खेल

खेल (122)

मुंबई। इंडियन प्रीमियर लीग 2021 (IPL 2021) में शनिवार को दिल्ली कैपिटल्स और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच खेले गए मैच पर सबकी नजरें थी। आइपीएल में बतौर कप्तान रिषभ पंत का यह पहला मैच था और उनके सामने महेंद्र सिंह धौनी (MS Dhoni) की चुनौती थी। गुरू और चेले के बीच इस मैच में पंत ने बाजी मार ली। इसके बाद उन्होंने धौनी के सम्मान में खूब कसीदे पढ़ें। पंत ने कहा कि एमएस धौनी के साथ टॉस के लिए आना बहुत खास था। वह उनके गो-टू मैन रहे हैं। उन्होंने उनसे बहुत कुछ सीखा है। बता दें कि श्रेयस अय्यर के चोटिल होने के कारण आइपीएल के इस सत्र में रिषभ पंत दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वे एक समय दबाव महसूस कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मध्य के ओवरों में वे कुछ दबाव में थे। लेकिन आवेश और टॉम कुर्रन ने अच्छी गेंदबाजी की और चेन्नई को 188 रनों पर रोक दिया। अंत में आपको जब जीत मिलती है तो काफी अच्छा लगाता है। उन्होंने कहा कि हम एनरिच नॉर्टजे और कगिसो रबाडा के न होने से थोड़े परेशान थे। हम सोच रहे थे इनके बिना हम क्या कर सकते हैं और फिर लगा कि अब हमें जो भी करना है वो अपने पास मौजूद विकल्प से करना है। मैदान पर बेस्ट प्लेइंग इलेवन उतारना है। हम एक ओवर पहले मैच खत्म करना चाहते थे, हमने रन-रेट के बारे में नहीं सोचा था।

पृथ्वी शॉ और शिखर धवन की काफी तारीफ:-पंत ने ओपनर पृथ्वी शॉ और शिखर धवन की काफी तारीफ की। उन्होंने कहा कि पृथ्वी और शिखर ने पावरप्ले में हमारे लिए अच्छा काम किया। उन्होंने चीजों को सरल रखा और कुछ अच्छे शॉट्स लगाए। बता दें कि धवन और शॉ ने पहले विकेट के लिए 13.3 ओवर में 138 रनों की साझेदारी की और दिल्ली को आसानी से जीत मिल गई। 

नई दिल्ली। आइपीएल 2021 में राजस्थान रॉयल्स (RR) की कप्तानी संजू सैमसन करेंगे। टीम को पहला मुकाबला पंजाब किंग्स (PBKS)  से सोमवार को खेलना है। इससे पहले विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर ने कहा कि संजू सैमसन के लिए कप्तानी में अनुभव का अभाव एक बड़ी चुनौती है, लेकिन उनके पास शानदार क्रिकेटिंग ब्रेन है। इंग्लैंड के यह विकेटकीपर आइपीएल में राजस्थान के लिए 2018 से खेल रहे हैं और टीम की बल्लेबाजी इनके इर्द-गिर्द घूमती है।समाचार एजेंसी एएनआइ से बातचीत में के दौरान बटलर से पूछा गया कि संजू सैमसन जैसे युवा कप्तान का राजस्थान का नेतृत्व करना कितना मुश्किल होगा? इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि सैमसन के लिए सबसे बड़ी चुनौती कप्तान के तौर पर अनुभव की कमी होगी। मैंने ज्यादा कप्तानी नहीं की है और जब आप यह काम करते हैं तो यह थोड़ा अलग लगता है। सैमसन के पास शानदार क्रिकेटिंग ब्रेन है और वह बल्ले से और विकेट के पीछे से टीम को फ्रंट से लीड करेंगे। उनके आसपास कुछ वरिष्ठ खिलाड़ी होंगे, जिनसे अच्छी सलाह मिल सकती है, जब उन्हें इसकी जरूरत होगी।'राजस्थान रॉयल्स में बेन स्टोक्स और जोफ्रा आर्चर के होने के बारे में बात करते हुए, बटलर ने कहा कि जब ड्रेसिंग रूम में आपके परिचित चेहरे रखते हैं, तो यह बहुत अच्छा होता है। उन्होंने कहा कि स्टोक्स और आर्चर के साथ सिर्फ क्रिकेट के बारे में बातचीत नहीं होती, वे उनके साथ  प्लेस्टेशन पर भी काफी समय बिताते हैं। बटलर ने आगे कहा कि अब रॉयल्स के साथ जुड़े हुए उनके चार साल हो गए हैं। टीम में कई लोग हैं जो इंग्लैंड से नहीं हैं, लेकिन वे उनके साथ भी समय बिताते है।इस साल की शुरुआत में राजस्थान रॉयल्स ने श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा को अपना क्रिकेट निदेशक नियुक्त किया था। बटलर ने कहा कि वह निश्चित रूप से खेल के सबसे लंबे प्रारूप में सफल होने के बारे में उनसे बात करना चाहते हैं। टेस्ट मैच का शतक कैसे बनाया जाए इसे लेकर उनसे बात करेंगे। उन्हें लगता है कि टेस्ट क्रिकेट एक अद्भुत चुनौती है। पता है कि हम यहां टी 20 टूर्नामेंट खेलने के लिए हैं, लेकिन कुमार संगकारा टेस्ट क्रिकेट में अबतक के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक हैं। ऐसे में उन्हें अगर मौका मिला तो वे उनसे टेस्ट क्रिकेट को लेकर बातचीत करेंगे।

नई दिल्ली। आइपीएल 2021 का तीसरा मैच सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) और कोलकाता नाइटराइडर्स (KKR) के बीच रविवार को चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेला जाएगा। दोनों टीमों की नजर जीत के साथ अभियान की शुरुआत करने पर होगी। पिछले साल डेविड वार्नर की कप्तानी वाली एसआरएच की टीम प्लेऑफ तक पहुंची थी। वहीं इयोन मोर्गन की कप्तानी वाली केकेआर की टीम पांचवें नंबर पर रही थी। कोलकाता की दो बार इस खिताब को जीत चुकी है। उसने 2012 और  2014 में इस खिताब को अपने नाम किया था। वहीं सनराइजर्स हैदराबाद की टीम ने डेविड वार्नर की कप्तानी में 2016 में इस खिताब को अपने नाम किया था। आइए जानते हैं हेड-टू-हेड किस टीम पलड़ा भारी है और क्या कहते हैं आंकड़े। दोनों टीमों के बीच अबतक हुए मुकाबले की बात करें तो कोलकाता का पलड़ा भारी है। आइपीएल में अब तक कोलकाता और हैदराबाद के बीच एक दूसरे से 19 बार आमना सामना हुआ है। कोलकाता ने इनमें से 12 और हैदराबाद ने 7 मैच जीते हैं। साल 2020 में कोलकाता ने दोनों मैच में हैदराबाद को हराया था। दोनों के बीच पिछले मैच का नतीजा सुपर ओवर में निकला था। कोलकाता को इसमें जीत मिली थी। दोनों के बीच यह टूर्नामेंट का दूसरा मैच था।

कोलकाता की टीम का पलड़ा भारी:-अबूधाबी में 18 अक्टूबर 2020 को खेले गए इस मैच में कोलकाता की टीम ने हैदराबाद 164 रन का टारगेट दिया। हैदराबाद की टीम ने भी निर्धारित 20 ओवर में 164 बनाए। सुपर ओवर में केकेआर को जीत हासिल हुई। वहीं दोनों के बीच खेले गए आइपीएल 2020 के पहले मैच में कोलकाता को सात विकेट से जीत मिली थी। पिछले पांच मुकाबलों की भी बात करें तो कोलकाता की टीम का पलड़ा भारी है। केकेआर को तीन मैचों में जीत मिली है। वहीं हैदराबाद को दो मैचों में जीत मिली है। 

मुंबई। चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए गेंदबाजी सबसे कमजोर कड़ी है। शनिवार को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मैच में यह साफ देखने को मिला। गेंदबाजों को 13 ओवर तक विकेट ही नहीं मिला। इसका नतीजा यह रहा कि टीम यह मैच सात विकेट से हार गई। टीम की यह परेशानी फिलहाल कम होती नहीं दिख रही है। कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने जानकारी दी है कि तेज गेंदबाज लुंगी नगिदी और जेसन बेहरेनडोर्फ पंजाब किंग्स (PBKS) के खिलाफ अगले मैच में भी टीम के लिए उपलब्ध नहीं होंगे। फ्लेमिंग ने कहा कि नगिदी अगले मैच के लिए उपलब्ध नहीं होंगे। इसलिए जोश हेज़लवुड को गंवाना झटका है। नगिदी जल्द ही यहां पहुंच जाएंगे। इसके बाद बेहरेनडोर्फ।फ्लेमिंग ने कहा कि गेंदबाजी टीम की सबसे कमजोर कड़ी है। हमारी नजरें भारतीय गेंदबाजों पर है और हमारे पास अंतरराष्ट्रीय गेंदबाज सैम कुर्रन हैं। चेन्नई को शनिवार को सत्र के अपने पहले मैच में दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा। फ्लेमिंग ने पहले मैच में हार के बावजूद बल्लेबाजों की तारीफ की। ओपनर्स का विकेट जल्दी गंवाने के बाद सुरेश रैना की 54 रन और अंत के ओवरों में सैम कुर्रन की तेजतर्रार 34 की पारी की मदद से सीएसके  20 ओवरों में सात विकेट पर 188 रन बनाने में सफल रही। उन्होंने कहा कि जल्दी विकेट गंवाने के बाद भी 188 रन बना बुरा नहीं है। बल्लेबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया।

नई दिल्ली। IPL 2020 में प्लेऑफ में नहीं पहुंचने वाले चेन्नई सुपर किंग्स यानी सीएसके से उम्मीद थी कि टीम इस बार अच्छा प्रदर्शन करेगी। यहां तक कि दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ आइपीएल 2021 के पहले मैच में खराब शुरुआत के बाद सीएसके ने अच्छा स्कोर खड़ा किया, लेकिन टीम के गेंदबाजों ने जमकर रन लुटाए और मैच 7 विकेट से गंवा दिया। एमएस धौनी की कप्तानी वाली टीम को क्यों हार झेलनी पड़ी। इसके पीछे के चार कारण जान लीजिए।

बल्लेबाजी क्रम में बदलाव:-चेन्नई की टीम ने ओपनर के तौर पर रितुराज गायकवाड़ और फाफ डुप्लेसिस को भेजा, लेकिन ये दोनों खिलाड़ी फ्लॉप रहे। हैरान करने वाली बात ये रही कि तीसरे नंबर पर मोइन अली को देखा गया। वहीं, एमएस धौनी खुद रवींद्र जडेजा के बाद मैदान पर उतरे। ये दो फैसले हैरान करने वाले थे। मोइन अली ने फिर भी कुछ रन बनाए, लेकिन धौनी बिना खाता खोले पवेलियन लौट गए। इस तरह के बदलाव जाहिर तौर पर टीम के प्रदर्शन पर प्रभाव डालते हैं।

तेज गेंदबाजी में नहीं दिखी धार:-भले ही बल्लेबाजी को लेकर सीएसके की रणनीति कुछ भी रही हो, लेकिन टीम ने 188 रन स्कोरबोर्ड पर लगा दिए थे। ऐसे में आगे के काम का जिम्मा गेंदबाजों को उठाना था। खासकर तेज गेंजबाजों को, लेकिन दीपक चाहर, शार्दुल ठाकुर और सैम कुर्रन शुरुआत में बेअसर दिखे। टीम ने उन सभी गेंदबाजों को मौका दिया था, जिनके पास स्विंग करने की ताकत है, लेकिन ये गेंदबाजी क्रम पूरी तरह दिल्ली कैपिटल्स के ओपनरों ने तहस-नहस कर दिया।

देर से मिली विकेट:-पृथ्वी शॉ के दो कैच छोड़ने का खामियाजा टीम को हार के रूप में भुगतना पड़ा। पहली सफलता ड्वेन ब्रावो ने पारी के 14वें ओवर में दिलाई, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। दिल्ली की टीम का स्कोर उस समय तक 138 रन हो चुका था। दो विकेट और चेन्नई को मिले, लेकिन वे नाकाफी रहे। देर से पहले विकेट का गिरना भी चेन्नई सुपर किंग्स की हार का एक बड़ा कारण बना।

सेंचुरियन।पाकिस्तान टीम के कप्तान बाबर आजम ने अपने शानदार वनडे करियर में एक और उपलब्धि हासिल कर ली है। बाबर आजम ने शुक्रवार को साउथ अफ्रीका के खिलाफ अपने वनडे इंटरनेशनल करियर में 13वां शतक ठोका है। इसी के साथ बाबर आजम ने साउथ अफ्रीकाई दिग्गज हाशिम अमला और भारतीय कप्तान विराट कोहली को पीछे छोड़ दिया है। बाबर आजम ने 103 रन बनाकर पाकिस्तान की जीत में भूमिका निभाई।दाएं हाथ के बल्लेबाज बाबर आजम ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ यहां के सुपर स्पोर्ट्स पार्क में 78वें मैच में खेलने उतरे। इस मैच में उन्होंने शानदार शतक ठोका। ये उनके वनडे करियर का 13वां शतक था और इसी के साथ वे सबसे तेज 13 वनडे इंटरनेशनल शतक ठोकने वाले दुनिया के पहले क्रिकेटर बन गए हैं। अभी तक ये रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका के महान क्रिकेटर हाशिम अमला के नाम था, जिन्होंने 83 पारियों में 13 शतक अपनी टीम के लिए जड़े थेवहीं, दूसरे नंबर पर भारतीय टीम के नंबर तीन विशेषज्ञ विराट कोहली थे, जिन्होंने 86 पारियों में 13 शतक जड़े थे। हालांकि, बाबर आजम का ये विश्व रिकॉर्ड नहीं है, क्योंकि ऑस्ट्रेलियाई महिला टीम की कप्तान मेग लेनिंग ने 76 पारियों में 13 शतक जड़े हैं, लेकिन पुरुषों की अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय क्रिकेट में बाबर आजम के नाम ये रिकॉर्ड दर्ज हो गया है कि उन्होंने सबसे तेज 13 शतक जड़े हैं।पाकिस्तान को साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले वनडे मैच में मिली जीत के बाद तीन मैचों की वनडे सीरीज में मेजबान टीम 0-1 से पिछड़ गई है। सीरीज का दूसरा मुकाबला जोहांसबर्ग के वांडर्स स्टेडियम में खेला जाएगा। ये मुकाबला चार अप्रैल को खेला जाएगा। वहीं, तीसरा और आखिरी वनडे मैच सेंचुरियन में 7 अप्रैल को खेला जाएगा। चार टी20 इंटरनेशनल मैचों की सीरीज भी दोनों टीमों के बीच खेली जाएगी, जो 10 मार्च से खेली जाएगी।

मुंबई। भारतीय टीम के धाकड़ बल्लेबाज श्रेयस अय्यर के कंधे की सर्जरी कब होगी। इस बात का खुलासा हो गया है। कंधे की चोट के कारण श्रेयस अय्यर को पहले इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के आखिरी दो मैचों से बाहर होना पड़ा था और फिर मेडिकल रिपोर्ट सामने आने के बाद अय्यर को आइपीएल के 14वें सीजन से भी बाहर होना पड़ा है। हालांकि, अब भारतीय बल्लेबाज श्रेयस अय्यर…
नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग यानी आइपीएल के 14वें सीजन का दूसरा मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स के बीच खेला जाएगा। इस हाई वोल्टेज मैच को शुरू होने में अब सिर्फ सात दिनों का समय बचा है। इससे पहले स्टेडियम के ग्राउंडस्टाफ के एक या दो नहीं, बल्कि आधा दर्जन से ज्यादा लोगों को कोरोना वायरस के टेस्ट में पॉजिटिव पाया गया है।…
मुंबई।भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ ने इंडियन प्रीमियर लीग यानी आइपीएल के लिए 6 सेंटर बनाए थे, जिसमें से मुंबई के केंद्र से कुछ बुरी खबरें सामने आ रही हैं। पहले मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम के 8 ग्राउंड्समैन कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे और अब दिल्ली कैपिटल्स की टीम के ऑलराउंडर अक्षर पटेल का कोविड 19 टेस्ट पॉजिटिव आया है। दिल्ली की टीम भी इस समय मुंबई…
मुंबई। भारतीय टीम के तेज गेंदबाज उमेश यादव इंडियन प्रीमियर लीग यानी आइपीएल में खेलने वाले हैं। टूर्नामेंट के शुरू होने से उमेश यादव ने कहा है कि आइपीएल उनके लिए वास्तव में महत्वपूर्ण होगा अगर उन्हें एक बार फिर भारत के लिए सफेद गेंद से क्रिकेट खेलना है। आगामी आइपीएल के लिए उमेश को इस साल फरवरी में आयोजित खिलाड़ियों की नीलामी में 1 करोड़ रुपये में दिल्ली कैपिटल्स…
Page 1 of 9

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें

data-ad-type="text_image" data-color-border="FFFFFF" data-color-bg="FFFFFF" data-color-link="0088CC" data-color-text="555555" data-color-url="AAAAAA">