मुंबई (हम हिंदुस्तानी)-अभिनेता गुलशन देवैया के साथ हाल ही में एक ऐसी घटना हुई, जिसमें उन्होंने समझदारी से आँख न मूंदने का अर्थ गहराई से समझा। हाल ही में जब गुलशन अपने अपार्टमेंट में थे, तब उन्होंने स्कूल के कुछ लड़कों को अपनी सोसाइटी की कंपाउंड की दीवार के पास लिक्विड ग्लू की बोतल पकड़े हुए देखा, जिसके मिश्रण को उन्होंने कपड़े के टुकड़े पर डाला और इसका विषाक्त धूआं सूंघने ही वाले थे। ये तरल पदार्थ, कई कफ सिरप, स्पिरिट्स और ऐसी कई अन्य सामग्रियों के रूप में स्वतंत्र रूप से उपलब्ध हैं जिनमें ऐसे कंटेंट होते हैं जो उपयोगकर्ताओं को ड्रग्स के समान हाई फीलिंग देते है और ये नशे की शुरुआत मानी जाती है। आमतौर पर कम उम्र के बच्चे इस तरह की चीजों से अवैध सामग्री के रास्ते चल पड़ते हैं । जब गुलशन ने उन्हें सूनसान जगह पर हाथों में ग्लू की बोतल लिए देखा तो वे चिंतित हो गए और इन बच्चों को रोकने तुरंत मौके पर पहुंचे। गुलशन ने उन तक पहुँचकर उन्हें सलाह और चेतावनी दी कि वे ऐसे हानिकारक काम ना करें जो आगे चलकर उनके जीवन की एक बड़ी बाधा बन सकती है। डर के मारे बच्चों ने उस ग्लू और कपड़े को फेंक दिया और परिसर से बाहर निकल गए। हालांकि वे समझते हैं कि सिर्फ एक बार उन्हें रोकने से, वे हमेशा के लिए बुराई के प्रति हतोत्साहित नहीं हो सकते। लेकिन वे लोगों से आग्रह करते हैं कि जब भी वे सार्वजनिक या निजी स्थानों पर जाएं तो ऐसे कृत्यों को हतोत्साहित करें। वे आगे कहते हैं, एक जिम्मेदार व्यक्ति के रूप में जब भी आप अन्याय, अपराध, जानवरों को नुकसान पहुंचाना, घरेलू हिंसा इत्यादि जैसी कोई बात देखें तो तुरन्त अपनी आवाज उठाएं। केवल एक मूक दर्शक बने रहने के बजाय हमें गलत कामों को रोकने और युवा दिमाग को बेहतर जानने की कोशिश करनी चाहिए।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें