नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। हालांकि, कोरोना वायरस से ठीक होने वालों की संख्या फिलहाल, एक्टिव केस से ज्यादा है। इसी बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने  योगासन, प्राणायाम, ध्यान और च्यवनप्राश का सेवन COVID-19 से उबरने वाले मरीजों के लिए केंद्रीय प्रबंधन मंत्रालय द्वारा इसके नए प्रबंधन प्रोटोकॉल में दिए गए सुझावों में से एक हैं।स्वास्थ्य देखभाल मंत्रालय ने कहा कि सभी सीओवीआईडी ​​रोगियों की देखभाल का आह्वान करते हुए, स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि ऐसे रोगियों को मास्क, हाथ और श्वसन स्वच्छता और शारीरिक दूरी बनाए रखना चाहिए। प्रोटोकॉल उन रोगियों के प्रबंधन के लिए एक दृष्टिकोण प्रदान करता है जो घर पर देखभाल के लिए COVID -19 से ठीक हुए हैं। हालांकि, प्रक्रिया को निवारक के रूप में या एक उपचारात्मक चिकित्सा के रूप में नहीं देखा जाता है। यह कहा गया है कि रिकवरी की अवधि उन रोगियों के लिए अधिक लंबी हो सकती है जो बीमारी के अधिक गंभीर रूप से पीड़ित थे और यानी की ऐसे लोग जो पहले से ही किसी ना किसी बीमारी से पीड़ित थे। व्यक्तिगत स्तर पर, प्रोटोकॉल में पर्याप्त मात्रा में गर्म पानी पीने का सुझाव दिया है।जानकारी के लिए बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी की गई जानकारी के अनुसार, देश में इस वक्त कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 47 लाख के पार पहुंच गई है। देश में फिलहाल, कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 4,754,356 हो गई है। देश में इस वक्त कोरोना वायरस के  973175  एक्टिव केस हैं। कुल मामलों में से अब तक  3702595 संक्रमित लोग ठीक हो गए हैं। वहीं, इसी के साथ देश में कोरोना वायरस के कारण 78586 संक्रमित लोगों की मौत हो चुकी है। 

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें