नई दिल्ली। लेखक आतिश तासीर (Aatish Taseer) द्वारा ओवरसीज सिटीजन ऑफ इंडिया कार्ड के लिए किए गए आवेदन को रद कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि लेखक ने गृह मंत्रालय से कुछ जरुरी सूचनाएं छिपाई हैं। इसके बाद उनका ओसीआई (ओवरसीज सिटीजनशिप ऑफ इंडिया) या पीआईओ (PIO) पर्सन्स ऑफ इंडियन ओरिजन स्टेटस को रद कर दिया गया है।उन पर आरोप है उन्होंने गृह मंत्रालय से छिपाया कि उनके पिता पाकिस्तानी मूल के रहे हैं। उनके OCI स्टेटस को समाप्त करते हुए सरकार की तरफ से कहा गया कि आतिश को PIO या OCI के कॉलम भरने के लिए मौका दिया गया था, लेकिन उन्होंने इस पर कोई जवाब नहीं दिया। वहीं लेखक ने इस प्रकार की सारी बातों को सिरे से खारिज किया।
क्या है OCI या PIO:-ओवरसीज सिटीजन ऑफ इंडिया कार्ड (OCI), विदेश में रहने वाले भारतीय, जिसे PIO भी कहते हैं, भारतीय मूल के विदेशी लोगों को भारत आने की इजाजत देता है। इसके तहत भारत में उन्हें काम करने का अधिकार भी मिलता है। लेकिन वह वोट डालने का अधिकार नहीं पा पाते हैं।
आतिश ने कहा- नहीं मिला समय;-ब्रिटेन में जन्मे आतिश ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उनको जवाब देने के लिए काफी समय नहीं दिया गया था। आतिश तासीर, पत्रकार तवलीन सिंह और दिवंगत पाकिस्तानी राजनेता व व्यवसायी सलमान तासीर के पुत्र हैं। बताया जाता है कि सलमान को उनके ही अंगरक्षकों ने ही पाकिस्तान में ईशनिंदा कानून के खिलाफ बोलने पर गोली मार दी गई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आतिश ने आवेदन में अपने माता-पिता के बारे में पूरी जानकारी नहीं दी थी।तासीर ने इस साल की शुरुआत में लोकसभा चुनाव के बाद प्रकाशित टाइम मैगज़ीन में एक आर्टिकल लिखा था। टाइम मैगजीन के कवर पेज पर प्रकाशित इस आर्टिकल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ व्यक्तिगत टिप्पणियां की गईं थीं। इस लेख में आतिश ने भारत सरकार की कार्य प्रणाली पर भी सवाल उठाते हुए लिखा था कि क्या देश उनकी सरकार को पांच और साल झेल सकता है। इस लेख के बाद तासीर काफी विवादों में रहे थे।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें