खेल

खेल (4438)

एलूर। भारतीय टीम के तेज़ गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार ने फिट होने के बाद मैदान पर शानदार वापसी की। भुवी ने इंडिया ए की तरफ से द. अफ्रीका ए के खिलाफ मैच खेलते हुए बेहतरीन गेंदबाज़ी का प्रदर्शन किया। इस मैच में भुवी ने 9 ओवर गेंदबाज़ी की।
इंडिया ए ने बनाए 275 रन:-इंडिया ए और द. अफ्रीका ए के खिलाफ खेले गए इस मैच में मेहमान ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का फैसला किया। श्रेयस अय्यर की कप्तानी में बल्लेबाज़ी करने उतरी इंडिया ए ने पहली बल्लेबाज़ी करते हुए 50 ओवर में 7 विकेट खोकर 275 रन बनाए। इंडिया ए की ओर से कप्तान श्रेयस अय्यर और अंबाती रायुडू ने अर्धशतक जमाए। अय्यर ने 67 रन बनाए तो रायुडू 66 रन बनाकर आउट हुए। द. अफ्रीका ए की ओर से हेंडरिक्स ने दो विकेट चटकाए।
भुवी का तूफान:-276 रन की चुनौती की पीछा करने उतरी द. अफ्रीका ए की टीम की शुरुआत खराब रही। 13 रन के स्कोर पर ही उसे पहला झटका लग गया। इसके बाद चोट के बाद मैदान पर वापसी कर रहे भुवनेश्वर कुमार ने अपनी धार और रफ्तार का जलवा दिखाया। भुवी ने 16 रन के स्कोर पर द.अफ्रीका ए को दूसरा झटका दिया और 22 रन के स्कोर पर तीसरा। इसके बाद द. अफ्रीका की पारी ताश के पत्तों की तरह बिखर गई और 37.1 ओवर में 151 रन पर ढेर हो गई। भुवी की इस बेहतरीन गेंदबाज़ी की बदौलत ही इंडिया ए ने ये मैच 124 रन से जीत लिया। भुवी ने इस मैच में 9 ओवर में 33 रन दिए देकर तीन विकेट चटकाए। इस दौरान उन्होंने एक ओवर मेडन भी फेंका।
भुवी ने इन बल्लेबाज़ों का किया शिकार:-इस मैच में भुवनेश्वर ने तीन विकेट लिए। उन्होंने सबसे पहले डी ब्रूनेय को (02) को संजू सैमसन के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद भुवी ने द. अफ्रीका के कप्तान खाया जोंड़ो (02) को एलबीडब्ल्यू आउट कर विरोधी टी म को संभलने का मौका ही नहीं दिया। भुवी ने अपना तीसरा शिकार सिसांडा मगाला (06) को बनाया। इन्हें भी भुवी ने एलबीडब्ल्यू आउट किया।

साउथैंप्टन। भारत के तेज गेंदबाज मुहम्मद शमी के लिए यह साल काफी खराब रहा है। उनका निजी जीवन इतना खराब गया कि उनका क्रिकेट जीवन भी इससे प्रभावित होने लगा। भारत के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच से पहले मंगलवार को प्रेस वार्ता में टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मुहम्मद शमी ने कहा कि पिछले आठ महीने मेरे लिए काफी कठिन रहे। यह काफी तनावपूर्ण था। मैं काफी परेशान था, लेकिन मैंने तय किया कि देश पहले है। मैंने उस पर काम किया और हर उस जगह को छोड़ दिया जो मुझे परेशान कर रही थी। मैं संघर्ष कर रहा था और मुङो लग रहा था कि देश हार जाएगा।
'बेहतरीन है हमारा गेंदबाज़ी आक्रामण':-निजी जीवन के अलावा उन्होंने क्रिकेट पर भी बात की। जब उनसे भारत के गेंदबाजी आक्रमण पर बात की तो उन्होंने कहा कि जब आप इस तरह की इकाई देखते हैं तो आपको अच्छा लगता है। बहुत समय बाद देश के पास इस तरह का तेज आक्रमण है। विपक्षी टीम के हर खिलाड़ी के खिलाफ अच्छा करने वाले गेंदबाज हमारे पास हैं और यह अच्छी बात है। अगर एजेस बाउल स्टेडियम पिच की बात करें तो इसमें हमारी जिम्मेदारी बढ़ जाती है। हमने पिछली सीरीज में भी यह किया है। यह अच्छा है कि हम एक-एक मैच को देखकर चल रहे हैं।
तेज़ी के साथ लाइन-लैंथ भी है जरुरी:-इन परिस्थितियों तेजी को लेकर उन्होंने कहा कि गति हर स्थिति में फर्क डालती है। तेजी के साथ गेंदबाजी महत्वपूर्ण होती है लेकिन लाइन-लेंथ जरूरी है। हमारे पास तेज गेंदबाज हैं जो लाइन-लेंथ से भी गेंदबाजी करते हैं। तेज गेंदबाज बनने पर उन्होंने कहा कि जब मैं छोटा था तो मैंने पहले बल्ला पकड़ा, लेकिन मेरे लिए बल्लेबाजी ही सब कुछ नहीं थी। अब हमारे देश में सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजी आक्रमण है और ये युवाओं को प्रभावित करता है। मेरे परिवार में था कि मुङो तेज गेंदबाज बनना है और अब जब मैं बड़ा हुआ तो उसमें सुधार होता गया। अब हम ऐसी स्थिति में हैं कि लोग हमसे बात कर सकते हैं

साउथैंप्टन। 30 अगस्त (गुरुवार) से भारत और इंग्लैंड के बीच चौथा टेस्ट मैच खेला जाना है, लेकिन इस टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड की टीम मुश्किलों में घिर गई है। टीम इंडिया के लिए ये अच्छे संकेत है, क्योंकि भारत के पास ये अच्छा मौका है सीरीज़ को 2-2 से बराबर करने का।
चोट के बावजूद खेलना चाहते हैं बेयरस्टो:-इंग्लिश टीम की मुश्किलें उसके चोटिल खिलाड़ी बढ़ा रहा हैं। नॉटिंघम टेस्ट में इंग्लिश विकेटकीपर बल्लेबाज़ जॉनी बेयरस्टो की अंगुली में फ्रैक्चर हो गया था। बेयरस्टो बल्लेबाजी के लिए फिट हैं, लेकिन विकेटकीपिंग करने में अभी सक्षम नहीं हैं। बेयरस्टो ने कहा कि वह बायें हाथ की अंगुली चोटिल होने के बावजूद भारत के खिलाफ साउथैंप्टन में चौथे टेस्ट मैच में खेलना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि वह विशेषज्ञ बल्लेबाज के तौर पर खेलने के लिए फिट हो गए हैं, लेकिन वह विकेटकीपिंग भी करना चाहते हैं। बेयरस्टो ने कहा कि मेरी अंगुली अब ठीक है। निश्चित तौर पर हमें इसकी असली स्थिति बाद में पता चलेगी, लेकिन अब सूजन नहीं है और यह बेहतर स्थिति में है। कुछ दिन पहले मैं अपनी जेब में हाथ नहीं डाल पा रहा था, लेकिन अब यह पूरी तरह से ठीक है।
वोक्स की फिटनेस बनी समस्या:-ऑलराउंडर क्रिस वोक्स की फिटनेस इंग्लैंड टीम के लिए नई समस्या बनकर उभरी है। लॉर्डस में हुए दूसरे टेस्ट में मैन ऑफ द मैच रहे वोक्स फिट नहीं थे और इस कारण उन्होंने मंगलवार को अभ्यास नहीं किया था। इंग्लैंड टीम प्रबंधन उनको लेकर सतर्क है।
स्टोक्स को भी है दर्द:-इसके अलावा बेन स्टोक्स के घुटने में भी दर्द है, लेकिन मंगलवार के अभ्यास में उन्होंने पूरी तरह भाग लिया। आदिल राशिद और मोइन अली स्पिन गेंदबाजी करते नजर आए। कुछ लोगों का कहना है कि इस मैच में मोइन अली को शामिल किया जाना चाहिए।

साउथैंप्टन। अगर मंगलवार की बात की जाए तो एजेस बाउल स्टेडियम में टीम इंडिया ने शत-प्रतिशत इंग्लिश परिस्थितियों में अभ्यास किया। मैच की मुख्य पिच पर हल्की घास है और यह बिलकुल जीवंत नजर आ रही है। आसमान में बादल हैं जो तेज गेंदबाजों की मदद करेंगे। अगर मैच से पहले पिच से घास नहीं निकाली गई तो एक बार फिर तेज गेंदबाजों और बल्लेबाजों के बीच जंग देखने को मिल सकती है।
अपने मजबूत पक्ष पर खेलेगा इंग्लैंड:-पांच मैचों की सीरीज के शुरुआती दो मैच जीतने के बाद ट्रेंट ब्रिज में मिली हार ने इंग्लैंड को अपनी रणनीति पर दोबारा सोचने को मजबूर कर दिया है और एक बार फिर टीम अपनी मजबूती यानी तेज गेंदबाजी के लिए उपयुक्त कंडीशन के साथ मेहमानों पर प्रहार करना चाहेगी। यहां की पिच उसी तरफ इशारा कर रही है। भारतीय बल्लेबाजों ने तीसरे टेस्ट में शानदार प्रदर्शन किया था और टीम प्रबंधन चाहेगा कि गुरुवार से शुरू होने वाले चौथे टेस्ट में भी वे ऐसा ही करें।इस मैच के लिए इस्तेमाल होने वाली पिच भले ही जीवंत नजर आ रही हो, लेकिन इस मैदान को सबसे ज्यादा रन बनने वाले इंग्लैंड के घरेलू मैदान के तौर पर जाना जाता है। यहां प्रति विकेट रन औसत 34.10 है जो इंग्लैंड में सबसे ज्यादा है। यहां पर तेज गेंदबाजों ने इस सत्र के छह घरेलू मैचों में 30.97 के औसत से 122 विकेट लिए हैं, जबकि स्पिनरों को 33.86 के औसत से 23 विकेट मिले हैं।
भारतीय टीम में बदलाव की गुंजाइश नहीं:-जैसा हमने पहले बताया था, टीम इंडिया के यहां पहले अभ्यास को देखने के बाद वैसा ही होते हुए दिखाई दे रहा है। टीम इंडिया ने जिस तरह बल्लेबाजी और गेंदबाजी का अभ्यास किया उससे लगता है कि यह विराट कोहली की कप्तानी में पहला मौका होगा जब टीम इंडिया अपने पिछले एकादश को बरकरार रखते हुए अगले मैच में उतरेगी। मालूम हो कि विराट ने अपनी कप्तानी में लगातार 38 टेस्ट में अलग-अलग टीम उतारी है, लेकिन ट्रेंट ब्रिज की जीत के बाद उन्हें यहां के लिए बेहतर संयोजन मिल गया है। टीम इंडिया पांच मैचों की सीरीज में 1-2 से पीछे चल रही है, लेकिन तीसरा टेस्ट जीतने के बाद वह लंदन पहुंच गई थी और वहीं आराम कर रही थी।
अभ्यास ने दिए संकेत:-भारतीय टीम की तरफ से बल्लेबाजी का अभ्यास सबसे पहले ओपनर केएल राहुल और शिखर धवन ने किया। इसके बाद चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे ने नेट अभ्यास किया। साथ में रिषभ पंत और हार्दिक पांड्या ने भी बल्ले पर काफी देर तक हाथ आजमाया। नॉटिंघम टेस्ट में कूल्हे की चोट से परेशान रविचंद्रन अश्विन अधिकतर समय गेंदबाजी नहीं कर पाए थे। उन्होंने भी जमकर बल्लेबाजी की और बाद में गेंदबाजी भी की। इससे लग रहा है कि वह फिट हैं और अगले मैच में खेलेंगे।जब टीम प्रबंधन से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि आपने उन्हें अभ्यास करते देखा है। उन्हें कोई दिक्कत नहीं नजर आ रही थी। वह लगातार बेहतर हो रहे हैं। एक चीज और है कि अगर अश्विन की समस्या ज्यादा बड़ी होती और उनके खेलने में शंका होती तो फिर कुलदीप यादव को बैकअप के तौर पर रखा जाता, लेकिन टीम प्रबंधन और चयनकर्ताओं ने तीन मैचों के बाद उन्हें वापस भारत भेजने का फैसला किया। इसका मतलब साफ है कि टीम इंडिया को अगले दो मैचों में सिर्फ एक स्पिनर खिलाना है और उसमें भी पहला विकल्प अश्विन होंगे। अगर किसी वजह से अश्विन नहीं खेल पाते तो दूसरा विकल्प रवींद्र जडेजा होंगे।
शॉ और विहारी को करना होगा इंतजार;-टीम को पहले मंगलवार से ही अभ्यास करना था, लेकिन मुरली विजय और कुलदीप यादव की जगह हनुमा विहारी व पृथ्वी शॉ के देर से जुड़ने के कारण टीम इंडिया ने बुधवार से अभ्यास शुरू करना बेहतर समझा। हालांकि इन दोनों ही नए खिलाड़ियों को इस मैच में मौका नहीं दिया जाएगा, लेकिन ये भविष्य के लिए अच्छा अनुभव प्राप्त कर सकते हैं।

 

नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही टेस्ट सीरीज़ में टीम इंडिया के कप्तान कोहली का बल्ला रनों की बरसात कर रहा है। इस टेस्ट सीरीज़ में उनके बल्ले से दो शतकों के साथ-साथ दो अर्धशतक भी निकले हैं। 30 अगस्त से साउथैंप्टन में होने वाले चौथे टेस्ट मैच में कोहली के पास दो-दो खास उपलब्धियां हासिल करने का शानदार मौका है।
द्रविड़ के रिकॉर्ड पर कोहली की नज़र:-विराट कोहली मौजूदा टेस्ट सीरीज़ के तीन मैचों में 440 रन बना चुके हैं। वे इंग्लैंड में एक सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले कप्तान बन चुके हैं और अब उनकी निगाहें राहुल द्रविड़ के रिकॉर्ड पर टिकी रहेंगी। इंग्लैंड में एक टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने का भारतीय रिकॉर्ड द्रविड़ के नाम दर्ज है। उन्होंने 2002 में 4 टेस्ट मैचों की सीरीज में 602 रन बनाए थे। द्रविड़ ने इस सीरीज के दौरान एक दोहरा शतक (217) और दो शतक (148 और 115) भी ठोके थे। ऐसे में कोहली के पास ये बेहतरीन मौका है राहुल द्रविड़ के रिकॉर्ड को तोड़ने का।विराट 5 टेस्ट मैचों की सीरीज के 3 मैचों में 440 रन बना चुके हैं। उन्हें यह रिकॉर्ड तोड़ने के लिए अभी 163 रन और बनाने होंगे। उन्होंने इस सीरीज के दौरान दो शतक (149 और 103) और दो फिफ्टी (97 व 51 रन) भी लगाई है। वे अभी जैसा प्रदर्शन कर रहे है उसे देखते हुए उनके इस रिकॉर्ड को तोड़ने की प्रबल संभावना है।
6 रन से बनेंगे 6 हज़ारी:-साउथैंप्टन टेस्ट में विराट कोहली छह रन बनाते ही सफेद कपड़ों की क्रिकेट में अपने छह हज़ार रन भी पूरे कर लेंगे। कोहली ने अभी तक 69 टेस्ट मैचों में 54.49 की औसत से 5994 रन बनाए हैं। उन्हें 6000 रन पूरे करने के लिए 6 रन चाहिए। टेस्ट क्रिकेट में 6000 रन पूरे करते ही वो ऐसा करने वाले 10वें भारतीय बल्लेबाज़ बन जाएंगे।कोहली से पहले ये कमाल नौ भारतीय खिलाडी कर चुके हैं। जिन भारतीय बल्लेबाज़ों ने ये उपलब्धि हासिल की है उनमें सचिन तेंदुलकर (15921 रन), राहुल द्रविड़ (13625), सुनील गावस्कर (10122), वीवीएस लक्ष्मण (8781), वीरेंद्र सहवाग (8503), सौरव गांगुली (7212), दिलीप वेंगसरकर (6868), मो. अजहरुद्दीन (6215) और गुंडप्पा विश्वनाथ (6080) शामिल हैं।

बेंगलुरु। भारतीय तेज़ गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार फिट हो गए हैं। बीसीसीआइ ने सोमवार को भुवी को फिट घोषित करते हुए कहा कि वह चतुष्कोणीय सीरीज में इंडिया-ए टीम का हिस्सा होंगे।भुवी को इंग्लैंड में तीसरे वनडे के दौरान कमर में चोट लग गई थी। इसके बाद वह इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की सीरीज से बाहर हो गए थे और बेंगलुरु स्थित राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में फिटनेस पाने के लिए ट्रेनिंग ले रहे थे। भुवी 29 अगस्त को श्रेयस अय्यर की कप्तानी वाली इंडिया-ए टीम से दक्षिण अफ्रीका-ए के खिलाफ मैच खेलेंगे। इंडिया-ए पहले ही इस सीरीज से बाहर हो चुकी है।

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) की जूनियर चयन समिति ने अगले माह बांग्लादेश में होने वाले एशिया कप के लिए मंगलवार को 15 सदस्यीय अंडर-19 टीम की घोषणा कर दी। बांग्लादेश की राजधानी ढाका में 29 सितंबर से शुरू होने वाले एशिया कप के लिए जूनियर चयन समिति ने यहां अपनी बैठक में टीम का चयन किया।पवन शाह को इस टूर्नामेंट के लिए टीम का कप्तान बनाया गया…
नई दिल्ली। टेस्ट क्रिकेट में तेज गेंदबाज के रूप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ग्लेन मैक्ग्रा का मानना है कि अगर जेम्स एंडरसन ने विकेटों के मामले उन्हें पछाड़ दिया तो इसके बाद इंग्लिश तेज गेंदबाज को कोई भी पीछे नहीं छोड़ सकेगा।एंडरसन को चाहिए 7 और विकेट;-36 साल के जेम्स एंडरसन अपने टेस्ट करियर में 557 विकेट हासिल कर चुके हैं। 2007 में संन्यास लेने वाले…
नई दिल्ली। ट्रेंट ब्रिज टेस्ट में भारत ने मौजूदा सीरीज़ की पहली जीत हासिल की। इंग्लैंड में बतौर भारतीय कप्तान विराट कोहली की भी ये पहला जीत रही। टीम इंडिया के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज़ रिषभ पंत का ये डेब्यू टेस्ट मैच रहा। पंत ने इस टेस्ट की पहली पारी में 24 रन बनाए थे। स्टुअर्ट ब्रॉड ने उनका विकेट चटकाया था। ब्रॉड ने उन्हें बोल्ड कर दिया था। पंत जब…
नई दिल्ली। 110 साल पहले आज ही के दिन क्रिकेट के डॉन कहे जाने वाले सर डॉन बैडमैन का जन्म हुआ था। बैडमैन का जन्म 27 अगस्त 1908 को ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स में हुआ था और उनका निधन 25 फरवरी 2001 को हुआ था। ब्रैडमैन ने टेस्ट क्रिकेट इतिहास में कई ऐसे रिकॉर्ड बनाए हैं जिन्हें तोड़ पाना नाममुकिन सा लगता है। उन्होंने अपने टेस्ट करियर में करीब…
Page 8 of 317

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें