण के रूप में स्वागत किया। उन्होंने कहा कि विदेशी बाजारों में 'स्पुतनिक वी' के नाम से वैक्सीन की मार्केटिंग की जाएगी।
किसे लगेगी पहले वैक्‍सीन;-रूस के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मिखाइल मुराशको के अनुसार, इसी महीने से स्‍वास्‍थ्‍य कर्मचारियों को वैक्‍सीन देने की शुरुआत हो सकती है। रूस में सबसे पहले फ्रंट लाइन हेल्थ वर्कर्स को कोरोना का टीका लगाया जाएगा। इसके बाद सीनियर सिटिजजन को वैक्‍सीन दी जाएगी।
सितंबर से बड़े स्‍तर पर हो सकता है उत्‍पादन;-फिलहाल इस वैक्‍सीन को सीमित स्‍तर पर तैयार किया गया हैं। इसकी रेगुलेटरी अप्रूवल मिल चुका है तो अब इस वैक्‍सीन का औद्योगिक स्‍तर सितंबर से शुरू हो सकता है। रूस ने कहा है कि वह अक्‍टूबर से देशभर में टीका लगाने की शुरुआत कर सकता है।
विश्‍व के वैज्ञानिकों ने उठाए सवाल;-रूस जिस गति से वैक्सीन के निर्माण के लिए आगे बढ़ रहा है, उसने कुछ अंतराष्ट्रीय वैज्ञानिकों को सवाल करने के लिए प्रेरित किया है कि क्या मॉस्को बिना मानकों को जांच किए लोगों की सुरक्षा को खतरे में नहीं डाल है।

अहमदाबाद। भारतीय क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा को पत्‍नी रिवाबा जडेजा और पारिवारिक मित्रों के साथ एक कार में जाते समय पुलिस ने उन्‍हें रोक लिया था। जाडेजा कार चला रहे थे, उनके मुंह पर मास्‍क था, लेकिन पत्‍नी रिवाबा ने मास्क नहीं पहन रखा था। इसी बात को लेकर उनकी महिला पुलिस कांस्टेबल के साथ जोरदार बहस हो गई। इसी दौरान रिवाबा का ब्‍लड प्रेशर बढ गया, उन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराना पड़ा।क्रिकेटर रवींद्र जडेजा पत्‍नी रिवाबा व तीन अन्‍य मित्रों के साथ कार में सवार होकर कहीं जा रहे थे। राजकोट के किशनपरा चौक पर महिला पुलिसकर्मी सोनल गणेश्‍वरी ने उन्हें रोक कर मास्‍क नहीं पहनने के लिए जुर्माना भरने को कहा तो रिवाबा भडक गईं और महिला पुलिसकर्मी से जोरदार बहस करने लगीं। इसी बहस के दौरान उनका रक्‍तचाप(ब्लड प्रेशर) बढ़ गया और वे बेहोश हो गईं। उपचार के लिए उन्‍हें नजदीक के अस्‍पताल ले जाया गया, जहां उनका इलाज हुआ।रिवाबा जडेजा ने बताया कि अब वे बिल्‍कुल स्‍वस्‍थ हैं। पुलिस उपनिरीक्षक ए जे लाठिया ने बताया कि बहस के दौरान रिवाबा का ब्‍लड प्रेशर बढ गया था, इसलिए उन्‍हें तत्‍काल अस्‍पताल पहुंचाया गया, अब वे स्‍वस्‍थ हैं। पुलिस ने इस दौरान उनसे जुर्माना नहीं वसूला है, लेकिन शेष कार्रवाई जल्द पूरी की जाएगी।गौरतलब है कि गुजरात सरकार ने मंगलवार से राज्‍य में सार्वजनिक स्थलों पर मास्‍क नहीं पहनने वालों पर एक हजार रुपये का जुर्माना लगाने की घोषणा की थी। पहले ही दिन पुलिस पूरी मुस्‍तैदी के साथ मास्‍क नहीं पहनने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने लगी है। गुजरात उच्‍च न्‍यायालय ने खुद कोरोना महामारी के दौरान मास्‍क नहीं पहनने वालों पर कम से कम एक हजार रुपये तक का जुर्माना लगाने का सुझाव देने के साथ ऐसे लोगों को परिवार व समाज के लोगों के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए खतरनाक तक बताया था।आपकी जानकारी के लिए बता दें, क्रिकेटर रवींद्र जडेजा खुद कई बार विवादों में आ चुके हैं, सासण गीर जंगल में एशियाई शेरों के करीब जाकर सेल्‍फी लेने का मामला हो या उनके विवाह समारोह के दौरान हवाई फायरिंग होने का मामला। जडेजा राजकोट में खोले गये अपने एक रेस्‍टोरेंट को लेकर भी चर्चा में रहे हैं। इसके अलावा चुनावों के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा का समर्थक होने की बात भी वे कभी नहीं छिपाते, भले उनके खिलाफ उनकी बहन ही क्‍यों ना खडी हो वे अपना राजनीतिक पक्ष जरुर खुलकर रखते रहे हैं।

जयपुर। भारतीय क्रिकेट टीम को साल के अंत में ऑस्ट्रेलिया के मुश्किल दौरे पर जाना है। पिछली बार विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने टेस्ट सीरीज जीत कर इतिहास रचा था। विदर्भ क्रिकेट टीम को रणजी चैंपियन बनाने वाले फैज फजल ने कोहली और ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन को दुनिया का बेस्ट टेस्ट कप्तान बताया है।Off the Field शो के दौरान फैज से जब सवाल किया गया कि इस वक्त दुनिया का सर्वश्रेष्ठ कप्तान कौन है तो उन्होंने दो नाम लिए। फैज ने कहा, मैं टिम पेन का फैन हूं, वह बहुत ही अच्छे टेस्टकप्तान हैं। विराट भी काफी अच्छे टेस्ट कप्तान हैं।अपने डेब्यू वनडे में अर्धशतक बनाने के बाद भी भारतीय टीम की तरफ से दोबारा नहीं चुने जाने पर भी फैज से सवाल किए गए। इस बारे में उनका कहना था, "भारतीय क्रिकेट टीम की संयोजन बहुत ही कठिन है, मैं खुद को काफी भाग्यशाली समझता हूं कि भारत की तरफ से खेलने का मौका मिल पाया। यह मेरा लक्ष्य था कि कभी अपने देश की तरफ से खेल सकूं, उसके साथ किसी चीज की तुलना नहीं हो सकती है। लेकिन मैं अब भी टेस्ट टीम में खेलने का लक्ष्य रखता हूं। हां इस बात के जरूर निराश हूं कि अपनी जगह भारतीय टीम में बरकरार नहीं रख पाया।"फैज ने फर्स्टक्लास क्रिकेट में पिछले कुछ सीजन में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। 2017-18 में 1001 जबकि 2018-19 में उन्होंने 942 रन बनाए थे। भारत की तरफ से साल 2016 में जिम्बाब्वे के खिलाफ फैज ने अपना डेब्यू वनडे खेला था जिसमें 55 रन बनाए थे।विदर्भ की कप्तानी करने के अनुभव पर फैज ने कहा, "मैं विदर्भ की कप्तानी करना पसंद करता हूं। मैं भाग्यशाली हूं कि मेरी टीम में इतने अच्छे खिलाड़ी मौजूद हैं। मैं जब दिलीप ट्रॉफी की कप्तानी कर रहा था तो उस टीम में भी मेरे साथ काफी अच्छे खिलाड़ी मौजूद थे।" 

नई दिल्ली। भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों को पैसे सुरक्षित रखने के कुछ तरीके बताए हैं। SBI ने अपने ग्राहकों से कहा है कि ग्राहकों को किसी भी एटीएम-कम-डेबिट कार्ड धोखाधड़ी से बचने के लिए पूरी गोपनीयता में एटीएम लेनदेन करना चाहिए। एसबीआई ने ट्वीट किया, 'आपका एटीएम कार्ड और पिन महत्वपूर्ण हैं। यहां आपके पैसे सुरक्षित रखने के लिए कुछ सुझाव दिए गए हैं।'
SBI ने एटीएम में सुरक्षित बैंकिंग के कुछ सुझाव साझा किए हैं:
1) एटीएम या पीओएस मशीन पर एटीएम कार्ड का उपयोग करते समय कीपैड को कवर करने के लिए अपने हाथ का उपयोग करें।
2) कभी भी अपना पिन/कार्ड डिटेल साझा न करें।
3) अपने कार्ड पर पिन कभी न लिखें।
4) अपने कार्ड के डिटेल या पिन के लिए किसी ईमेल या कॉल का जवाब न दें।
5) अपने जन्मदिन, फोन या अकाउंट नंबर से अपने पिन के रूप में नंबर का उपयोग न करें।
6) अपनी लेन-देन रसीद को दूर रखें।
7) अपना लेनदेन शुरू करने से पहले जासूसी कैमरों की तलाश करें।
8) कीपैड हेरफेर से सावधान रहें, एटीएम या पीओएस मशीन का उपयोग करते समय हीट मैपिंग करें।
9) ATM में आपके पीछे खड़े व्यक्ति से सावधान रहें।
10) लेन-देन अलर्ट के लिए साइन अप करना सुनिश्चित करें।
बैंक ने ओटीपी आधारित नकद निकासी प्रणाली शुरू की थी जो एसबीआई के एटीएम में लेनदेन को अधिक सुरक्षित बनाता है। इस नई सुविधा को 1 जनवरी, 2020 को पेश किया गया था, यह एटीएम कार्डधारकों को वन-टाइम पासवर्ड (ओटीपी) की मदद से नकदी निकालने की अनुमति देता है।मालूम हो कि 1 जुलाई से एटीएम निकासी शुल्क लागू है। कोरोनावायरस महामारी को देखते हुए एसबीआई ने 30 जून तक तीन महीने की अवधि के लिए एटीएम सेवा शुल्क की माफी की घोषणा की थी।

नई दिल्ली। आईफोन निर्माता कंपनी एपल के सीईओ टिम कुक अरबपति बन गए हैं। कुक की संपत्ति ने पहली बार एक अरब डॉलर का आंकड़ा छुआ है। यह इसलिए हुआ क्योंकि कूपर्टीनो बेस्ड आईफोन निर्माता ने अपने पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए और यह 1.84 लाख करोड़ डॉलर से अधिक के साथ दुनिया की सबसे मूल्यवान कंपनी बन गई है। हालांकि, कुक अभी भी ब्लूमबर्ग बिलिनेयर्स लिस्ट में शामिल अन्य सीईओ की तुलना में काफी पीछे हैं। इस लिस्ट में शामिल अमेजन के फाउंडर और सीईओ की संपत्ति 187 अरब डॉलर, पूर्व माइक्रोसॉफ्ट सीईओ बिल गेट्स की संपत्ति 121 अरब डॉलर और फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग की संपत्ति 102 अरब डॉलर है। ऐसे में कुक संपत्ति के मामले में इनसे काफी पीछे हैं।बीबीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार, कुक के पास सीधे तौर पर 847,969 शेयरों का स्वामित्व है और पिछले साल उन्हें भुगतान पैकेज के रूप में 12.5 करोड़ डॉलर मिले थे। एपल अब 2 लाख करोड़ डॉलर की कंपनी बनने के करीब है। यहां तक पहुचंने वाली वह पहली कंपनी होगी और दूसरों के लिए एक मील का पत्थर सेट करेगी। पिछले सप्ताह एपल सऊदी अरब की तेल कंपनी सऊदी अरामको को पीछे छोड़ दुनिया की सबसे मूल्यवाल कंपनी बनी थी।एपल पहली कंपनी थी जिसने एक लाख करोड़ डॉलर का स्तर पार किया था। कंपनी ने साल 2018 में यह कीर्तिमान अपने नाम किया था। गौरतलब है कि कोरोना वायरस महामारी के दौर में अधिकाधिक लोगों के ऑनलाइन आने से एपल, फेसबुक और अमेजन जैसी टेक्नॉलोजी कंपनियों की आय में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है।

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के निधन का मामला पूरी तरह से नया मोड़ ले चुका है। इस समय ईडी के ऑफिसर्स सख्ती से रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार से पूछताछ कर रही हैं और दूसरी ओर अब भी बॉलीवुड ने इस मामले में अपनी चुप्पी नहीं तोड़ी है। सोशल मीडिया पर सुशांत सिंह राजपूत के परिवार और फैंस लगातार न्याय की मांग करते हुए अपनी बात सामने रख रहे हैं। बीते कई दिनों से ट्विटर पर #JusticeForSushantSinghRajput और #Warriors4SSR लगातार ट्रेंड कर रहा है। वहीं बार-बार लोग ये बात उठा रहे है कि आखिर बॉलीवुड के कलाकार किस दवाब में आकर सुशांत सिंह राजपूत के लिए न्याय की मांग नहीं कर पा रहे हैं?देखा जाए तो टीवी के तमाम सितारों ने इस मामले में खुलकर अपनी बात सामने रखी है और लगभग सभी की एक ही मांग है कि कैसे भी करके सुशांत सिंह राजपूत और उनके परिवार को न्याय मिले।
तरुण खन्ना:-तरुण खन्ना लगातार इस मामले में अपनी बात सामने रख रहे हैं और वीडियोज के माध्यम से वो हमेशा फैंस से यही कह रहे है कि सुशांत सिंह राजपूत को न्याय दिलाने के लिए जो आवाज उठाई गई है, वो कैसे भी करते दबने ना पाए। अपने लेटेस्ट वीडियो में तरुण खन्ना ने रिया चक्रवर्ती को खूब खरी खोटी सुनाई है।
अर्जुन बिजलानी:-अर्जुन बिजलानी और सुशांत सिंह राजपूत एक-दूसरे के काफी अच्छे दोस्त थे और बीते कुछ घंटे पहले ही सुशांत की एक पुरानी तस्वीर को शेयर करते हुए अर्जुन बिजलानी ने भी अपने दोस्त के लिए न्याय की मांग की है।
काम्या पंजाबी:-कुछ घंटे पहले ही रिया चक्रवर्ती की ओर से सुशांत सिंह राजपूत के वाट्सएप चैट का स्क्रीनशॉट शेयर किया गया था, जिसके जरिए दावा किया गया था कि बहनों के साथ सुशांत के रिश्ते अच्छे नहीं थे। इस खबर को देखते ही काम्या पंजाबी ने जमकर रिया चक्रवर्ती को लताड़ लगाई है।
रवि दुबे;-रवि दुबे का नाम टीवी इंडस्ट्री के बड़े स्टार्स की लिस्ट में शुमार है। सुशांत सिंह राजपूत के लिए न्याय की मांग करते हुए रवि दुबे ने ट्विटर पर लिखा है कि उनके पिता को सच्चाई जानने का पूरा हक है।
अंकिता लोखंडे:-सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद से अंकिता लोखंडे उनके परिवार के साथ चट्टान की तरह खड़ी रही है। अंकिता लोखंडे लगातार सुशांत को न्याय दिलाने के लिए खुलकर सामने आ रही है।
विकास गुप्ता;-टीवी के जाने-माने प्रोड्यूसर विकास गुप्ता के भाई कई महीनों तक सुशांत के साथ ही रुके थे और इस दौरान विकास और सुशांत में भी अच्छी दोस्ती हो गई थी। विकास गुप्ता ने भी न्याय की मांग करते हुए कहा है कि, 'सुशांत को लगता था कि हर कोई उसी की तरह साफ दिल का है।'
रश्मि देसाई;-सुशांत सिंह राजपूत की करीबी दोस्त रह चुकी रश्मि देसाई ने उनके लिए न्याय की मांग करते हुए ट्विटर पर लिखा है कि, 'कभी-कभी आप सच का स्वीकार नहीं कर पाते हैं।'

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मृत्यु मामले में हर रोज बड़े-बड़े खुलासे हो रहे हैं। सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु शुरूआत में जितनी साधारण लग रही थी, इन खुलासों की वजह से अब लोगों को शक हो चला है कि दाल में कुछ तो काला है। अगर सुशांत सिंह राजपूत मृत्यु मामले से जुड़ी ताजा रिपोर्ट की मानें तो केके सिंह ने साल 2019 में रिया चक्रवर्ती और श्रुति को मैसेज भेजकर अपने बेटे का हाल जानने की कोशिश की थी लेकिन उन्हें इस मैसेजेज का कभी जवाब नहीं मिला।टाइम्स नाउ के अपनी एक रिपोर्ट में इन स्क्रीनशॉट्स को शेयर किया है। केके सिंह ने रिया चक्रवर्ती को भेजे मैसेज में लिखा था, 'जब तुम जान गई कि मैं सुशांत का पापा हूं तो बात क्यों नहीं की ? आखिर बात क्या है ? फ्रेंड बनकर उसका इलाज और देखभाल कर रही हो तो मेरा भी कोई फर्ज बनता है कि सुशांत के बारे में सारी जानकारी मुझे भी रहे। कॉल करके मुझे सारी जानकारी दो।'श्रुति को भेजे मैसेज में केके सिंह ने लिखा था, 'मैं जानता हूं कि सुशांत के सारे खर्च और उसे भी तुम देखती हो। वो अभी किस स्थिति में है, इसके लिए बात करना चाह रहे थे। कल सुशांत से बात हुई तो वो कह रहा था कि बहुत परेशान हूं। अब तुम सोचो कि एक पिता के लिए कितनी चिंता होगी उसके लिए। इसलिए तुमसे बात करना चाह रहा था। अब तुम बात नहीं कर रही हो तो मैं मुंबई जाना चाहता हूं, फ्लाइट का टिकिट भेज दो।'सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह के इन मैसेज से साफ नजर आता है कि उन्हें पता था कि उनके बेटे के साथ कुछ गलत हो रहा है, जिसकी जानकारी उन्हें नहीं मिल पा रही है। सुशांत के फैंस उम्मीद जता रहे हैं कि केके सिंह को अपने सभी सवालों के जवाब जल्द ही मिल जाएंगे।

नई दिल्ली। पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी कोरोना वायरस (COVID-19) से संक्रमित हो गए हैं। उन्होंने खुद ट्वीट करके इसकी जानकारी दी है। प्रणब मुखर्जी ने ट्वीट करके कहा कि अस्पताल में टेस्ट के बाद मैं कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया हूं। पिछले एक हफ्ते में जो भी लोग मेरे संपर्क में आए हैं, मैं उनसे अपील करता हूं कि वो सभी टेस्ट करवाएं और आइसोलेट हो जाएं। बता दें कि हाल ही में कई राजनेता और वीवीआइपी कोरोना से संक्रमित हुए हैं। इनमें केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, कर्नाटक और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री और सदी के महानायक अमिताभ बच्चन प्रमुख हैं। अमिताभ और शिवराज सिंंह चौहान कोरोना संक्रमण से ठीक भी हो चुके हैं।राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने शर्मिष्‍ठा मुखर्जी से बात की और उनके पिता, पूर्व राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली, जिन्हें कोविड-19 पॉजिटिव पाए जाने के बाद अस्पताल में रखा गया है। राष्ट्रपति ने उनके शीघ्र स्वस्थ होने और अच्छे स्वास्थ्य की कामना की है।दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत अन्य लोगों ने प्रणब मुखर्जी के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रर्थना की। केजरीवाल ने ट्वीट करके कहा, ' सर कृपया ध्यान रखें। हम आपके शीघ्र स्वस्थ होने और अच्छे स्वास्थ्य के लिए प्रार्थना करते हैं।' केंद्रीय मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी के नेता रामविलास पासवान ने ट्वीट किया, 'मैं पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी जी के कोरोना संक्रमित होने की खबर से चिंतित हूं। मैं आपके शीघ्र स्वस्थ होने के लिए ईश्वर से प्रार्थना करता हूं।' वहीं रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट करके कहा कि सर आपके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना है। पूर्व केंद्रीय मंत्री मिलिंद देवड़ा, दिल्ली कांग्रेस के प्रमुख चौधरी अनिल कुमार और कई अन्य नेताओं ने भी मुखर्जी के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।
अमित शाह सहित चार केंद्रीय मंत्री हो चुके हैं संक्रमित:-इस महीने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के अलावा तीन और केंद्रीय मंत्री भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी और संसदीय मामलों के मंत्री अर्जुन राम मेघवाल की शनिवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उनसे पहले पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी कोविड पॉजिटिव पाए जा चुके थे।
कई बड़ी हस्तियां कोरोना संक्रमित:-मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोरोना पॉजिटिव निकले थे। शिरोमणि अकाली दल के सांसद नरेश गुजराल भी वायरस से संक्रमित पाए गए थे। भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और पार्टी प्रवक्ता संबित पात्रा भी कोरोना से संक्रमित हुए थे, लेकिन अब ठीक हो गए हैं। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा भी कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। बीते शुक्रवार को कांग्रेस नेता सिद्धारमैया के 40 वर्षीय बेटे यतींद्र सिद्धारमैया कोरोना पॉजिटिव पाए गए।
कई नेताओं की कोरोना से मौत;-उत्‍तर प्रदेश की मंत्री कमल रानी का बीते दिनों कोरोना के चलते निधन हो गया था। इसके अलावा बिहार के एमएलसी सुनील कुमार सिंह, बंगाल में तृणमूल विधायक तमोनाश घोष और तमिलनाडु में द्रमुक विधायक जे अंबाझगन, भाकपा बिहार प्रदेश परिषद के सचिव सत्यनारायण का कोरोना के कारण निधन हो गया है।
देश में कोरोना वायरस के 22 लाख 15 हजार मामले:-स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में अब तक कोरोना वायरस के 22 लाख 15 हजार 075 मामले सामने आ गए हैं। इनमें से छह लाख 34 हजार 945 एक्टिव केस है। वहीं 15 लाख 35 हजार 744 मरीज ठीक हो गए हैं। 44 हजार 386 मरीजों की मौत हो गई है। पिछले 24 घंटे में 62,064 मामले सामने आए हैं 1,007 लोगों की मौत हो गई है।

नई दिल्‍ली,। पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 6 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात ही। इस दौरान पीएम ने उत्तर प्रदेश, असम, बिहार, महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल के मुख्यमंत्रियों से चर्चा की। पीएम मोदी ने मॉनसून और बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए तैयारियों पर बात की। यह जानकारी पीएमओ ने दी है।पीएम मोदी ने 6 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से चर्चा के दौरान राज्य और केंद्र की एजेंसियों के बीच बेहतर तालमेल पर जोर दिया। पीएम ने बाढ़ की अग्रिम चेतावनी के लिए एक स्थायी सिस्टम और टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल की बात कही। इस दौरान केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन, गृह राज्‍य नित्‍यानंद राय और जी किशन रेड्डी के अलावा वरिष्‍ठ अधिकारी मौजूद रहे।बैठक में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य सरकार के अधिकारियों के साथ भाग लिया। राज्य सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार, 6 अगस्त को बिहार में कई जिलों को प्रभावित करने वाली बाढ़ से निपटने के लिए राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) और एसडीआरएफ सहित 30 से अधिक टीमों को तैनात किया गया था। बाढ़ के कारण राज्य के 16 जिले प्रभावित हुए हैं।केरल से मुख्यमंत्री एम पिनराई विजयन, राजस्व मंत्री ई चंद्रशेखरन, स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा, मुख्य सचिव डॉ. विश्व मेहता और डीजीपी लोकनाथ बेहरा बैठक में शामिल हुए। केरल के अलाप्पुझा जिले में कुट्टनाड तालुक के निचले इलाकों में बाढ़ जैसी स्थिति बनी हुई है। केरल सरकार के अनुसार, पांच और शव बरामद होने के बाद सोमवार को इडुक्की में राजमाला भूस्खलन में मरने वालों की संख्या बढ़कर 48 हो गई है। जैसाकि केरल में पिछले कई हफ्तों से लगातार बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने कासरगोड जिले के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। जिला कलेक्टर (डीसी) डॉ. डी सजीथ बाबू ने कहा कि किसी भी बाढ़ से संबंधित मुद्दों का सामना करने के लिए तैयार है।बैठक में कर्नाटक से राज्य के गृह मंत्री बसवराज बोम्मई, राजस्व मंत्री आर अशोक ने भाग लिया। मांड्या जिले के उपायुक्त एमवी वेंकटेश ने सोमवार को कहा कि कर्नाटक में कावेरी नदी में जल स्तर बढ़ने के कारण एहतियात के तौर पर जनता को प्रतिबंधित कर दिया गया है। लगातार बारिश के कारण कर्नाटक के विभिन्न हिस्सों में बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। केंद्रीय जल आयोग के अनुसार, कावेरी नदी का जल स्तर धीरे-धीरे बढ़ रहा है, जबकि भागमंदला और इसके आसपास के क्षेत्रों में बारिश जारी है।कर्नाटक के गृह मंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि हमने पीएम से बात की और उन्हें भारी बारिश से राज्य में हुए नुकसान की जानकारी दी। हमने एसडीआरएफ फंड के लिए 395 करोड़ का इंस्टॉलमेंट मांगा है। राज्य को 4000 करोड़ के विशेष मदद की भी मांग की गई है।

Page 2 of 1446

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें