नई दिल्ली। अब भारतीय क्रिकेट फैंस आइपीएल में आठ की जगह दस टीमों को खेलते देख सकते हैं। दो वर्ष के बाद यानी 2021 तक दुनिया की सबसे बड़ी लीग में आठ की जगह दस टीमें खेलती हुई नजर आ सकती है। भारतीय क्रिकेट बोर्ड में दो नई टीमों को शामिल करने को लेकर चर्चाएं जोरों पर हैं और इसे अंतिम रूप दिया जा रहा है। पुणे, अहमदाबाद और रांची या जमशेदपुर में से किसी दो टीमों को 2021 आइपीएल में शामिल किया जा सकता है। इसमें पुणे के लिए आरपीजी-संजीव गोयनका ग्रुप, अहमदाबाद के लिए अडाणी ग्रुप और रांची या जमशेदपुर में से किसी एक शहर के लिए टाटा ग्रुप रेस में है। गौरतलब है कि बीसीसीआई ने 2011 यानी आठ वर्ष पहले भी टीमों की संख्या को दस कर दिया था लेकिन कई विवाद खड़े हो गए थे और तीन वर्ष के बाद दो नई टीमों को हटा दिया गया था। खबरों की मानें तो दो नई टीमों को शामिल करने की तैयारियां जोरों पर है। इसके लिए योजना पूरी तरह से तैयार की जा चुकी है और इसकी टेंडर प्रक्रिया पर काम चल रहा है। इसे लेकर लंदन में एक बैठक भी की गई है और माना जा रहा है कि दो नई टीमों के आने से आइपीएल को फायदा होगा। बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी ने भी इसके लिए हामी भरी है लेकिन बैठक के बारे में उन्होंने कुछ नहीं बताया। आपको बता दें कि 2011 में पुणे प्रेंचाइजी को सहारा ग्रुप ने हासिल की थी और ये टीम पुणे वॉरियर्स के नाम से खेली भी थी। बाद में 2013 में ये टीम आइपीएल से हट गई थी। इसके बाद 2016 में चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स को दो साल के लिए बैन किया गया था तब संजीव गोयनका की कंपनी आरपीजी ग्रुप ने राइजिंग पुणे सुपरजाएंट के नाम से टीम बनाई थी। उनकी टीम 2 साल तक रही थी और अब वह पूरी तरह से आईपीएल से जुड़ना चाहते हैं। गोयनका की आइपीए में कोलकाता फ्रेंचाइजी है और वह पिछले कुछ साल से दिल्ली कैपिटल्स व राजस्थान रॉयल्स से जुड़ना चाह रहे थे लेकिन उन्हें वहां कामयाबी नहीं मिली थी। ऐसे में अब वह नई फ्रेंचाइजी के लिए बोली लगाने को तैयार है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें