नई दिल्‍ली। सभी जानते हैं कि तरबूज गर्मियों शरीर में पानी की कमी को पूरा करता है। इसमें पानी, कार्बोहाइड्रेट और फाइबर भरपूर मात्रा में होता है। तरबूज में विटामिन्स भी पाये जाते है, इसमें कोलेस्ट्राल नहीं होता, यह आखों के लिए भी उपयोगी होता है। डिहाइड्रेशन से बचाने के साथ ही यह हमें कई अन्य बीमारियों से भी बचाता है। गर्मियों में भरपूर तरावट के लिए हर दिन एक प्लेट तरबूज जरूर खाएं, लेकिन तरबूज खाने के साथ पानी न पिएं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसके ज्यादा सेवन से आप बीमार भी पड़ सकते हैं। आहार व पोषण विशेषज्ञ सिमरन सैनी बता रही हैं क्यों तरबूज का सेवन नहीं करना चाहिए।
डायबिटीज की समस्या:-क्योंकि डायबिटीज लाइफस्टाइल से जुड़ी समस्या है, इसलिए डायबिटीज के रोगियों को अपने खानपान का विशेष रूप से ध्यान रखना पड़ता है। तरबूज में भारी मात्रा में नेचुरल शुगर होता है। ऐसे में अगर शुगर के मरीज तरबूज का ज्यादा सेवन करेंगे तो उनके ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ जाएगी। इसलिए डायबिटीज के मरीजों को एक सीमित मात्रा में तरबूज का सेवन करना चाहिए।
हार्ट प्रॉब्लम से घिरे लोग:-हॉर्ट की प्रॉब्लम से घिरे लोगों को तरबूज का सेवन करने से बचना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि तरबूज में भारी मात्रा में पोटेशियम होता है। डॉक्टर सैनी का कहना है कि हार्ट की प्रॉब्लम से घिरे लोगों को तरबूज का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि इससे हॉर्ट की प्रॉब्लम और बढ़ जाती है।
किडनी समस्या से घिरे लोग:-आजकल लोगों में किडनी की समस्या भी आम हो गई है। किडनी की समस्या भी लाइफस्टाइल से जुड़ी हुई है। डॉक्टरों की माने तो आजकल युवाओं में भी किडनी की समस्या होना आम बात हो गई है। किडनी की समस्या से घिरे लोगों को इसलिए तरबूज का ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें मिनरल्स की मात्रा अधिक होती है। इसलिए किसी गंभीर समस्या से बचने के लिए ऐसे लोग तरबूज का लिमिटिड मात्रा में ही सेवन करें।
अस्थमा के रोगी और तरबूज:-अस्थमा एक बहुत गंभीर बीमारी है। इसलिए इस रोग से जूझ रहे लोगों को अपने खानपान पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए। अस्थमा के मरीजों के लिए ज्यादा तरबूज का सेवन सही नहीं है। ऐसा इसलिए क्योंकि असथमा में अमीना एसिड होता है। अगर रोगी ज्यादा तरबूज का सेवन करेंगे तो अस्थमा अटैक का खतरा बढ़ सकता है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें