हैदराबाद। देशभर में महंगाई की मार से जनता बेहाल है। बाजारों में सब्जियों के भाव आसमान छू रहे हैं। देशभर के लोग महंगाई की इस मार से हलकान हैं। सब्जियों में विशेष रूप से प्याज, टमाटर और आलू के दाम में तेजी से उछाल देखा जा रहा है। हैदराबाद के सब्जी मंडी की बात करें तो यहां भी सब्जियों के दाम बढ़ गए हैं।एएनआइ के हवाले से एक सब्जी विक्रता ने बताया कि , 'मैंने लगभग 15 दिन पहले टमाटर 8 से 10 रुपए प्रति किलो के भाव से बेचा था। अब मैं इसे 60 रुपए प्रति किलो बेच रहा हूं। प्याज के दाम भी 15 से18 रुपये से बढ़कर 60 रुपये प्रति किलोग्राम हो गए हैं। सब्जी विक्रेता का कहना है कि भारी बारिश की वजह से सब्जियों के दाम प्रभावित हुए हैं।इससे पहले दिल्ली में भी सब्जियों के दाम बढ़े। बुधवार को दिल्ली में टमाटर के दाम बढ़ गए हैं। कर्नाटक समेत कई प्रमुख राज्यों में आपूर्ति प्रभावित होने से टमाटर के दाम में बढ़ोत्तरी हुई है। यहां टमाटर का भाव 60 रुपए प्रति किलो हो गया है।हालांकि पिछले हफ्ते की तुलना में प्याज की कीमत में मामूल कमी आई है। नई दिल्ली में टमाटर के भाव 60 रुपए प्रति किलो तक पहुंच गए हैं।मदर डेयरी के सफल आउटलेट्स में टमाटर 58 रुपये प्रति किलो के हिसाब से बेचे जा रहे हैं। लेकिन यही टमाटर स्थानीय खुदरा विक्रेताओं ने बुधवार को 60 से 80 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बेचे हैं, जिनके दाम उनकी गुणवत्ता और स्थानीयता के आधार पर तय किए गए हैं। वहीं केंद्र सरकार के आंकड़ों की बात करें तो दिल्ली में टमाटर का औसत खुदरा मूल्य एक अक्टूबर के 45 रुपए प्रति किलोग्राम से बढ़कर बुधवार को 54 रुपए प्रति किलोग्राम हो गया है।तो इस तरह पूरे देश में सब्जियों के बढ़े दाम लोगों को परेशान कर रहे हैं।

 

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें