नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या व बल्लेबाज लोकेश राहुल एक टीवी शो के दौरान दिए गए अपने विवादास्पद बयान के बाद बुरी तरह से फंसते नजर आ रहे हैं। अब ये लगभग तय हो गया है कि दोनों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। मामले में कानूनी सलाह लेने के बाद सीओए की सदस्य डायना इडुल्जी ने अगले एक्शन तक दोनों खिलाड़ियों को सस्पेंड करने की सिफारिश कर दी है। इससे पहले सीओए चीफ विनोद राय ने दोनों खिलाड़ियों पर दो मैचों का बैन लगाने की बात कही थी, लेकिन तब डायना इडुल्जी ने कहा था कि कानूनी सलाह लेने के बाद ही इस पर कोई फैसला किया जाएगा। डायना इडुल्जी ने कहा कि फिलहाल अगले एक्शन तक दोनों खिलाड़ियों को सस्पेंड रखा जाए जैसा कि राहुल जौहरी मामले में किया गया था। आपको बता दें कि राहुल जौहरी पर मी टू अभियान के तहत एक महिला ने यौन शोषण का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा कि कानूनी सलाह लेने के बाद जो बातों सामने आईं है उसे जल्द से जल्द टीम और खिलाड़ियों तक पहुंचा देना चाहिए। आपको बता दें कि लीगल फर्म सिरिल अमरचंद मंलगदास ने अपनी सलाह देते हुए कहा था कि हार्दिक पांड्या ने जो बातें कही उससे किसी तरह की आचार संहिता का उल्लंघन नहीं हुआ है। उनका बयान किसी खिलाड़ी के खिलाफ नहीं था और ना ही किसी मैच या फिर सपोर्ट स्टाफ के खिलाफ उन्होंने कोई बात कही थी। हमारा ये मानना है कि ये मामला आचार संहिता तोड़ने के दायरे में नहीं आता है और इस हालात में आचार संहिता की प्रक्रिया को लागू नहीं किया जा सकता। इस मामले पर बीसीसीआइ के एक अधिकारी ने कहा कि आगे की जांच तभी हो सकती है जब दोनों को सस्पेंड रखा जाए। उन्होंने कहा कि ये बात बीसीसीआइ को बदनामी से बचाने की है। उन्होंने स्टीव स्मिथ व डेविड वार्नर का उदाहरण देते हुए कहा कि गेंद से छेड़छाड़ मामले में आइसीसी ने उन पर एक टेस्ट मैच का बैन लगाया था लेकिन क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अपनी छवि बचाए रखने के लिए उन्हें एक वर्ष के बैन की सजा सुनाई।

 

 

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें