खेल

खेल (4590)

कराची:-पाकिस्तानी टेस्ट टीम के लंबे समय से कप्तान मिस्बाह उल हक के इंग्लैंड के चुनौतीपूर्ण दौरे से पहले शुक्रवार को अपने भविष्य पर फैसला करने की उम्मीद है।42 वर्षीय मिस्बाह को पिछले साल पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने से रोक दिया था और वह इंग्लैंड दौरे पर टीम की अगुवाई करेंगे। पीसीबी के एक अधिकारी ने कहा कि कप्तान मिस्बाह इंग्लैंड रवाना होने से पहले अपने भविष्य की योजना स्पष्ट करना चाहते हैं।उन्होंने कहा, 'मिस्बाह मीडिया में अधिकारिक रूप से इसकी घोषणा करेंगे या फिर शुक्रवार तक बोर्ड को इसके बारे में बता देंगे कि वह कब तक इंटरनेशनल क्रिकेट खेलना जारी रखना चाहते हैं।'

नई दिल्ली:-टीम इंडिया के कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धौनी इन दिनों जिम्बाब्वे दौरे पर हैं। वनडे सीरीज बुधवार को 3-0 से जीतने के बाद धौनी थोड़े मस्ती-मजाक के मूड में नजर आए। क्रिकेट को छोड़कर धौनी पुलिस की बाइक चलाते हुए नजर आए।बीसीसीआई ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से इस फोटो को शेयर किया है। मोटरबाइक के शौकीन धौनी पुलिस की कावासाकी बाइक पर नजर आए। बीसीसीआई ने इस फोटो को शेयर करते हुए लिखा, 'जिम्बाब्वे को नया पुलिस वाला मिल गया है।'

नई दिल्ली:-पाकिस्तान की महिला क्रिकेट टीम में एक तेज गेंदबाज है डायना बेग। इसकी उम्र महज 20 साल है लेकिन इसने एक ऐसा मुकाम हासिल किया है जो पाकिस्तान जैसे मुल्क में रहकर करना काफी मुश्किल है। पाकिस्तान में महिलाओं के लिए खेल में अपना करियर बनाना आसान नहीं है लेकिन बेग ने दो-दो खेलों में पाकिस्तान की नेशनल टीम में जगह बनाई है।डायना बेग क्रिकेट में तेज गेंदबाजी करती हैं तो फुटबॉल टीम की डिफेंस लाइन का भी हिस्सा हैं। नॉर्थ पाकिस्तान के प्रोविंस ऑफ गिलगिट-बल्तिस्तान से आई इस खिलाड़ी ने सबको चौंका कर रख दिया। पाकिस्तान की ओर से टी-20 वर्ल्ड कप 2015 और 2016 दोनों में इसका नाम टीम में शामिल था। 2015 में इसने एक मैच भी खेला।बेग ने अभी तक दो इंटरनेशनल मैच खेले हैं जिसमें एक टी-20 और एक वनडे शामिल है। बेग का फेवरेट खेल क्रिकेट है लेकिन उन्हें फुटबॉल से भी खासा लगाव है। क्रिकेट कंट्री को दिए इंटरव्यू में उन्होंने बताया, 'इस्लामाबाद के लिए क्रिकेट खेलते हुए मैंने फुटबॉल में भी अपनी किस्मत आजमाई। मुझे खुद यकीन नहीं हुआ कि मैंने टीम में जगह बना ली है। 2014 में SAFF के लिए मुझे टीम में शामिल किया गया।'दोनों खेल के बीच बैलेंस को लेकर बेग ने बताया, 'मैं फुटबॉल के साथ दिन शुरू करती हूं। मैं सुबह फुटबॉल खेलती हूं और उसके बाद दोपहर 12 बजे से हमारी क्रिकेट ट्रेनिंग शुरू होती है। क्रिकेट ट्रेनिंग शाम को 3 से 4 बजे तक चलती है।' इतना ही नहीं बेग अपनी पढ़ाई पर भी ध्यान देती हैं।

सेंट कीट्स:-ओपनर हाशिम अमला (110) की शानदार सेंचुरी के बाद स्टार लेग स्पिनर इमरान ताहिर (45 रन पर सात विकेट) की भयंकर गेंदबाजी के दम पर दक्षिण अफ्रीका ने ट्राई सीरीज के मुकाबले में वेस्टइंडीज को 139 रन के बड़े अंतर से हराया।टॉस जीतकर मेजबान टीम ने दक्षिण अफ्रीका को पहले बल्लेबाजी करने का न्योता दिया। वेस्टइंडीज का यह फैसला तब गलत साबित हुआ जब मेहमान टीम के दोनों ओपनरों ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए पहले विकेट के लिये 33.1 ओवर में 182 रन जोड़ डाले। अमला ने वनडे में अपना 23वीं सेंचुरी जड़ते हुए 110 रन और क्विंटन डि कॉक ने 71 रन बनाए।185 रन पर दोनों ओपनरों के पवेलियन लौटने के बाद फिर क्रिस मॉरिस (40) और फैफ डु प्लेसी (नॉटआउट 73) ने तीसरे विकेट के लिये 6.2 ओवर में 60 रन जोड़कर टीम का रनरेट बनाए रखा। मॉरिस जब आउट हुए टीम का स्कोर 245 हो चुका था। इसके बाद एबी डिविलियर्स (27) ने डु प्लेसी और जेपी डुमिनी (नॉटआउट 10) के साथ अहम साझेदारी निभाते हुए टीम को निर्धारित 50 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 343 रन के बड़े स्कोर तक पहुंचाया।लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेजबान टीम की शुरुआत हालांकि ठीक रही और उसके ओपनर बल्लेबाजों आंद्रे फ्लेचर (21) और जॉनसन चार्ल्स (49) ने पहले विकेट के लिये नौ ओवर में 69 रन जोड़ दिए। लेकिन इसके बाद ताहिर की अगुवाई में दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों ने नियमित अंतराल पर विकेट निकालते हुए वेस्टइंडीज को 38 ओवर में 204 रन पर ही समेट दिया और मैच 139 रनों के बड़े अंतर से अपने नाम कर लिया।वेस्टइंडीज को मैच में बने रहने के लिए एक बड़ी साझेदारी की जरूरत थी लेकिन मेजबान टीम की तरफ से सबसे बड़ी साझेदारी पहले विकेट के लिये 69 रन की ही हुई। ताहिर ने रिकॉर्ड प्रदर्शन करते हुए मैच में सात विकेट हासिल किए और वनडे मैचों में ऐसा करने वाले वह दक्षिण अफ्रीका के पहले खिलाड़ी बने। ताहिर के अलावा तबरेज शम्सी ने 41 रन पर दो और वेन पर्नेल ने 43 रन पर एक विकेट लिया।

हरारे:-भारत के फॉर्म में चल रहे तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने कहा कि वह बल्लेबाजों का दिमाग पढ़ने के बजाय अपनी रणनीति पर ज्यादा ध्यान लगाते हैं।भारत के वनडे सीरीज में जिम्बाब्वे को 3-0 से वाइटवाश करने के बाद बुमराह ने कहा, 'इंटरनेशनल क्रिकेट, इंटरनेशनल क्रिकेट ही है, भले ही यह जिम्बाब्वे या किसी अन्य टीम के खिलाफ हो। हमारे लिए आने वाले दिन अच्छे होंगे, हम परिणाम हासिल कर रहे हैं। हम सुधार करने पर ध्यान लगा रहे हैं।'बुमराह ने सीरीज में दो बार चार विकेट सहित नौ विकेट झटके जिससे वह सबसे ज्यादा विकेट चटकाने वाले गेंदबाज रहे। उन्होंने कहा, 'मैं यही करने की कोशिश करता हूं, कभी कभार यह कारगर नहीं होता। लेकिन मैं बल्लेबाजों के दिमाग के बारे में ज्यादा सोचने के बजाय इसे दोबारा आजमाने की कोशिश करता हूं। अगर मैं अपनी योजना अच्छी तरह नहीं कार्यान्वित नहीं कर पाता तो मुझे लगता है कि मुझमें कोई कमी रह गयी और मैंने कुछ गलती की है। फिर मैं शांत दिमाग से फिर से दोबारा प्रयास करता हूं।'

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

नई दिल्ली:-भारतीय क्रिकेट टीम के फिटनेस कोच शंकर बासु ने टेस्ट कप्तान विराट कोहली की प्रशंसा करते हुए कहा है कि वह बेहद पेशेवर होने के साथ दुनिया के बेहतरीन एथलीट भी हैं।टीम इंडिया और आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के फिटनेस कोच शंकर की मानें तो विराट टीम के सबसे फिट खिलाड़ी हैं और उनका लक्ष्य सर्वश्रेष्ठ बनने का है जिसके लिए वह काफी मेहनत करते हैं। उन्होंने बीसीसीआई टीवी से कहा विराट दुनिया के सर्वश्रेष्ठ एथलीट बनना चाहते हैं और उनके लिए कोई सीमाएं नहीं है। उनके सामने कई आदर्श हैं और वह प्रतिस्पर्धा से कभी नहीं डरते हैं।विराट के साथ राष्ट्रीय टीम के अलावा आईपीएल टीम बेंगलोर में काम कर चुके बासु ने कहा कई एथलीट कोच को सफलता का श्रेय देते हैं लेकिन मैं कहूंगा कि विराट जैसे असाधारण एथलीट को पाकर मैं बहुत गर्व महसूस करता हूं। मैं आईपीएल के जरिये विराट से पिछले आठ वर्ष से जुड़ा रहा हूं।फिटनेस कोच ने कहा कि विराट यदि आपके काम से खुश हैं तो आपको कभी चुनौती नहीं देंगे। वह उन एथलीटों में हैं जो किसी भी हद तक मेहनत करने के लिए तैयार हैं। वह अपने न्यूट्रिशन और अनुशासन के मामले में बहुत अच्छे हैं। उन्होंने अपने जीवन में काफी बदलाव किये हैं। मैं केवल उन्हें मदद कर रहा हूं। मैंने उन्हें केवल सही दिशा में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया है।टीम इंडिया के फिटनेस कोच ने कहा कि विराट अपनी जीवनशैली में भी काफी बदलाव किये हैं। उनकी जितनी प्रशंसा की जाये, उतनी कम है। मैं तो एक उपकरण मात्र हूं। मैंने उन्हें मात्र एक दिशा देने का काम किया लेकिन इसके लिए मैं उनके पूर्व फिटनेस कोचों को धन्यवाद देना चाहूंगा।बासु ने कहा कि जब मैं भारतीय टीम में पूर्णकालिक रूप से शामिल हुआ, मुझे प्रतिदिन उनके साथ अधिक समय बिताने का मौका मिला। यह बिल्कुल इस तरह कहा जा सकता है कि 90 प्रतिशत से अधिक काम तो विराट ने किया, मैंने तो सिर्फ अंतिम रूप देने का काम किया। विराट ने खुद अपनी बॉडी में बदलाव के बारे में जिक्र किया था, जब उन्होंने गत वर्ष के श्रीलंका दौरे के बाद से एक्सरसाइज के दौरान ज्यादा वजन उठाना शुरू किया था।फिटनेस कोच ने विराट के इस आईपीएल सत्र के बारे में कहा, विराट ने अपने खेल के बारे में एक बार कहा था कि वह दूसरे क्रिकेटरों की तरह छक्के नहीं लगा सकते हैं। आप इस आईपीएल सत्र को देखें, उन्होंने 38 छक्के लगाये हैं जो उनके पिछले सत्र के मुकाबले 15 अधिक हैं। इससे पता चलता है कि उनमें कितनी ताकत है। जब वह रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर टीम के साथ जुड़े थे, तब भी वह अपनी फिटनेस पर काफी काम कर रहे थे।उन्होंने कहा, गत सितंबर में हमने विराट के 'मसल मास' पर काम करना शुरू किया और सत्र के अंत में हमें यह देखना था कि क्या बदलाव आया। हमने पाया कि उनके 'मसल मास' में काफी वृद्धि हुयी। पिछले छह महीनों से विराट अपनी ताकत, मास और ऊर्जा पर काफी काम कर रहे हैं।युवा क्रिकेटरों के बारे में बासु ने कहा, आज के जमाने में युवा क्रिकेटर फॉलो अप पर काफी मेहनत करते हैं। एक समय में क्रिकेटर कुछ शरारती होते थे, लेकिन सभी ऐसे नहीं होते। मुझे नहीं लगता कि मेरी तरफ से काफी मेहनत की जाती है क्योंकि ज्यादा क्रिकेटर जब कैंप छोड़ते हैं तो वे फॉलो अप के बारे में बात करते हैं। इसका सारा श्रेय भारतीय क्रिकेटरों को जाता है क्योंकि जो 'भूख' मैंने भारतीय क्रिकेटरों में देखी है, वह अविश्वसनीय है।

चंडीगढ़: बाॅलीवुड अभिनेत्री अनुष्‍का शर्मा और क्रिकेटर विराट कोहली के बीच प्‍यार काफी बढ़ गया है। आजकल उन्हें एक दूसरे से दूरी बर्दाश्‍त नही हो रही है। इसीलिए तो जहां अनुष्‍का अपनी फिल्‍म की शूटिंग के लिए जाती है वहीं उनको लवर विराट भी पहुंच जाते हैं। बता दें कि अनुष्‍का अपनी फिल्‍म की श्‍ूाटिंग चंडीगढ़ में दिलजीत दोसाझ के साथ कर रही थी, वहीं पर विराट कोहली भी आ…
नई दिल्ली:-क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर पश्चिम बंगाल के मिदनापुर के एक स्कूल के बच्चों के लिए सच में भगवान ही साबित हुए हैं। इस स्कूल ने भवन निर्माण के लिए सचिन से पत्र लिखकर मदद मांगी थी जिसके बाद सचिन ने स्कूल को अपनी सांसद निधि से 76 लाख रुपए की मदद दी है।बता दें कि ये स्कूल करीब 51 साल पुराना है जो अब पूरी…
हरारे:-जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम ने हरारे स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर जारी तीन वनडे मैचों की सीरीज के अंतिम मैच में बुधवार को भारत के सामने 124 रनों का लक्ष्य रखा है।भारत की तरफ से लोकेश राहुल (6) और फैज फजल (6) खेल रहे हैं। खबर लिखने तक भारत ने 5.2 ओवर में बिना नुकसान के 15 रन बना लिए थे।टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी जिम्बाब्वे की टीम 42.2 ओवरों में…
मुंबई:-क्रिकेट बोर्ड की कार्यसमिति की बैठक 24 जून को धर्मशाला में होगी जिसमें भारतीय टीम के मुख्य कोच की नियुक्ति समेत कई मसलों पर बात होगी।बीसीसीआई सूत्रों ने कहा कि बैठक का आम एजेंडा है लेकिन यह तय है कि बोर्ड की पेनल वेस्टइंडीज दौरे से एक पखवाड़े पहले नए कोच का चयन करेगी।बोर्ड ने अपनी वेबसाइट पर मुख्य कोच के पद के लिए आवेदन मंगवाये थे और पूर्व कप्तान…

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें