आरके स्टूडियो पिछले कुछ समय से चर्चाओं में है। दरसअल, कपूर खानदान ने आरके स्टूडियो को बेचने का फैसला कर लिया है। ऐसे में इस दफा आरके स्टूडियो में कपूर परिवार अपना आखिरी गणेशोत्सव सेलिब्रेट कर रहा है। गुरुवार को कपूर परिवार के सदस्यों ने आरके स्टूडियो में अपनी आखिरी गणेश चतुर्थी सेलिब्रेट की, जिसका गवाह बनने के लिए कई लोग पहुंचे। इस मौके पर रणधीर कपूर और राजीव कपूर भी सेलिब्रेशन में शिरकत करने के लिए पहुंचे थे।आरके स्टूडियो में गणेशोत्सव और होली बड़ी धूमधाम से मनाई जाती थी। इस दफा भी हालांकि गणेशोत्सव पहले के वर्षों की ही तरह मनाया गया, लेकिन परिवार के लिए ये भावुक क्षण था। कपूर परिवार ने आरके स्टूडियो को बेचने का फैसला लिया है, जिसकी वजह से इस साल आखिरी दफा परिवार ने भगवान गणेश की प्रतिमा स्टूडियो में स्थापित की है। राज कूपर ने आरके स्टूडियो की स्थापना 70 साल पहले की थी, लेकिन पिछले साल स्टूडियो में आग लग जाने के बाद परिवार ने इसे बेचने का फैसला लिया।गणेश चतुर्थी के मौके पर प्रेस से बात करते हुए आखिरी दफा गणपति बप्पा का वेलकम करने और स्टूडियो को बेचने के सवालों पर रणधीर कपूर अपनी भावनाओं पर काबू नहीं रख सके। उन्होंने कहा कि उनका परिवार इस स्टूडियो को दोबारा खड़ा करने में सक्षम नहीं है और वह इसे बेचने के फैसले से दुखी हैं। केवल कपूर परिवार ही नहीं बल्कि इस प्रोडक्शन हाउस के कई कर्मचारी भी इस दौरान भावुक नजर आ रहे थे। हालांकि कपूर परिवार ने यह भी सुनिश्चित करने में कोई कमी नहीं छोड़ी की ये गणेशोत्सव परिवार के लिए यादगार बन जाए। स्टूडियो से सामने आई तस्वीरें और वीडियो को देखकर आप अंदाजा लगा सकते हैं कि परिवार ने कितने उत्साह से इस ग्रैंड पूजा में शिरकत की है।घर की बात करें तो ऋषि कपूर ने अपने घर पर बप्पा का वेलकम किया है। इस दौरान कपूर परिवार के सदस्यों के साथ ही सैफ अली खान ने भी पूजा में शिरकत की है। अगले दस दिनों में फैंस कपूर परिवार के आरके स्टूडियो में आखिरी गणेश विसर्जन के गवाह बने जा रहे हैं। निश्चित तौर पर ये एक अध्याय का अंत होगा।

 

 

 

 

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें