मुंबई (हम हिंदुस्तानी)-मजबूत और दिलचस्प सामग्री लाने के मकसद से सारेगामा इंडिया के प्रोडक्शन हाउस यूडली फिल्म्स ने अभी हाल ही में छप्पड़ फाड़ के की शूटिंग की.
विनय पाठक और आयशा रज़ा की मुख्य भूमिकाओं वाली यह फ़िल्म समीर जोशी द्वारा निर्देशित एक व्यंग्य कॉमेडी है, जो आपको अपने अनूठे अंदाज़ और कथानक के साथ आएगी.
कानपुरिये (अपारशक्ति खुराना और दिव्येंदु शर्मा अभिनीत) के बाद, छप्पड़ फाड़ के दूसरी फिल्म है जिसे इस वर्ष यूडली फिल्म्स के बैनर तले शूट किया गया है. पूरी फिल्म की शूटिंग मार्च महीने में पुणे शहर में हुई.
'छप्पड़ फाड़ के' उपभोक्तावाद और पाखंड पर एक व्यंग्यपूर्ण नज़र है, जो हमें अपने दैनिक जीवन में उलझाता है, जो एक विशिष्ट मध्यम वर्गीय महाराष्ट्रियन परिवार की पृष्ठभूमि में सेट है. गुपचुप परिवार को सख्त अनुशासन और नैतिकता के साथ शरद गुपचुप संभालते है, उनके साथ उनकी पत्नी वैशाली और उनके दो छोटे बच्चे शुभम और केतकी है. आदर्श नैतिक मूल्यों के बोझ से दबा परिवार हताशा का जीवन जीने लगता हैं. लेकिन जब परिवार करोड़ों रुपये नकदी से भरे बैग को पाता है तो उनका जीवन एक नैतिक संकट में फंस जाता है. उनकी सांसारिक इच्छाएं और आकांक्षाएं बताती हैं कि क्या करना सही होगा.
मशहूर अभिनेता विनय पाठक, जो अपनी अनोखी कॉमिक टाइमिंग और संवेदनशील किरदारों के लिए जाने जाते हैं, सख्त अनुशासनवादी और संरक्षक शरद गुपचुप की भूमिका निभाएंगे, जबकि जाने माने फिल्म और थिएटर अभिनेता आयशा रजा, जिन्होंने अपने अभिनय का लोहा मनवाया है, वैशाली की भूमिका में है. आयशा टॉयलेट: एक प्रेम कथा, हैप्पी भाग जाएगी और सोनू के टीटू की स्वीटी जैसी हालिया फिल्मों में काम कर चुकी है. फिल्म में थिएटर और टीवी कलाकार सिद्धार्थ मेनन और शीतल ठाकुर भी हैं, जो क्रमशः शुभम और केतकी की भूमिका निभा रहे हैं.
अभिनेता विनय पाठक ने टिप्पणी की, "फिल्म आज के समय में उपभोक्तावादी दुनिया में अपने नैतिक मूल्यों की खोज करती है. यह एक मज़ेदार, संवेदनशील और आकर्षक कहानी है और मैं वास्तव में इस परियोजना का हिस्सा बन कर उत्साहित हूं.
निर्देशक समीर जोशी ने कहा, “छप्पड़ फाड़ के ने मुझे विनय और आयशा जैसे धुरंधर कलाकारों और सिद्धार्थ और शीतल जैसे युवा प्रतिभाशाली कलाकारों के साथ काम करने का मौका दिया है. यह एक आधुनिक समय की कहानी है. एक ऐसी कहानी जो प्रासंगिक और आकर्षक दोनों है. मुझे वास्तव में खुशी हो रही है कि यूडली फिल्म्स इस परियोजना का समर्थन कर रही है और मुझे इस नाटक को पर्दे पर लाने के लिए सक्षम कर रही है.
सिद्धार्थ कुमार, प्रोड्यूसर यूडली फिल्म्स और वीपी टीवी एंड फिल्म, सारेगामा इंडिया ने कहा, “यूडली में, हमारा उद्देश्य प्रासंगिक सामग्री बनाना है जो दर्शकों को आकर्षक लगे और मनोरंजन मूल्य को बरकरार रखे. छप्पड़ फाड़ के हमारी दूसरी फिल्म है जो 2019 में आ रही है. यह एक व्यंग्यपूर्ण कॉमेडी है जो हमारे जीवन के प्रासंगिक पहलू को छूती है. इस तरह के एक प्रतिभाशाली कलाकारों के साथ, हम इस फिल्म को दुनिया के सामने पेश करने को ले कर उत्सुक हैं."
'छप्पड़ फाड़ के' साल के उत्तरार्ध में रिलीज़ होगी.

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें