भोपाल। नाथू राम गोडसे को लेकर बयानबाजी का दौर थम नहीं रहा है। अब गोडसे को लेकर मध्य प्रदेश के भोपाल सीट से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने बयान दिया है। उन्होंने गोडसे को देशभक्त बताया है। साध्वी प्रज्ञा ने गोडसे पर बयान देते हुए कहा ' गोडसे देशभक्त थे, हैं और हमेशा देशभक्त रहेंगे। जो लोग उन्हें आतंकवादी कह रहे हैं वे पहले अपने अंदर झांक कर देख लें। इन लोगों को इस चुनाव में जवाब मिल जाएगा।
भाजपा ने माफी मांगने को कहा:-हालांकि, इस बयान से भाजपा ने अपना पल्ला झाड़ लिया है। भाजपा प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि साध्वी प्रज्ञा केे बयान से भाजपा सहमत नहीं है और इसकी निंदा करती है। पार्टी उनसे इस मामले पर सफाई मांगेगी और उनसे सार्वजनिक तौर पर इसे लेकर माफी मांगने के लिए कहेगी। गौरतलब है कि भाजपा ने पहले ही साध्वी प्रज्ञा को 19 तक मौन रहने को कहा था। इससे पहले भी वह कई विवादित बयान दे चुकी हैं। इसके बाद पार्टी ने उन्हें मीडिया से अनावश्यक बातचीत न करने और 19 मई के आखिरी चरण के मतदान तक किसी तरह के विवादास्पद बयानबाजी से बचने को कहा था।
कांग्रेस का भाजपा पर हमला:-कांग्रेस ने इसे लेकर भाजपा पर हमला बोला है। कांग्रेस के नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भारत की आत्मा गोडसे के वंशजों से खतरे में है। भाजपा नेता भारत के राष्ट्रपिता के हत्यारे को सच्चा देशभक्त बता रहे हैं और देश के लिए जान देने वाले हेमंत करकरे को देशद्रोही बता रहे हैं।
मोदी और अमित शाह को माफी मांगनी चाहिए: दिग्विजय:-इस बयान को लेकर भोपाल से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह ने भी भाजपा को घेरा है। उन्होंने कहा है कि मोदी जी, अमित शाह जी और राज्य भाजपा को इस लेकर अपने बयान देने चाहिए और देश से माफी मांगनी चाहिए। मैं इस कथन की निंदा करता हूं, नाथूराम गोडसे एक हत्यारा था, उसकी महिमामंडन करना देशभक्ति नहीं है, यह देशद्रोह है।बता दें कि कुछ ही दिन पहले अभिनेता से राजनेता बने कमल हासन द्वारा तमिलनाडु के अरवाकुरिची विधानसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार के दौरान गोडसे पर बयान दिया था। इसके बाद से गोडसे को लेकर तमाम राजनीतिक दल बयान देे रहे हैं। हासन ने इस दौरान कहा था ' मैं महात्मा गांधी की मूर्ति के सामने खड़ा होकर बोल रहा हूं कि स्वतंत्र भारत का पहले आतंकी हिंदू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे था।'इस बयान को लेकर कमल हासन के खिलाफ दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में आपराधिक शिकायत दर्ज कराई गई। कमल हासन पर हिंदू धर्म के साथ आतंकवाद को जोड़कर हिंदुओं की धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया गया है।साध्वी प्रज्ञा के बयान से पहले नाथू राम गोडसे को लेकर एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी भी बयान दे चुके हैं। ओवैसी ने कहा था कि जिसने महत्मा गांधी की हत्या कि उसे हम महात्मा कहें या राक्षस। आतंकी कहें या हत्यारा? कपूर कमीशन की रिपोर्ट में साजिशकर्ता के रूप में जिसकी भूमिका साबित हुई, आप उसे महापुरुष कहेंगे या 'नीच'? हम उसे आतंकवादी कहेंगे।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें