Print this page

आजादी हर किसी को पसंद है, अब वह चाहे राजनीतिक आजादी हो या फिर वित्तीय आजादी। क्योंकि ये भाव हमें अपनी मर्जी का काम करने के लिए प्रेरित करता है। कुछ ऐसा काम जिसे किसी के दबाव में रहकर नहीं किया जा सकता राजनीतिक आजादी तो हमें बहुत पहले मिल गई, अब आर्थिक आजादी के संकल्प को पूरा करने का समय आ गया है।पैसे कमाने की चिंता किए बिना अपनी शर्तों पर काम करना ही वित्तीय आजादी है, जिसे जॉब करने वाला हर व्यक्ति हासिल कर सकता है, अगर बचत और निवेश सही दिशा में हो। जो लोग निवेश करते हैं, उनकी वित्तीय प्लानिंग बहुत ही जबर्दस्त होती है। उनका ध्यान मुख्य रूप से तीन चीजों पर होता है -बचत, निवेश और खर्च। उनका सिद्धांत स्पष्ट है, ज्यादा से ज्यादा पैसे की बचत करो और उसे सही जगह निवेश करो। जो चीजें गैर जरूरी हैं, उसे खरीदने के बजाय उसी पैसे को वो निवेश करना पसंद करते हैं। विश्व के जाने माने निवेशक और कारोबारी वारेन बफेट ने फिजूल खर्च करने वालों पर एक बात कही थी।उन्होंने कहा था, ;यदि आप उन चीजों को खरीदते हैं, जिनकी आपको जरूरत नहीं है, तो शीघ्र ही आपको उन चीजों को बेचना पड़ जाएगा जिनकी आपको जरूरत है।हाल के सालों में शेयर मार्केट और म्यूचुअल फंड में निवेश को लेकर युवाओं का उत्साह बढ़ा है। हालांकि, शेयर मार्केट में मार्केट को समझने के लिए ज्यादा समय देना पड़ता है, वहीं म्यूचुअल फंड में यही काम फंड मैनेजर कर देता है। इसलिए देखा गया है कि जॉब करने वाले ज्यादातर व्यक्ति म्यूचुअल फंड में ही निवेश करना पसंद करते हैं। आप अगर युवा हैं और आप चाहते हैं कि रिटायरमेंट से बहुत पहले ही आपको वित्तीय आजादी मिल जाए, तो आपको बचत, निवेश और खर्च पर एक सही योजना बनानी होगी। इसके लिए आपको एक्सपर्ट्स की मदद लेनी चाहिए, खासकर तब, जब आप निवेश कर रहे हैं। एक्सपर्ट्स की राय से मार्केट को अच्छी तरह से समझने का मौका मिलता है, जिससे निवेशक सही जगह पर निवेश कर पाता है।विशेषज्ञों की राय लेकर आप अपनी योजनाओं की रूपरेखा को और भी बेहतर तरीके से तैयार कर सकते हैं। इस संबंध में ABSL (Aditya Birla Sun Life Mutual Fund) और Dainik Jagran एक ऐसी सीरीज लेकर आए हैं, जहां वेबिनार के जरिए लोगों को वित्तीय स्वतंत्रता, वित्तीय योजना, बचत, निवेश आदि के बारे में मार्केट के एक्सपर्ट द्वारा जागरूक किया जा रहा है। आज सीरीज का पांचवां और आखिरी दिन है, जिसे शिमला की जनता को ध्यान में रखकर आयोजित किया गया है

Share this article

AUTHOR

Editor