Print this page

नई दिल्‍ली। मुंबई में रुक-रुक कर हो रही भारी बारिश के बीच भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने पूर्वी और पश्चिमी यूपी, कर्नाटक के तटीय इलाकों और हिमाचल प्रदेश में मंगलवार को भारी बारिश की चेतावनी दी है। यही नहीं विभाग ने पूर्वोत्‍तर राज्‍यों असम, मेघालय, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश में मध्‍यम से भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। इसके अलावा झारखंड और ओडिशा में गरज चमक के साथ आंधी-पानी की भविष्‍यवाणी की गई है।मौसम विभाग ने उत्‍तराखंड के नैनीताल, चंपावत, पिथौरागढ़, चमोली, टेहरी गढवाल, पौड़ी गढ़वाल, देहरादून और हरिद्वार जिलों में 11, 12, और 13 जुलाई को भारी से ज्‍यादा भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। विभाग की ओर से कहा गया है कि मंगलवार और बुधवार को दिल्ली के साथ एनसीआर के इलाकों में बारिश होगी, लेकिन फिर मानसून अवकाश लेगा। यानी आगामी 11 से 20 जुलाई के बीच बारिश होने के आसार नहीं हैं। कुलमिलाकर दिल्ली-एनसीआर के लोगों को झमाझम बारिश के लिए और 15 दिन तक इंतजार करना होगा। स्काईमेट वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी महेश पलावत ने बताया कि निम्न दबाव की रेखा फिलहाल पंजाब से दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश होते हुए असम की ओर बढ़ रही है।ऑल इंडिया वेदर वॉर्निग बुलेटिन (All India Weather Warning Bulletin) में कहा गया है कि मध्‍य अरब सागर (Arabian Sea) और पूर्व एवं मध्‍य बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) में 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाओं की गति के कारण ऊंची लहरें उठेंगी। वहीं बिहार में मानसून की सक्रियता बढ़ गई है। राज्‍य के कई हिस्‍सों में शनिवार की देर रात से शुरू हुई बारिश का सिलसिला जारी है।

 

Share this article

AUTHOR

Editor