नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम (Australia cricket team) के तेज गेंदबाज जेम्स पैटिंसन (James Pattinson) अब पाकिस्तान के खिलाफ खेले जाने वाले दो टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले मैच में नहीं खेल पाएंगे। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (Cricket Australia) ने पैटिंसन पर एक मैच का बैन लगा दिया है। पैटिंसन को एक घरेलू मैच के दौरान कोड ऑफ कंडक्ट के उल्लंघन का दोषी पाया गया और इसके बाद सीए ने ये फैसला किया।दरअसल जेम्स पैटिंसन शेफील्ड शील्ड के एक मैच में विक्टोरिया की तरफ से खेलते हुए फील्डिंग के वक्त क्वीसलैंड के एक खिलाड़ी के साथ गलत व्यवहार किया। हालांकि इसके बाद पैटिंसन ने अपनी गलती मान ली। पैटिंसन पर लगे बैन की जानकारी क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के द्वारा जारी एक बयान में दी गई। इसके मुताबिक पैटिंसन ने अपनी इस गलती के लिए तुरंत अंपायर से माफी मांग ली थी और उसके बाद उनपर कोई आरोप नहीं लगाया गया। हालांकि ये साफ नहीं हो पाया कि पैटिंसन ने विरोधी टीम के खिलाड़ी से क्या कहा पर ये बताया जा रहा है कि उन्होंने अपशब्द का इस्तेमाल किया। पिछले 18 महीनों में ये तीसरा मौका है जब पैटिंसन ने कोड ऑफ कंडक्ट को तोड़ा है जिसकी वजह से सीए ने उन पर कड़ी कार्रवाई करते हुए एक मैच का बैन लगा दिया।वहीं इस घटना के बारे में जेम्स पैटिंसन का कहना है कि जब मैंने ये गलती कर दी उसके बाद मुझे ये महसूस हुआ कि ये गलत व्यवहार था और मैंने तुरंत माफी मांग ली। मैंने अंपायर और विरोधी खिलाड़ी दोनों से ही माफी मांगी। मैंने गलती की और इसे में स्वीकार करता हूं साथ ही साथ जो सजा मुझे मिली है मुझे वो भी मंजूर है। अब मुझे पाकिस्तान के खिलाफ पहले टेस्ट मैच से दूर रहना पड़ेगा और इसके लिए मैं खुद जिम्मेदार हूं। आपको बता दें कि पाकिस्तान को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहला टेस्ट मैच गाबा में 21 नवंबर से खेलना है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें