हैदराबाद। मुंबई इंडियंस के ऑलराउंडर और उपकप्तान किरोन पोलार्ड पर मैच के नियमों का उल्लंघन करने के लिए सजा मिली है। चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ आइपीएल 2019 के फाइनल मैच में अंपायर के फैसले पर असहमति जताने के लिए किरोन पोलार्ड को मैच फीस का 25 फीसदी जुर्माना लगा है। किरोन पोलार्ड ने अपनी गलती स्वीकार की और कहा कि उन्होंने आइपीएल की आचार संहिता के लेवल 1 के 2.8 नियम का उल्लंघन किया। वहीं, टीम के अधिकारियों ने इस सजा को स्वीकार किया।मैच रेफरी जवागल श्रीनाथ ने अपने फैसले में कहा है कि किरोन पोलार्ड ने आइपीएल के कोड ऑफ कंडक्ट का लेवल 1 तोड़ा है। आपको बता दें, आइपीएल के फाइनल में किरोन पोलार्ड ने 25 गेंदों में 41 रन की आतिशी पारी खेली। इसी के दम पर मुंबई इंडियंस ने ये मुकाबला एक रन से जीतकर इतिहास रचा और टीम चौथी बार आइपीएल की चैंपियन बनी। इसी मैच की पहली पारी के आखिरी ओवर में ये सब घटा जब हर कोई पोलार्ड का वो रवैया देखकर हैरान था। दरअसल, इसमें किरोन पोलार्ड की ही नहीं बल्कि अंपायर की भी चूक थी। हुआ ये था कि चेन्नई की ओर से आखिरी ओवर ड्वेन ब्रावो डाल रहे थे। इस दौरान ब्रावो ने आखिरी ओवर की तीसरी गेंद को वाइड लाइन से बाहर फेंक दिया। वाइड जाती गेंद देख पोलार्ड ने अपना बल्ला नहीं चलाया और उधर अंपायर ने भी गेंद वाइड करार नहीं दी। ऐसे में अंपायर के इस फैसले से पोलार्ड काफी नाराज हुए और उन्होंने अपना बल्ला हवा में उछालकर नाराजगी व्यक्त की। इसके बाद ब्रावो अपने ओवर की चौथी गेंद फेंकने के लिए दौड़े लेकिन उनके गेंद फेंकने से पहले ही किरोन पोलार्ड स्टंप छोड़कर वाइड की लाइन से बाहर निकलकर गेंद खेलने के लिए खड़े हो गए। ब्रावो गेंद फेंकने ही वाले थे कि पोलार्ड क्रीज छोड़कर आगे चले गए। ये माजरा देखकर अंपायर नितिन मेनन और इयान गूल्ड पोलार्ड के पास पहुंचे और उन्हें सही तरीक से खेलने के लिए कहा और पोलार्ड ने थोड़ी बात कर आखिरी तीन गेंदों को खेला।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें