नई दिल्ली। सिमित ओवर के प्रारूप में भारत को पास रोहित शर्मा और शिखर धवन के रूप में ठोस ओपनिंग पेयर मौजूद है। हालांकि इनमें से किसी के चोटिल होने पर टीम के पास विकल्प है, लेकिन टेस्ट क्रिकेट में भारत के पास ऐसा कोई ओपनिंग पेयर नहीं है जिस पर पूरा भरोसा किया जा सके। सच तो ये है कि क्रिकेट के सबसे लंब्रे प्रारूप में भारत अभी भी एक अदद सलामी जोड़ी की तलाश में है।भारत ने रोहित शर्मा को पिछले साल टेस्ट में भी ओपनिंग बल्लेबाज के तौर पर आजमाया और हिटमैन ने वहां पर खुद को साबित भी किया, लेकिन उनकी असली परीक्षा विदेशी धरती पर होनी थी, लेकिन वो चोटिल होने की वजह से न्यूजीलैंड दौरे पर नहीं जा सके। न्यूजीलैंड दौरे से पहले रोहित के इंजर्ड होने की वजह से भारत को दो टेस्ट मैचों में दो अलग-अलग सलामी जोड़ी के साथ उतरना पड़ा था।अब भारत को अगली टेस्ट सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाना है, ऐसे में इस बात की पूरी संभावना है कि ओपनर्स की जिम्मेदारी रोहित के साथ मयंक अग्रवाल निभाएंगे। हालांकि पृथ्वी शॉ को भी कम नहीं आंका जा सकता तो वहीं केएल राहुल भी लगातार अच्छा प्रदर्शन करके टेस्ट के लिए भी अपनी दावेदारी मजबूत करते जा रहे हैं। वहीं शिखर धवन और मुरली विजय भी इंतजार में हैं।पिछले 5 साल की बात की जाए तो भारत ने रोहित शर्मा, शिखर धवन, केएल राहुल, मुरली विजय, मयंक अग्रवाल, पार्थिव पटेल, पॉथ्वी शॉ, हनुमा विहारी, गौतम गंभीर, अभिनव मुकुंद और चेतेश्वर पुजारा को भी पारी की शुरुआत करने का मौका दिया। कुल मिलाकर 15 जोड़ियों को आजमाया गया और इन सबमें केएल राहुल ने 32, मुरली विजय ने 29, शिखर धवन ने 21 और मयंक अग्रवाल ने 11 मैचों में ये जिम्मेदारी संभाली, लेकिन अपनी जगह कोई पूरी तरह से नहीं पक्की कर पाया। मयंक अग्रवाल ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2018 में मेलबर्न टेस्ट मैच में डेब्यू किया और एक ओपनर के तौर पर अपनी जगह पक्की की है। उन्होंने 11 टेस्ट की 17 पारियों में 974 रन बनाए हैं। हालांकि न्यूजीलैंड के खिलाफ चार पारियों में वह 102 रन ही बना पाए थे जबकि शॉ ने 98 रन बनाए थे। लेकिन इस पूरी सीरीज में सभी भारतीय बल्लेबाज नाकाम रहे थे।रोहित टेस्ट मैचों में फिर से पारी का आगाज करने के लिए बेताब होंगे। उन्होंने पिछले साल दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विशाखापत्तनम में पहली बार यह भूमिका निभायी और दोनों पारियों में शतक (174 और 127) ठोककर नया रेकॉर्ड बनाया था। इसके बाद उन्होंने रांची में 212 रन की लाजवाब पारी खेली लेकिन बांग्लादेश के खिलाफ दोनों टेस्ट मैचों में वो रन नहीं बना पाए थे।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें