Print this page

नई दिल्‍ली। सेना प्रमुख (Army chief) जनरल मनोज मुकुंद नरवाने (Gen MM Naravane) ने गुरुवार को कहा कि पाकिस्तान सर्दियों की शुरुआत से पहले आतंकियों की बड़े पैमाने पर घुसपैठ कराने और हथियार भेजने की नापाक कोशिश कर रहा है लेकिन भारतीय सेना (Indian Army) की मुस्‍तैदी के चलते उसके मंसूबे कामयाब नहीं हो पा रहे हैं। हमारे जवान आतंकवाद प्रभावी ढंग से आतंकियों की घुसपैठ को विफल कर रहे हैं।आतंकवाद-रोधी अभियानों में हालिया सफलताओं पर बोलते हुए सेना प्रमुख (Gen Manoj Mukund Naravane) ने कहा कि नियंत्रण रेखा पर घुसपैठ की कोशिशों को बार बार नाकाम बनाए जाने से यह स्‍पष्‍ट हो गया है कि हमारी आतंकवाद रोधी और घुसपैठ रोधी ग्रिड बेहद प्रभावी है। बता दें कि सुरक्षा बलों ने बीते 24 सितंबर से 15 अक्टूबर तक कुल 17 आतंकवादियों का खात्‍मा किया है जिसमें पाकिस्‍तानी समेत तीन विदेशी शामिल हैं।पूर्वी लद्दाख सेक्टर में चीन के साथ चल रहे तनाव के मसले पर सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने बीते दिनों कहा था कि पूरा देश इस समय सेना की ओर देख रहा है ऐसे में हर परिस्थितियो में हमें जोश और देशभक्ति दोनों के साथ काम करने की जरूरत है। सेना प्रमुख ने यह भी कहा था कि भारतीय सेना ने चीन की हर चुनौती का सामना करने के लिए पूरी तरह तैयार है।उल्‍लेखनीय है कि सेना प्रमुख का यह बयान ऐसे समय आया है जब 14 अक्‍टूबर की सुबह सेना ने पाकिस्‍तान की ओर से किए गए एक बड़े बैट हमले को नाकाम किया है। प्राप्‍त जानकारी के मुताबिक, उत्तरी कश्मीर में नियंत्रण रेखा के साथ सटे टंगडार (कुपवाड़ा) सेक्टर में भारतीय सेना के जवानों ने बुधवार को पाकिस्तानी सेना के बैट हमले को नाकाम कर दिया। इस दस्ते में पाकिस्तानी सेना के कमांडो और आतंकी थे जो जान बचाकर वापस भाग गए।  

Share this article

AUTHOR

Editor