दिसपुर। चुराचांदपुर जिले के कांगवई गांव का एक 12 वर्षीय लड़का, इसहाक पॉल लुंग मुआन वैफेई(Issac Paulallungmuan Vaiphei) असम में कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा में बैठने वाला सबसे कम उम्र का बच्चा बन गया है। बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (BOSEM) ने उसे कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षाओं में असम हाई स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट के लिए उपस्थित होने की अनुमति दे दी है। BOSEM के प्रशासनिक बोर्ड ने इसहाक को आगामी बोर्ड परीक्षाओं के लिए उसकी वास्तविक जन्मतिथि के साथ उसका नाम दर्ज करने की मंजूरी दे दी। वहीं इसे विशेष मामला करार दिया।इसहाक कक्षा 8 तक माउंट ओलिव स्कूल में पढ़ा, वह अपने घर में सबसे बड़ा बेटा है। बच्चे ने कहा, 'मैं खुश और उत्साहित हूं। मैं सर आइज़क न्यूटन की प्रशंसा करता हूं क्योंकि मुझे लगता है कि मैं उनके जैसा हूं और हम एक सामान्य नाम साझा करते हैं।' इसहाक के पिता, जेनखोलियन वैफेई (Genkholien Vaiphei) ने पिछले साल एक आवेदन प्रस्तुत किया था, जिसमें शिक्षा विभाग से अपने बेटे को मैट्रिक परीक्षा में बैठने की अनुमति देने की मांग की गई थी। जेनखोलियन के आवेदन के बाद, शिक्षा विभाग के आयुक्त ने लड़के पर एक मनोविज्ञान परीक्षण (Psychology Test) करने का आदेश दिया।नैदानिक मनोविज्ञान विभाग RIMS Imphal द्वारा आयोजित परीक्षण के परिणाम के अनुसार, इसहाक की मानसिक आयु 17 वर्ष 5 महीने थी। उनक IQ 141 था जो बहुत ही बेहतर था। जेनखोलियन ने कहा कि शुरू में उन्हें लड़के की उम्र 15 से बदलने के लिए कहा गया था ताकि वह परीक्षा में उपस्थित हो सके। इसके बाद, उन्होंने अपने बेटे के जुनून को देखते हुए उच्च अधिकार से संपर्क किया।गर्व करते हुए पिता ने कहा, 'हम अपने बेटे को यह अवसर देने के लिए विभाग के लिए बहुत खुश और आभारी हैं।' नियमों के अनुसार, एक छात्र को उस वर्ष के 1 अप्रैल को 15 वर्ष की आयु पूरी करनी होगी, तब एक उम्मीदवार कक्षा 10 बोर्ड परीक्षा के लिए उपस्थित हो सकता है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें