केरल। केरल में बाढ़ से लोगों का जनजीवन अस्‍त-व्‍यस्‍त हो गया है। 8 से 12 अगस्त के बीच बाढ़ की वजह से 76 लोगों की मौत हो गई है, वहीं, 58 लोग लापता हैं। इसके अलावा 32 लोग घायल हुए हैं। भूस्‍खलन की वजह से भी कई लोगों ने अपनी जान गंवा दी। केरल के कोट्टाकुन्नू के पास बचावकर्मी एक मृत मां और उसके मृत बच्चे के मर्मस्पर्शी दृश्य को देखकर खुद के आंसू रोक नहीं पाए।बता दें कि दो दिन पहले इस क्षेत्र में अभूतपूर्व बाढ़ आई थी और भीषण भूस्खलन हुआ था। बचाव कार्य एवं तलाश अभियान में जुटे कर्मियों ने कोट्टाकुन्नू के पास महिला और उसके बच्चे का शव निकाला। मृत मां ने अपने कलेजे के टुकड़े के हाथ को कसकर पकड़ा हुआ था। मां और बेटे के मृत शरीर का ये दृश्‍य देख बचावकर्मी भी रो पड़े। मां ने बच्‍चे का हाथ इतना कस कर पकड़ा हुआ था कि मौत के बाद भी उसे छुड़ा पाना मुश्किल हो रहा था।समझा जाता है कि शुक्रवार दोपहर गीतू नामक यह महिला (21) अपने डेढ़ साल के बेटे ध्रुव का हाथ थामे हुए अचानक बाढ़ और भूस्खलन की चपेट में आ गई। कई घंटे के तलाश अभियान के बाद रविवार को बचावकर्मियों ने सरत की पत्नी गीतू और उसके बच्चे का शव बरामद किया। कर्नाटक में बाढ़ के कारण 1 अगस्त 2019 के बाद से अबतक 40 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं और 14 लोग लापता हैं। वहीं 5,81,702 लोगों को निकाला गया, 17 जिले और 2028 गांवों में राहत शिविरों बनाए गए हैं।स्थानीय लोगों और बचाव अधिकारियों के लिए यह दृश्य देखना बड़ा मर्मस्पर्शी था। मां और बच्चा कीचड़ में दबे थे और दोनों ने एक-दूसरे का हाथ थाम रखा था। इस घटना में सरत बच गया। हालांकि, सोमवार को उसकी मां सरोजिनी का भी शव बरामद कर लिया गया। सरत और उसका परिवार मलप्पुरम के कोट्टाकुन्नू में किराए के मकान में रहता था। पिछले सप्ताह भारी बारिश और भूस्खलन की घटना के कारण इलाके में चौतरफा तबाही का मंजर नजर आ रहा है।गौरतलब है कि हाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल और गुजरात में बाढ़ के हालात गंभीर बने हुए हैं। इन राज्यों में अब तक 200 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है और 10 लाख से अधिक लोग राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं। वहीं रविवार को गृह मंत्री अमित शाह ने कर्नाटक के बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे किया। जबकि, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने केरल में बाढ़ से बिगड़े हालात का जायजा लिया। कर्नाटक में भी बाढ़ ने कहर बरपा रखा है। क्‍या इंसान, क्‍या जानवर सभी बाढ़ की मार से बेहाल है। लोगों के मकान पानी में डूब चुके हैं, वहीं जानवरों के प्राकृतिक पर्यावास भी जलमग्‍न हैं। इससे जानवर आबादी वाले इलाकों में घुस गए हैं। बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कल यानी रविवार को कर्नाटक के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वे किया था। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा भी उनके साथ थे।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें