चंडीगढ। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर दिल्ली में श्री गुरु रविदास जी का मंदिर गिराने के विरोध में रविदास समाज के के बंद से पंजाब जाम हो गया है। बंद का पंजाब के अधिकतर जिलों में व्‍यापक असर हुआ है। बंद के दौरान हाेशियारपुर के मुकेरियां में दुकानदारों व प्रदर्शनकारियों में भिड़ंत हो गई। पुलिस ने लोगों को हटाने के लिए हवाई फायरिंग की। भिडंत में तीन लोग घायल हो गए। नवांशहर में भी जबरन दुकानें बंद कराने को लेकर दुकानदार और प्रदर्शनकारी आमने-सामने आ गए।पूरे राज्‍य में बंद को लेकर रविदास समाज के लोग विभिन्‍न जगहों पर प्रदर्शन कर रहे हैं और सड़कों पर धरना दे रहे हैं। राज्‍य में अधिकतर स्‍थानों पर बाजार बंद हैं और सड़क यातायात ठप हो गया है। बसें नहीं चल रही हैं। लुधियाना के पास बंद समर्थकों ने ट्रेनों का आवामगन रोक दिया। बाद में करीब दो घंटे के बाद ट्रैक चालू हुआ और ट्रेनों का आवागमन शुरू हुआ। इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने बटाला में रेल ट्रैक जाम कर दिया। प्रदर्शनकारी रेलवे ट्रैक पर धरना देकर बैठ गए। अधिकतर स्‍थानों पर स्‍कूल भी आज बंद रहे।इस बीच कुछ जगहों पर जबरन दुकान बंद कराने को लेकर कुछ जगहों पर दुकानदारों और प्रदर्शनकारियों के बीच विवाद और झड़प हुई। होशियारपुर के मुकेरियां में प्रदर्शनकारियों ने जबरन दुकानें बंद कराने की कोशिश की तो दुकानदारों ने विरोध किया। इस पर दुकानदारों और प्रदर्शनकारियों में झड़प हुई। झड़प में तीन लोगों के घायल होने की सूचना है। पुलिस ने आपस में भिड़ गए लोगों को हवाई फायर कर तितर-बितर किया। इस दौरान तोड़फोड़ की भी खबर है।उधर, नवांशहर में भी प्रदर्शनकारियों द्वारा जबरन दुकानें बंद कराने की कोशिश से विवाद हो गया। दुकानदारों और प्रदर्शनकारियों में भिड़ंत हो गई, लेकिन पुलिस ने आकर माहौल संभाल लिया। पुलिस अ‍धिकारियों ने दोनों पक्षों को शांत किया।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें