नई दिल्ली। मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) टेस्ट क्रिकेट में आक्रामक बल्लेबाजी कर रहे हैं और इसकी वजह से हो सकता है कि वेस्टइंडीज के खिलाफ अगले महीने होने वाले वनडे सीरीज के लिए उन्हें टीम इंडिया में मौका मिल जाए। ऐसा माना जा रहा है कि अगले साल शुरू में होने वाले न्यूजीलैंड दौरे से पहले वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले जाने वाले तीन वनडे मैचों की सीरीज में अगर टीम के उप-कप्तान रोहित शर्मा को आराम दिया जाता है तो मयंक अग्रवाल अच्छे विकल्प हो सकते हैं।रोहित शर्मा पिछले कुछ समय से लगातार खेल रहे हैं और उन्हें वेस्टइंडीज में खेले गए दो टेस्ट मैचों में मौका नहीं मिला था, लेकिन वह टीम में शामिल थे। भारतीय उप कप्तान रोहित शर्मा न्यूजीलैंड दौरे के लिए तीनों प्रारूपों में टीम का अहम हिस्सा होंगे। इस दौरे पर टीम इंडिया को पांच टी20, तीन वनडे और दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है। वेस्टइंडीज के खिलाफ सीमित ओवरों के मैचों के लिए कप्तान विराट कोहली के लिए मयंक अग्रवाल एक शानदार विकल्प हो सकते हैं जिन्होंने लिस्ट ए में अब तक 50 से अधिक औसत और 100 से ज्यादा स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं वहीं उनके नाम पर 13 शतक भी दर्ज हैं।मयंक अग्रवाल को वनडे विश्व कप के दौरान आखिरी मैचों के लिए चोटिल विजय शंकर की जगह टीम में लिया गया था। उन्हें टूर्नामेंट में एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला, लेकिन इससे यह संकेत जरूर मिल गए कि कर्नाटक का ये बल्लेबाज अपने आक्रामक खेल की वजह से सीमित ओवरों की योजना में शामिल है। कई खेल पंडितों का मानना है कि मयंक भारत में खेले जाने वाले अगले वनडे विश्व कप यानी 2023 में टीम के लिए एक विकल्प हो सकते हैं क्योंकि ऐसा हो सकता है कि खराब फॉर्म से जूझ रहे शिखर धवन उस टीम का हिस्सा ना हों। वहीं मयंक को लेकर पूर्व भारतीय क्रिकेटर दीप दासगुप्ता का मानना है कि मयंक को सिमित ओवरों के प्रारूप में आजमाने में कुछ भी गलत नहीं है।दीप दासगुप्ता ने कहा कि मयंक की प्रतिभा कमाल की है और उस पर कभी सवाल नहीं उठा। उनसे पास हर तरह से शॉट हैं। शुरुआत में वो तेज से रन बनाने के बाद अपना विकेट गंवा देते थे पर अब ऐसा नहीं है। मयंक ने अपने टेस्ट करियर की ड्रीम शुरूआत की है और अपने दस टेस्ट मैच पूरे करने से पहले ही वो दो दोहरा शतक लगा चुके हैं। उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ अपने पहले ही टेस्ट मैच में 243 रन की पारी खेली और इस दौरान आठ छक्के लगाकार सबका ध्यान अपनी तरफ खींचा। वहीं मयंक को टी 20 विश्व कप को ध्यान में रखते हुए क्रिकेट के सबसे छोटे पारूप में भी आजमाया जा सकता है। कईयों का मानना है कि मयंक इस टूर्नामेंट से लिए बिल्कुल फिट बैठते हैंं। वहीं कुछ लोगों का ये भी मानना है कि अगर वो आइपीएल में अच्छा प्रदर्शन कर जाते हैं और चीजें उनके लिए बदल सकती है।

 

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें