रायपुर। शिल्प गुरु एवं राष्ट्रीय हस्तशिल्प पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन शुक्रवार को राजधानी रायपुर में हुआ। इस मौके पर केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहीं। उन्होंने राष्ट्रीय पुरस्कार से शिल्पकारों को पुरस्कृत किया। इस दौरान उन्होंने शिल्पकारों के परिवारों के हित में कई घोषणाएं कीं।एक महत्वपूर्ण घोषणा करते हुए उन्होंने कहा कि देश में जितने भी शिल्पकार हैं उनके और उनके बच्चों के लिए नेशनल ओपन स्कूल और यूनिवर्सिटी की स्थापना की जाएगी। जिसमें उनके लिए 50 से 75 फीसद तक सीटें आरक्षित होंगी और शुल्क में भी छूट दी जाएगी। उन्होंने राष्ट्रीय आय में शिल्पकारों के योगदान के विषय में जानकारी देते हुए बताया कि देशभर में शिल्पकारों द्वारा तैयार किया गया 100026 कराेड स्र्पये मूल्य का सामान देश से बाहर प्रतिवर्ष निर्यात किया जा रहा है। यह देश के लिए बड़ी उपलब्धि है।देश में अब तक 1700000 शिल्पकारों ने अपने पहचान पत्र बनवा लिए हैं। उन्हें बीमा योजना का फायदा मिल रहा है, वह देश में ही नहीं विदेशों में भी अपनी शिल्प कला का प्रदर्शन कर आय अर्जित कर रहे हैं। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने सम्मानित हो रहे शिल्पकारों को शुभकमनाएं दीं और कहा कि स्थानीय शिल्पकारों की बदौलत राज्य को भी देश में विशिष्ठ पहचान मिल रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार भी लगातार शिल्पकारों की स्थिति को बेहतर बनाने के लिए प्रयासरत है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें