रायपुर। छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में एक अजीब मामला सामने आया है। समाचार एजेंसी पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक, जिले में आकाशीय बिजली गिरने से झुलसी एक महिला समेत तीन लोगों को गांव के लोगों ने कथित रूप से ठीक करने के लिए गाय के गोबर में दबा दिया जिससे दो लोगों की मौत हो गई है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जशपुर जिले के बागबहार गांव में रविवार शाम को गांव के सुनील साय (22), चंपा राउत (20) और राजू साय (23) धान के खेत में काम करने के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से झुलस गए थे।अधिकारियों ने बताया कि तीनों बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे पहुंचे तभी उस पर आशीय बिजली गिर गई थी। जब घटना की जानकारी परिजनों को मिली तब वे घायलों को अस्पताल नहीं ले गए। बताया जाता है कि परिजनों ने गांव वालों के साथ मिलकर तीनों को गले तक गाय के गोबर में दबा दिया। गांव वालों को यकीन था कि गाय के गोबर में दबाने से बिजली गिरने से झुलसे लोगों की जान बच जाएगी। इसी दौरान गांव के कुछ अन्य लोगों ने घायलों को अस्पताल ले जाने को कहा तब तीनों को वहां से निकाला गया और उन्हें स्थानीय अस्पताल ले जाया गया।अध‍िकारियों ने बताया कि अस्पताल पहुंचने पर डॉक्‍टरों ने सुनील साय और महिला चंपा राउत को मृत घोषित कर दिया। वज्रपात की घटना में घायल राजू साय का इलाज जारी है। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है और मामले की छानबीन कर रही है। मृतकों के परिजनों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। अभी पिछले हफ्ते ही गुरुवार को भारी बारिश के बीच बिजली गिरने से बिहार और उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में सौ से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी। बिहार में बिजली गिरने से 83 जबकि उत्तर प्रदेश में बिजली गिरने से 28 लोगों की जान चली गई थी।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें