मुंबई (हम हिंदुस्तानी)-क्राय (चाइल्ड राइट्स एंड यू ) का गाला रात्रि भोज दा कंट्री क्लब ऑफ़ रांचो बरनार्डो ,सैन डिएगो ,कैलिफोर्निया के अति सुन्दर स्थान पर संपन्न हुआ। इस शाम की मुख्य अतिथि अभिनेत्री कोंकणा सेन शर्मा थीं। कार्यक्रम के प्रारम्भ में कोंकणा ने अतिथियों के साथ तस्वीर खिचवाई। इनके मधुर व्यवहार ने सभी का दिल जीत लिया। इसके बाद सभी एक खूबसूरत से हॉल में आपने अपने निर्धारित स्थान पर जा कर बैठ गए। कार्यक्रम का प्रारम्भ एक छोटे से विडिओ से हुआ जिसमे राजिस्थान का बच्चा शाबाद अपने शहर की कहानी बता रहा था और उसने यह भी बताया कि क्राय की सहायता से कैसे वहाँ पर तरक्की हुयी।
इस शाम को आगे बढ़ाने के लिए मंच संचालिका रुचिका जी ने माइक सम्भाला और अपनी मधुर आवाज से सभी का स्वागत करते हुए क्राय के बारे में बोलते हुए कहा कि इस संस्था का जन्म सन १९७९ को खाने की मेज पर बात के दौरान हुआ। यह विचार मुख्यतः स्वर्गीय रिप्पन कपूर जी का था उस समय उनके और ५ दोस्तों ने मिला कर मात्र ५० रुपये से इस संस्था का प्रारम्भ किया था।
अपनी बात समाप्त करके रुचिका ने क्राय की अध्यक्षा शेफाली जी को आमंत्रित किया l शेफाली सुन्दरलाला जी ने कहा कि क्राय को सफल बनाने के लिए फ़ूड टीम बधाई की पात्र है। उन्होंने सभी के नाम ले कर उनका धन्यवाद किया इन्होने आगे कहा भारत में बहुत से संगठन है पर उनको उतना लाभ नहीं मिलता जितना मिलना चाहिए। हम इन्ही संगठनों के साथ मिल कर काम करते हैं और निश्चित करते हैं कि इन्हे वो लाभ प्राप्त हो सकें, पिछले १५ सालों में हमने करीब ७० संगठनों को सहयोग दिया है। इस साल हम ३५ और संगठनों की सहायता करेंगे। जिन संगठनों की हम सहायता कर सकें और जी सही संगठन है उनका चुनाव करने में हमको १२ तो १८ महीने से अधिक समय लगता हैं। क्राय अमेरिका के दानकर्ताओं और स्वयंसेवको के सहयोग से हम ३७५५ गांवों में रहने वाले ७६०००० बच्चों के की सहायता कर पाएं हैं । अभी १८०००० विद्यार्थियों ने दाखिला लिया है २४०००० बच्चों का टीकाकरण हुआ। २३००० बच्चों जो कभी भी स्कूल नहीं गए उन्होंने स्कूल जाना प्रारम्भ किया। १२२० स्कूल जो की कभी भी अस्तित्व में नहीं थे या बहुत बुरी हालत में थे वह सभी आज काम कर रहे हैं और बच्चों को शिक्षा प्रदान कर रहे हैं। नेल्शन मंडेला फाउंडेशन की तरफ से दुनिया के सर्वोच्च १०० संगठों में क्राय अमेरिका को शामिल गया है। यह हमारे लिए बहुत बड़ी बात है। आई सी एस सी बोर्ड की आठवीं कक्षा सी बी एस सी बोर्ड की ६ कक्षा में क्राई के बारे में पढ़ाया जा रहा है। भारतीय सरकार के द्वारा भी हमें मान्यता मिल रही है।
शेफाली जी के बाद मंच पर आयीं अभिनेत्री कोंकण सेन शर्मा उन्होंने कहा आप यहाँ आये हैं यह बहुत अच्छी बात है l कोंकणा ने आगे बोलते हुए कहा कि बे एरिया में हमने करीब एक लाख पचास हजार डॉलर इक्कठा किये जो की उम्मीद से परे था। आज वही उत्साह यहाँ देखने को मिल रहा है। मैं एक माँ हूँ और अन्य माँओं की तरह ही मेरा बच्चा मेरी दौलत है। पर कुछ ऐसे भी माँयें हैं जिनके पास ऐसे साधन नहीं है जिससे वह अपने बच्चे को वह सब दे सकें जिसकी उसको आवश्यकता है। चाइल्ड राइट्स एंड यू अमेरिका इन्ही बच्चों की सहायता करती है यह संस्था बहुत ही उत्तम कार्य कर रही है। आपके सहयोग से बहुत से अन्य कार्य संपन्न हो जाएंगे जिनका होना अभी बाकी है। मैं क्राय अमेरिका की समर्थक हूँ मुझे इस बात पर मान है और आपको भी इस बात पर मान होना चाहिए। कोंकणा ने लोगों से अधिक से अधिक दान करने का आग्रह किया। क्राय से आप कैसे जुड़ीं यह पूछने पर कोंकणा ने बताया कि "क्राय मेरे बचपन का एक हिस्सा रही है। मेरी माँ क्राय को सहयोग किया करती थी और मैने क्राय के कार्ड भी देखें हैं तो जब मुझे क्राय से जुड़ने का मौका मिला तो मै बहुत खुश हुयी क्योंकि यह संस्था बहुत नेक काम कर रही हैं।
इसके बाद भारत से आये सचिन जैन को मंच पर आमंत्रित किया गया। विकास संवाद समित मध्य प्रदेश भारत के डायेक्टर सचिन जैन जमीनी स्तर पर बच्चों के लिए काम कर रहे हैं। यह राइट ऑफ़ फ़ूड कम्पैन के सदस्य है। इनकी संस्था विकास संवाद समित २००७ से क्राय से जुडी हैं। सचिन जी ने बताया कि शिवपुरी में एक परिवार में ५ या ६ बच्चें होते हैं पर एक ही बच्चा बचता है। १५० बच्चे ऐसे होते हैं जो अपना पहला जन्मदिन नहीं मना पाते हैं। यहाँ ४. ५ करोड़ कुपोषण का शिकार हैं और करीब १ करोड़ बहुत ही बुरी तरह कुपोषित हैं। यहाँ का पानी भी पिने योग्य नहीं है। सचिन जी खेती पर भी ध्यान दिया है। जिससे लोग अच्छा और स्वस्थ भोजन कर सकें। सचिन राजनन्दनी के बारे में बताते हुए कहा कि "यह बच्ची कुपोषण का शिकार थी पर घर वाले इसको स्वास्थ्य केन्द्र नहीं ले जाना चाहते थे। क्योंकि उनको लगता था की घर का ध्यान कौन रखेगा। हमारे संगठन के सदस्य आगे आये तब जा कर राजनन्दनी का इलाज हुआ। कुछ महिलाएं तो ऐसी हैं की जिस चाकू से घर में सब्जी काटी जाती है उसीसे बच्चा पैदा होने के बाद नाड काटती है "उन्होंने आगे कहा यहाँ बाल विवाह भी एक समस्या है कितनी बच्चियों का बालविवाह रुकवाया है और वही लड़कियाँ आज बहुत अच्छा पढ़ रही हैं।
रुचिका ने इसके बाद देवेन परलिकेर को आमंत्रित किया। देवेन जी ने आकर लोगों को अपना दिल और अपना पर्स खोल कर दान करने को कहा। उपस्थित अतिथियों ने उनकी बात मानी और यहाँ कुल १०८००० डॉलर एकत्रित हुए। जो उनके लक्ष्य से बहुत ही ज्यादा था। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में बैंक्वेट चेयर सोनाली सोनी और सुस्मिता ठकराल ,ऑक्शन प्रमुख रश्मि कलीता ,सीमा पाई और मानसी शाह ,प्लेज (pledge )प्रमुख देवेन पारलीकर और सोनाली सोनी ,निर्देशक और संरक्षक (Director & Trustee )एसवर्ड रेमिअस ,फण्डरेसिंग मैनेजर पैट्रिक बोको ,जनरल मैनेजर क्राई ग्लोबल ऑपरेशन लिपिका शर्मा इत्यादि का अथक योगदान रहा ।

इस शाम को और भी यादगार बनाने के लिए कुछ मनोरंजक कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया था। जिसमे के स्टूडियो की छात्रों के द्वारा कोंकणा के गानों पर नृत्य ,सैन डिएगो मियुज़िक एकेडमी का संगीत, अमेरिकन स्टैंडअप कॉमिडियन डॉन फेरिसेन की कॉमेडी शामिल थी। कार्यक्रम का संचालन रुचिका ने बहुत ही उत्तम तरीके से किया।
क्राय अमेरिका एक ५०१c३ लाभ निरपेक्ष संस्था है जिसका लक्ष्य सभी बच्चों को समान अधिकार देना है ताकी बह अपने सपनो को अपनी पूरी क्षमता के साथ पूरा कर सकें। http://www.america.cry.org पर जा कर आप दान कर के इस संस्था को अपना सहयोग दे सकते हैं।

Report : रचना श्रीवास्तव

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें