लखनऊ। उत्तर प्रदेश में भाजपा को हराने के लिए गठबंधन बनाने के बाद मायावती के साथ अखिलेश यादव भी बेहद सक्रिय हैं। उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी व राष्ट्रीय लोकदल के गठबंधन के प्रत्याशियों के खिलाफ कल कांग्रेस के सात सीट पर अपने प्रत्याशी न उतारने की घोषणा के बाद मायावती ने आज सुबह तीखी प्रतिक्रिया की तो दोपहर में अखिलेश यादव भड़क गए।मायावती के बाद समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला है। अखिलेश यादव ने साफ कहा कि हमारा गठबंधन काफी मजबूत है। हम भाजपा को हराने के लिए काफी हैं। हमको कांग्रेस की किसी भी मदद की जरूरत नहीं है। उन्होंने ट्वीट किया कि उत्तर प्रदेश में एसपी-बीएसपी और आरएलडी का गठबंधन भाजपा को हराने में सक्षम है।कांग्रेस पार्टी किसी तरह का कन्फ्यूजन न पैदा करे। इससे पहले आज सुबह सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के लिए उत्तर प्रदेश में सात सीटें छोडऩे के कांग्रेस के ऐलान पर बसपा सुप्रीमो मायावती बुरी तरह भड़क गईं। यहां तक कि मायावती ने ट्विटर पर ऐलान कर दिया कि कांग्रेस के साथ यूपी तो क्या देश के किसी भी हिस्से में भी गठबंधन नहीं करेंगी।कांग्रेस मुख्यालय में कल कॉन्फ्रेंस में प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर ने कहा था कि गठबंधन के अमेठी और रायबरेली में प्रत्याशी न उतारने के एवज में कांग्रेस भी सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के लिए सात सीटें छोड़ेगी।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें