एडिलेड। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के पहले दिन चेतेश्वर पुजारा ने अपने टेस्ट करियर का 16 शतक जड़ा। इस शतक के साथ ही पुजारा ने टेस्ट क्रिकेट में अपने पांच हज़ार रन भी पूरे कर लिए। पुजारा ने 123 रनों की शानदार पारी खेली जिससे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के पहले टेस्ट में भारतीय पारी उबर पाई। पुजारा की पारी से न केवल टीम संकट से बाहर आईं बल्कि ये पारी व्यक्तिगत रुप से भी उनके लिए रिकॉर्ड भरी रही, क्योंकि उन्होंने इस पारी के दौरान 5000 हजार रन भी पूरे किए। इसी के साथ पुजारा ने राहुल द्रविड़ के साथ अपने एक खास कनेक्शन भी बना लिया।
पुजारा और द्रविड़ का ये कैसा कनेक्शन?:-चेतेश्वर पुजारा को यदि भारतीय टीम का नया राहुल द्रविड़ कहें तो गलत नहीं होगा। पुजारा और द्रविड़ के आंकड़े साबित कर रहे हैं कि दोनों के बीच एक खास कनेक्शन है। लिहाजा ये कहा जा सकता है कि पुजारा मौजूदा टीम इंडिया के नए द वॉल यानि द्रविड़ हैं।5000 रन पूरे करने के साथ ही पुजारा और द्रविड़ आपस में ऐसे कनेक्ट हुए कि हर कोई चौंक जाए। आंकड़े बताते हैं कि पुजारा के 3000 रन 67 पारियों में पूरे हुए। इतनी ही पारियां द्रविड़ ने भी 3000 हजार रन बनाए थे। इसके बाद पुजारा के 4000 रन 84 पारियों में पूरे हुए। इसे संयोग ही कहा जाएगा कि द्रविड़ के 4000 रन भी 84 पारियों में पूरे हुए थे। इतना ही नहीं एडिलेड टेस्ट के पहले दिन अपनी पारी में जब पुजारा 99 रनों पर पहुंचे तो उन्होंने टेस्ट करियर के 5000 रन पूरे किए। ये पुजारी 108वीं पारी थी। द्रविड़ से पुजारा का मैजिक कनेक्शन यहां भी जारी रहा क्योंकि द्रविड़ के 5000 रन भी 108 पारियों में ही पूरे हुए थे। ये महज संयोग नहीं कहा जा सकता।
पुजारा ने बचाई लाज:-भारत ने एक समय 41 रनों पर ही अपने चार शुरुआती बल्लेबाजों के विकेट गंवा दिए थे लेकिन पुजारा ने रोहित शर्मा (37), रिषभ पंत (25) और रविचंद्रन अश्विन (25) के साथ मिलकर न सिर्फ भारतीय पारी को मुश्किल से निकाला बल्कि सम्मानजनक स्कोर की ओर अग्रसर किया।पुजारा ने रोहित के साथ पांचवें विकेट के लिए 45 रनों की साझेदारी की। पंत के साथ उन्होंने छठे विकेट के लिए 41 रन जोड़े जबिक अश्विन के साथ सातवें विकेट के लिए 62 रनों की साझेदारी की।पारी की शुरुआत करने उतरे चेतेश्वर पुजारा दिन के अंत तक क्रीज पर रहे। दिन का खेल समाप्त होने से सिर्फ 2 ओवर एक गेंद पहले वे 123 के निजी स्कोर पर रन आउट हुए। उनके आउट होते ही अंपायरों ने दिन के खेल समाप्ति की घोषणा कर दी।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें