नई दिल्‍ली।सर्जिकल स्‍ट्राइक से भारत का स्‍वाभ‍िमान बढ़ाने वाले हीरो रहे संदीप सिंह तंगधार में घुसपैठियों से लोहा लेते हुए शहीद हो गए हैं। तंगधार में आर्मी के जवान घुसपैठियों के खिलाफ कार्रवाई कर रहे थे। उसी वक्‍त दुश्मन की गोली उनको लग गई। दुश्‍मन से लोहा लेते वक्‍त उन्‍होंने तीन आतंकवादियों को मार गिराया था।संदीप सिंह सेना के स्‍पेशल कमांडो बन कर सर्जिकल स्‍ट्राइक का अहम हिस्‍सा रहे थे। बता दें कि सितंबर 2016 में भारत ने पाकिस्‍तान के खिलाफ सर्जिकल स्‍ट्राइक कर दुश्‍मनों के लांच पैड का तबाह कर कई आंत‍की शिविरों को नष्‍ट कर दिया था। इस कार्रवाई में कई आंत‍की जो सीमा पार करने की फिराक में थे वह भी मारे गए थे।भारतीय सेना की इस कार्रवाई से पूरा देश खुश था, वहीं दुश्‍मन हैरान था। संदीप अपनी पीछे एक हंसता-खेलता परिवार छोड़ गए हैं। संदीप को एक पांच साल का बेटा भी है। उनकी पत्‍नी और परिवारजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।2007 में संदीप सेना में भर्ती हुए थे। उनकी ड्यूटी 4 पैरा उधमपुर में थी। घुसपैठ की सूचना पर उन्हें तंगधार भेजा गया था। बता दें कि रविवार को एलओसी पर आतंकियों ने घुसपैठ की जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। इसी मुठभेड़ में संदीप सिंह घायल हो गए और श्रीनगर के 92 बेस अस्पताल में उन्होंने दम तोड़ दिया।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें