खेल

खेल (4566)


नई दिल्ली - श्रीलंका के पूर्व कप्तान सनथ जयसूर्या पर आइसीसी भ्रष्टाचार विरोधी संहिता के तहत आरोप लगाया गया है। इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल ने उन्हें 14 दिन के अंदर जवाब देने को कहा है। इस संबंध में आइसीसी ने एक प्रेस रिलीज़ जारी की है। उसमे बताया कि जयसूर्या पर ये आरोप एंटी-करप्‍शन यूनिट को सहयोग ना करने और जांच में रूकावट डालने की वजह से लगाया गया है।
आइसीसी ने कहा है कि जयसूर्या ने उसके दो नियमों का उल्लंघन किया है। आइसीसी ने उन पर अनुच्छेद 2.4.6 और 2.4.7 के उल्लंघन के आरोप लगाए हैं।
श्रीलंका की चयनसमिति के पूर्व चैयरनमैन पर 2.4.6 के तहत आरोप है कि उन्होंने एसीयू की जांच में सहयोग नहीं किया। जबकि 2.4.7 के तहत उन पर एसीयू की जांच को बाधित तथा जांच में देरी करने के आरोप लगाए हैं।
श्रीलंका को 1996 वर्ल्‍ड कप दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले सनथ जयसूर्या ने 110 टेस्‍ट में 6973 रन बनाए, जबकि 445 वनडे में उनके नाम 13430 रन दर्ज हैं। श्री लंका के लिए उन्होंने 31 टी-20 मैच खेले, जिसमें 629 रन बनाए। बतौर गेंदबाज उनके नाम 98 टेस्‍ट, 323 वनडे और 19 टी-20 विकेट हैं।


मुंबई - मुंबई की मजबूत टीम को विजय हजारे एकदिवसीय टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पृथ्वी शॉ और अजिंक्य रहाणे का साथ मिलेगा जो वेस्टइंडीज के साथ टेस्ट श्रृंखला खत्म होने के बाद राज्य टीम से जुड़ेंगे।
सेमीफाइनल में मुंबई के लिए इन दोनों खिलाड़ियों के अलावा सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा भी खेलेंगे जो क्वार्टर फाइनल में बिहार के खिलाफ मैच में खेले थे। जिसमें टीम ने नौ विकेट से जीत दर्ज की थी।
मुंबई के कोच और भारतीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज अजित अगरकर ने भी पुष्ठि की कि राष्ट्रीय टीम से जुड़े तीनों खिलाड़ी राज्य की टीम के लिए खेलेंगे।
शॉ ने टूर्नामेंट का शुरूआती दौर खेला था लेकिन फिर उनका चयन टेस्ट टीम में हो गया। जहां पदार्पण करते हुए उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया और मैन ऑफ द सीरीज रहे। विजय हजारे टूर्नामेंट के सेमीफाइनल 17 और 18 अक्टूबर को खेला जाएगा।


भारत युवा ओलंपिक खेलों की हॉकी फाइव प्रतियोगिता में अपने अभियान का शानदार अंत करने में नाकाम रहा और उसे पुरूष और महिला दोनों वर्गों के फाइनल में हारने के कारण रजत पदक से संतोष करना पड़ा। भारतीय पुरूष टीम को रविवार को खेले गए फाइनल में मलेशिया से 2-4 से जबकि महिला टीम को मेजबान अर्जेंटीना के हाथों 1-3 से हार का सामना करना पड़ा। मलेशिया की पुरूष और अर्जेंटीना की महिला टीमों ने पहली बार स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचा।
अर्जेंटीना की पुरूष टीम और चीन की महिला टीम ने कांस्य पदक जीते। अर्जेंटीना की पुरूष टीम ने तीसरे स्थान के लिए खेले गए मैच में जांबिया को 4-0 से जबकि चीन की महिला टीम ने दक्षिण अफ्रीका को 6-0 से हराया। पुरूष वर्ग के स्वर्ण पदक के मैच में भारत ने विवेक सागर प्रसाद के गोल से दूसरे मिनट में ही बढ़त हासिल कर ली थी। मलेशिया ने हालांकि दो मिनट बाद ही बराबरी का गोल दाग दिया। उसकी तरफ से यह गोल फिरदौस रोस्दी ने किया।
बढ़त बनाने के बावजूद हारी भारत की मेंस टीम
प्रसाद ने पांचवें मिनट में दूसरा गोल करके भारत को फिर से 2-1 से आगे कर दिया और उसने मध्यांतर तक यह बढ़त बरकरार रखी। मध्यांतर के बाद मलेशिया ने शानदार वापसी की। उसकी तरफ से अकीमुल्लाह अनवर ने 13वें मिनट में दूसरा गोल दागा जबकि अमीरूल अजहर ने तीन मिनट बाद उसे बढ़त दिलायी। जब खेल समाप्त होने में दो मिनट का खेल बचा था जब अनवर ने अपना दूसरा और टीम की तरफ से चौथा गोल किया।
अर्जेंटीना की टीम को होम कंडीशन का मिला फायदा
महिलाओं के फाइनल में अर्जेंटीना ने दर्शकों के अपार समर्थन के बीच प्रभावशाली प्रदर्शन किया। भारत ने 49वें सेकेंड में ही मुमताज खान के गोल से बढ़त हासिल करके दर्शकों को सन्न कर दिया। अर्जेंटीना ने हालांकि धैर्य बनाये रखा और छठे मिनट में जियानिला पेलेट ने उसे बराबरी दिला दी। सोफिया रामेलो ने नौवें मिनट में अपनी टीम को बढ़त दिलायी। मध्यांतर तक अर्जेंटीना 2-1 से आगे था। ब्रिसा ब्रूगेसर ने दूसरे हाफ के दूसरे मिनट में उसकी तरफ से तीसरा गोल किया। भारत ने वापसी के लिए काफी कोशिश की लेकिन अर्जेंटीना ने उसे मौका नहीं दिया। दोनों वर्गों के फाइनल में हारने के बावजूद भारतीय टीमों के लिए यह खुशी की बात है कि वे पहली बार युवा ओलंपिक खेलों में पदक जीतने में सफल रही हैं।

 


शारजाह - अफगानिस्तान के बल्लेबाज हजरतुल्लाह जजई ने रविवार को अफगानिस्तान प्रीमियर लीग (एपीएल) मैच में एक ओवर में छह छक्के जड़ने की उपलब्धि हासिल की। 20 साल के जजई ने काबुल जवानन की ओर से खेलते हुए बल्खलीजेंड्स के खिलाफ सिर्फ 12 गेंदों पर अर्धशतक पूरा कर टी-20 क्रिकेट में सबसे कम गेंदों पर अर्धशतक जड़ने के रिकॉर्ड की बराबरी की। जजई के लिए सबसे खुशी की बात यह थी कि उन्होंने यह कारनामा अपने आदर्श क्रिस गेल के सामने कर दिखाया।
जजई ने बायें हाथ के स्पिनर अबदुल्लाह मजारी के ओवर में छह छक्के जड़े। मजारी के इस ओवर में कुल 37 रन आए, जिसमें एक रन वाइड का था। वे इसी के साथ अलग-अलग फॉर्मेट में एक ओवर में 6 छक्के लगाने वाले दिग्गजों सर गैरी सोबर्स, रवि शास्त्री, हर्शल गिब्स, युवराज सिंह, एलेक्स हेल्स, रवींद्र जडेजा और मिस्बाह उल हक के स्पेशल ग्रुप में शामिल हो गए।
युवराज ने इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड के ओवर में छह छक्के जड़े थे और 12 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया था। वेस्टइंडीज के क्रिस गेल भी 12 गेंदों पर अर्धशतक जड़ चुके हैं। जजई की पारी के बावजूद उनकी टीम 245 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 21 रन से हार गई। लीजेंड्स ने 20 ओवर में छह विकेट पर 244 रन बनाए थे, जिसमें गेल के 48 गेंदों पर दो चौकों व 10 छक्कों से बने 80 रन शामिल थे।
बल्खलीजेंड्स टीम के खिलाफ काबुल जवान के लिए खेले गए मैच में जजाई ने यह उपलब्धि हासिल की। इस मैच के बाद एक बयान में उन्होंने कहा, 'अपने आदर्श के सामने प्रस्तुति देना मेरे लिए एक बेहतरीन अवसर था। मैं अपना प्राकृतिक खेल खेलने की कोशिश कर रहा था और इस बारे में मैंने सोचा नहीं था।'
जजाई ने कहा, 'मेरे लिए यह गर्व का पल है। मेरा नाम अब इस क्रिकेट के कई दिग्गजों के साथ जोड़ा जाएगा। मैं इस उपलब्धि के लिए अपने अल्लाह का शुक्रगुजार हूं।'
इस मैच में ये रिकॉर्ड भी बना
इस मैच में एक और बड़ा रिकॉर्ड भी बन गया। इस मुकाबले में कुल 37 छक्‍के लगे जो कि एक रिकॉर्ड है। वैसे क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में मिलाकर एक मैच में सबसे ज्‍यादा छक्‍के लगने का रिकॉर्ड 38 छक्‍कों का है। यह कारनामा 2013 में भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच बैंगलोर वनडे मैच में हुआ था। इसमें भारत और ऑस्‍ट्रेलिया दोनों टीमों की ओर से 19-19 छक्‍के लगे थे।


नई दिल्ली - भारत के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में जेसन होल्डर चोटिल होने की वजह से नहीं खेल पाए थे, लेकिन दूसरे टेस्ट मैच में उन्होंने जबरदस्त वापसी की। हैदराबाद टेस्ट मैच की पहली पारी में होल्डर ने भारत के खिलाफ बेहतरीन गेंदबाजी की और पांच भारतीय बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा। इसके अलावा उन्होंने इस मैच के दौरान एक ऐसा रिकॉर्ड अपने नाम किया जो टेस्ट क्रिकेट के पिछले 100 वर्ष के इतिहास में और कोई गेंदबाज नहीं कर पाया था।
100 वर्ष में पहली बार हुआ ये कमाल
जेसन होल्डर एक कैलेंडर वर्ष में सबसे बेहतरीन औसत से गेंदबाजी करने वाले दुनिया के पहले गेंदबाज बन गए हैं। पिछले 100 साल में एक कैलेंडर वर्ष में इससे बेहतर औसत से किसी गेंदबाज ने गेंदबाजी नहीं की थी। 26 वर्ष के होल्डर ने इस कैलेंडर वर्ष में 11.87 की औसत से गेंदबाजी करते हुए अब तक कुल 33 विकेट लिए हैं। इससे पहले ये रिकॉर्ड पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर के नाम पर था। वर्ष 2003 में उन्होंने एक कैलेंडर वर्ष में 12.36 की औसत से गेंदबाजी करते हुए 30 विकेट लिए थे। होल्डर ने अख्तर को पीछे छोड़ दिया और एक नया विश्व रिकॉर्ड अपने नाम पर दर्ज किया। दूसरे टेस्ट में भारत के खिलाफ होल्डर ने पहली पारी में 23 ओवर में 56 रन देकर पांच विकेट लिए। इसके अलावा उन्होंने पहली पारी में 52 जबकि दूसरी पारी में 19 रन बनाए।
आइसीसी ने होल्डर की तारीफ की
जेसन होल्डर की इस कामयाबी पर उन्हें आइसीसी की तरफ से बधाई मिली साथ ही ट्विटर के माध्यम से आइसीसी ने इस बेहतरीन आंकड़ें को पेश किया। आइसीसी ने अपने ट्वीट में लिखा कि ये वर्ष जेसन होल्डर के लिए कमाल का रहा।
एक कैलेंडर वर्ष में चार बार पांच विकेट
जेसन होल्डर ने एक कैलेंडर वर्ष में चार बार पांच विकेट लेने का भी कमाल किया। होल्डर से पहले वेस्टइंडीज के लिए कर्टनी वॉल्श ने भी ये कमाल किया था। वॉल्श ने वर्ष 2000 में ये कमाल किया था और अब होल्डर ने ये उपलब्धि हासिल की। हालांकि जेसन होल्डर की इस बेहतरीन गेंदबाजी के बाद भी वेस्टइंडीज को दूसरे टेस्ट मैच में जीत हासिल नहीं हुई। भारत ने वेस्ट इंडीज को दो टेस्ट मैचों की सीरीज में क्लीन स्विप कर दिया और टेस्ट सीरीज अपने नाम कर ली।

 


नई दिल्ली - टीम इंडिया के तेज़ गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार ने जल्दी ही अपने पिता बनने की खबरों का खंडन किया है। कुछ दिन पहले एक खबर आई थी जिसमें कहा गया था कि टीम इंडिया के दो खिलाड़ी है जो जल्द ही पिता बनने वाले हैं, लेकिन भुवनेश्वर कुमार इस रिपोर्ट को गलत ठहराया है।
हाल ही में ये खबर आई थी कि टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और रोहित शर्मा दोनों जल्द ही पिता बनने वाले हैं। इस खबर पर रोहित शर्मा की ओर से तो कोई जवाब नहीं आया है लेकिन भुवनेश्वर कुमार ने ट्वीट करके इस बारे में अपनी स्थिति साफ की है। भुवनेश्वर ने कहा कि ये खबरें गलत हैं और ऐसी अफवाह ना फैलाई जाए।
भुवी ने अपने ट्वीट में लिखा, 'एक बार फिर मीडिया की तरफ से गलत खबर फैलाई जा रही है कि मैं पिता बनने वाला हूं। कृपया बिना कन्फर्म किए कोई भी बात न फैलाएं। मैं सभी से रिक्वेस्ट करता हूं कि किसी के निजी जिंदगी के बारे में बिना सच जाने के कुछ न फैलाएं।'
भुवनेश्वर कुमार की शादी पिछले साल नवंबर में नूपुर नागर से हुई थी। भुवनेश्वर कुमार अपनी पत्नी के साथ शादी के पहले कुछ दिनों तक रिलेशनशिप में रहे थे। दोनों ने 23 नवंबर 2017 को शादी कर ली। आपको बता दें कि दोनों एक दूसरे को बचपन से जानते थे।

नई दिल्ली - भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में भारत ने वेस्टइंडीज़ को़ 10 विकेट से मात देकर हैदराबाद टेस्ट जीत लिया। इस जीत के साथ ही भारत ने वेस्टइंडीज़ पर क्लीन स्वीप हासिल करते हुए 2-0 से टेस्ट सीरीज़ भी अपने नाम कर ली। वेस्टइंडीज़ के खिलाफ भारत की ये लगातार सातवीं टेस्ट सीरीज़ जीत रही। वर्ष 2013 के बाद से भारत ने अपने…
नई दिल्ली - भारत के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में जेसन होल्डर चोटिल होने की वजह से नहीं खेल पाए थे, लेकिन दूसरे टेस्ट मैच में उन्होंने जबरदस्त वापसी की। हैदराबाद टेस्ट मैच की पहली पारी में होल्डर ने भारत के खिलाफ बेहतरीन गेंदबाजी की और पांच भारतीय बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा। इसके अलावा उन्होंने इस मैच के दौरान एक ऐसा रिकॉर्ड अपने नाम किया जो टेस्ट क्रिकेट के पिछले…
भारतीय जूनियर पुरूष टीम को सुल्तान जोहोर कप अंडर-18 हाकी टूर्नामेंट के फाइनल में शनिवार को ब्रिटेन ने 3-2 से हरा दिया जिससे उसे रजत पदक से संतोष करना पड़ा। भारतीय टीम ने हालांकि अपने पिछले प्रदर्शन में सुधार किया जब उसने कांस्य पदक जीता था। ब्रिटेन की टीम पिछले सत्र में इस टूर्नामेंट की उप विजेता थी। फाइनल मैच का नतीजा भी दोनों टीमों के शुक्रवार को हुए आखिरी…
जकार्ता - भारत ने एशियाई पैरा खेलों में अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 72 पदक अपनी झोली में डाले। जिसमें 15 स्वर्ण शामिल रहे। बैडमिंटन खिलाड़ियों ने शनिवार को प्रतियोगिता के अंतिम दिन दो स्वर्ण और तीन कांस्य पदक जीते। भारत 15 स्वर्ण, 24 रजत और 33 कांस्य पदक से कुल 72 पदक से तालिका में नौंवे स्थान पर काबिज रहा। चीन 172 स्वर्ण, 88 रजत और 59…
Page 2 of 327

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें