कारोबार

कारोबार (1884)

नई दिल्ली। यदि आप भी अपने सपनों का घर खरीदने के इंतजार में हैं, और एक बेहतर होम लोन की तलाश कर रहे हैं तो यह खबर आपको पढ़ना बेहद ही जरूरी है। इस स्वतंत्रता दिवस के मौके पर भारत का सबसे बड़ा बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) अपने ग्राहकों के लिए होम लोन पर काफी आकर्षक ऑफर उपलब्ध रहा रहा है। 15 अगस्त के मौके पर एसबीआई अपने ग्राहकों को जीरो प्रोसेसिंग फीस पर होम लोन लेने की सुविधा प्रदान कर रहा है। अपने एक ट्वीट के जरिए बैंक ने इस बात की जानकारी उपलब्ध कराई है।

क्या कहा SBI ने:-अपने ट्वीट के जरिए SBI ने बताया है कि, "जीरो प्रोसेसिंग होम लोन के जरिए इस आजादी के दिवस पर प्रवेश करें अपने सपनों के घर में"। आपको बतातें चलें कि SBI के द्वारा इस ऑफर का लाभ आजादी का अमृत महोत्सव अभियान के तहत दिया जा रहा है। जीरो प्रोसेसिंग फीस के अलावा भी SBI अपने होम लोन के साथ कई सारी अन्य सुविधाओं का लाभ भी दे रहा है।

महिलाओं को मिल रहा है विशेष लाभ;-SBI की तरफ से महिलाओं को होम लोन पर काफी आकर्षक छूट की सुविधा का लाभ दिया जा रहा है। होम लोन की सुविधा के तहत महिलाओं को 5 फीसद BPS इंटरेस्ट कंसेशन का फायदा पहुंचाया जा रहा है। इसके अलावा यदि आप SBI का योनो सर्विस के तहत होम लोन लेना चाहता हैं तो भी आपको 5 फीसद BPS इंटरेस्ट कंसेशन का लाभ हासिल होगा। SBI के द्वारा दिए जाने वाले होम लोन पर आपको 6.70 फीसद की दर से ब्याज चुकाना होगा।

 

कैसे करें अप्लाई:-आजादी का अमृत महोत्सव अभियान के तहत, 15 अगस्त के दिन आप भी SBI की इस आकर्षक होम लोन सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। आप SBI की डिजिटल सेवा YONO SBI के जरिए होम लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त आप बैंक के द्वारा जारी किए गए कॉन्टैक्ट नंबर 7208933140 पर मिस्डकॉल भी कर सकते हैं।

नई दिल्‍ली।  PFRDA और National Pension Trust के अलग होने की खबरों के बीच इसके खाताधारकों के लिए एक बड़ी खबर है। PFRDA ने खाते के रखरखाव (Exits and Withdrawals under the National Pension System) को लेकर कुछ बदलाव किए हैं, जिनसे खाते से पैसा निकालना नुकसान करा सकता है।PFRDA ने Exits and Withdrawals के नियम 6 में बदलाव किया है। इसके तहत अगर कोई खाताधारक Tier I खाते से निकासी करता है तो उसका Tier II खाता खुदबखुद बंद हो जाएगा और उसमें जमा रकम वापस मिल जाएगी। ऑल इंडिया अकाउंट्स कमेटी के महासचिव एचएस तिवारी ने बताया कि अगर ऐसा होता है तो खाताधारक को खाते का फायदा पूरी तरह नहीं मिल पाएगा। क्‍योंकि यह योजना 60 साल की उम्र पार होने पर मिलने वाली Pension से जुड़ी है, इसलिए बीच में खाता बंद करने से नुकसान हो सकता है। NPS से Exit से पहले ठीक से सोच लेना ज्‍यादा बेहतर होगा।PFRDA ने इसके अलावा एक बदलाव और किया है। वह यह कि केंद्र सरकार की National Pension Scheme Tier II Tax saving scheme 2020 के तहत अगर Tier II खाता खुलता है तो उसे मैच्‍योरिटी के बाद ही बंद किया जा सकेगा। एक और चेंज यह है कि अगर खाताधारक 60 साल का हो गया है और नियम 7 के तहत उसने 1 महीना पहले NPS खाता बंद करने की Withdrawal Applcation नहीं दी है तो उसके खाते में जमा रकम Monetize कर दी जाएगी और उसे निदेशों के हिसाब से जमा रखा जाएगा।

क्‍या है NPS:-National Pension system में दो तरह से खाते खुलते हैं। Tier I अकाउंट पेंशन अकाउंट है, वहीं, Tier II अकाउंट स्वैच्छिक सेविंग अकाउंट है। जिन एनपीएस सब्सक्राइबर का Tier I अकाउंट है, वे Tier II अकाउंट भी खोल सकते हैं। Tier II अकाउंट प्राइवेट सेक्‍टर, कारोबारी और Housewives भी खोल सकती हैं। मोदी सरकार ने National Pension Scheme Tier II Tax saving scheme 2020 के तहत यह खाता खोलने की छूट दी है।

IPO में लगेगा NPS का पैसा:-एक खबर यह भी हैं कि पेंशन फंड मैनेजर (पीएफएम) को जल्द ही प्रारंभिक सार्वजनिक ऑफर (IPO) और प्रमुख शेयरों में निवेश करने की इजाजतदी जाएगी। पेंशन नियामक और विकास प्राधिकरण (PFRDA) के अध्यक्ष सुप्रतिम बंद्योपाध्याय ने बीते दिनों कहा था कि नियामक का लक्ष्य Retirement fund के सदस्यों की संख्या में बढ़ोतरी करना है। इस समय पीएमएफ इक्विटी घटक को सिर्फ ऐसे शेयरों में निवेश कर सकते हैं, जिनका बाजार पूंजीकरण 5,000 करोड़ रुपये से ज्‍यादा है और जो Futures and option में कारोबार के लायक है।

PFRDA और NPS Trust अलग होंगे;-इसके लिए PFRDA और NPS Trust अलग होने वाले हैं। मोदी सरकार जल्‍द एक बिल लाएगी। एक अधिकारी ने बताया कि इस मामले में अंतिम फैसले के लिए संसद द्वारा पीएफआरडीए कानून में संशोधन का इंतजार है। सुप्रतिम बंद्योपाध्याय ने बताया कि अलग होने के लिए पीएफआरडीए अधिनियम में संशोधन जरूरी है।

नई दिल्ली। IRCTC DWARKA SOMANATH SHRAVAN SPECIAL YATRA (WZBD 307 ) के नाम से पैकेज लेकर आया है। इस पैकेज के तहत यात्री "Bharat Darshan Special Tourist Train" नामक ट्रेन से यात्रा कर सकते हैं। पैकेज में 6 रात और 7 दिन के लिए यात्रा का ऑफर है। IRCTC कहना है कि "भारत दर्शन स्पेशल टूरिस्ट ट्रेन", देश के सभी महत्वपूर्ण पर्यटन स्थलों को कवर करते हुए सबसे किफायती दर में टूर पैकेजों ऑफर कर रही है। भारत दर्शन विशेष टूरिस्ट ट्रेन की बुकिंग IRCTC की वेबसाइट से की जा सकती है।

बोर्डिंग पॉइंट और डीबोर्डिंग पॉइंट: Solapur - Kurduwadi - Daund - Pune - Chinchawad - Lonavala - Kalyan - Vasai Road - Palghar - Dahanu Rd - Surat

कौन से डेस्टिनेशन होंगे कवर: Dwarka - Somanath –- Statue of Unity (Kevadia)

कब से शुरू होगी यात्रा: दिनांक: 16.08.2021 से 22.08.2021 (6 रात/7 दिन)

स्टेशन/प्रस्थान का समय: Solapur 21:00 बजे (रात 9 बजे)

क्लास- SL & 3Tier AC

खाने में क्या रहेगी सुविधा: सुबह का नाश्ता, दोपहर का भोजन, रात्रि का भोजन

कितना आएगा खर्च

भारत दर्शन टूर पैकेज की कीमत स्टैण्डर्ड क्लास 6615/- रुपये प्रति व्यक्ति

कम्फर्ट क्लास 8085/- प्रति व्यक्ति

पैकेज में क्या रहेगा शामिल

रात्रि विश्राम/सुबह फ्रेश होने की सुविधा

शुद्ध शाकाहारी भोजन

दर्शनीय स्थलों की यात्रा के लिए पर्यटक बसें

प्रत्येक कोच (बिना हथियारों के) के लिए सुरक्षा व्यवस्था

ट्रेन में एक आईआरसीटीसी अधिकारी ट्रेन अधीक्षक के रूप में

SIC के आधार पर नॉन एसी रोड ट्रांसफर।

यात्रा बीमा।

पैकेज में क्या शामिल नहीं रहेगा

दवाएं

स्मारकों के लिए प्रवेश शुल्क

टूर गाइड की सेवा

नई दिल्‍ली। IRCTC समेत दूसरी बड़ी कंपनियों के बाद अब एक और सरकारी कंपनी IPO लाने वाली है। यानि आपके पास Sarkari Company में हिस्‍सेदार बनने का मौका है। सरकार ने आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) के जरिये राष्ट्रीय बीज निगम (NSC) में अपनी 25 प्रतिशत तक हिस्सेदारी बेचने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (Dipam) ने प्रस्तावित IPO पर काम करने के लिए मर्चेंट बैंकरों और कानूनी सलाहकारों से बोलियां आमंत्रित की हैं। इस प्रस्ताव पर बोली जमा करने की आखिरी तारीख 1 सितंबर है।दीपम ने एनएससी में विनिवेश से संबंधित मर्चेंट बैंकरों से प्रस्ताव आमंत्रित करते हुए कहा कि सरकार हिस्सेदारी बिक्री के प्रबंधन के लिए दो बैंकरों की नियुक्ति करेगी। सरकार की कंपनी में 100 फीसदी हिस्सेदारी है।

कैसा रहा रिजल्‍ट:-NSC को वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान कर बाद 29.92 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। वही 31 मार्च, 2020 तक उसकी नेटवर्थ 646.37 करोड़ रुपये थी। उल्लेखनीय है कि सरकार ने चालू वित्त वर्ष में विनिवेश के जरिये 1.75 लाख रुपये जुटाने का लक्ष्य रखा है। वहीं अब तक Axis Bank, NMDC लि. और शहरी विकास निगम (HUDCO) में अपनी हिस्सेदारी बेचकर सरकार ने 8,368 करोड़ रुपये जुटा लिए हैं।

एडलवेइस वेल्थ मैनेजमेंट भी जुटाएगी रकम:-यह भी खबर है कि एडलवेइस वेल्थ मैनेजमेंट ने कहा है कि उसका प्री-आईपीओ और निजी इक्विटी (पीई) फंड के जरिए एक अरब डॉलर जुटाने का लक्ष्य है। इस साल मार्च में 'एडलवेइस क्रॉसओवर अपॉर्चुनिटीज फंड' पेश करने वाली कंपनी पहले ही इसकी पहली तीन श्रृंखला में 50 करोड़ डॉलर जुटा चुकी है।कंपनी ने एक बयान में कहा कि उसने इसी रणनीति के तहत 20 करोड़ डॉलर जुटाने के लक्ष्य के साथ 'सीरीज 3ए' शुरू करने की घोषणा की है। कंपनी ने कहा कि उसकी 'क्रॉसओवर' रणनीति जारी रहेगी और इसके तहत एक अरब डॉलर जुटाने का लक्ष्य हासिल करने के लिए अगले 12 से 18 महीने में कई फंड पेश किए जाएंगे।

नई दिल्‍ली। महंगाई भत्‍ते (Dearness Allowance) में बढ़ोतरी के रूप में 1 करोड़ से ज्‍यादा केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनरों की किस्‍मत खुलने के बाद अब राजस्‍थान के लाखों सरकारी कर्मचारियों की लॉटरी लगी है। राजस्थान सरकार ने राज्य सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों का महंगाई भत्ता (DA) 17 से बढ़ाकर 28 प्रतिशत करने का फैसला किया है। यानि अगस्‍त से खाते में सैलरी के साथ DA की मोटी रकम आएगी। इस बढ़ोतरी से कर्मचारियों के दूसरे भत्‍ते भी बढ़ जाएंगे। अनुमान के तौर पर कर्मचारियों की सैलरी में 1980 रुपए से लेकर 27500 रुपए महीना की बढ़ोतरी होगी।

जनवरी 2020 में केंद्रीय कर्मचारियों का DA 4% बढ़ा:- राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट किया कि जनवरी 2020 में केंद्रीय कर्मचारियों का DA 4% बढ़ा था। इसके बाद दूसरी छमाही में 3% इजाफा हुआ। अब जनवरी 2021 में यह 4% बढ़ा है। इससे यह 28% पर पहुंच गया है।

नई दर एक जुलाई, 2021 से प्रभावी;-गहलोत ने कहा कि राजस्थान सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों का महंगाई भत्ता 17 से बढ़ाकर 28 प्रतिशत करने का फैसला किया गया है। महंगाई भत्ते की नई दर एक जुलाई, 2021 से प्रभावी होगी। गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार अपने इस फैसले को लागू करने के लिए सालाना 4,000 करोड़ रुपये खर्च करेगी।

कैलकुलेशन समझिए;-Level 1 Basic pay = 18000 रुपए

11% DA Hike = 1980 रुपए महीना

Yearly hike in DA = 23760 रुपए सालाना

(कैबिनेट सचिव स्‍तर के अधिकारी की सैलरी में 27500 रुपए महीना की बढ़ोतरी होगी। इनकी बेसिक सैलरी सबसे ज्‍यादा 2.5 लाख रुपए है।)

महंगाई राहत में बढ़ोतरी;-आल इंडिया अकाउंट एंड आडिट कमेटी के जनरल सेक्रेटरी एचएस तिवारी ने केंद्र सरकार के महंगाई भत्‍ते और महंगाई राहत में बढ़ोतरी के फैसले का स्‍वागत किया। Jagran.com से उन्‍होंने कहा कि केंद्र के बाद अब सभी राज्‍य एक-एक कर DA और DR में बढ़ोतरी को लागू करेंगे। राजस्‍थान ऐसा करने वाला पहला राज्‍य हो सकता है। तिवारी के मुताबिक Uttar Pradesh में भी सरकार से बातचीत चल रही है।

  डेढ़ साल का एरियर भी दे सरकार:-राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद उप्र के महामंत्री आरके निगम के मुताबिक केंद्रीय सरकार द्वारा केंद्र के कर्मचारियों के लिए 1 जुलाई 2021 से DA 17% से बढ़ाकर 28% कर दिया गया है, लेकिन जनवरी 2020 से जून 2021 तक के एरियर के भुगतान का आदेश नहीं हुआ है। उत्तर प्रदेश सरकार इसके आधार पर आदेश जारी करेगी पर हम मांग करते हैं कि मुख्यमंत्री एरियर भुगतान पर भी फैसला करें। इससे मंहगाई के दौरान कर्मचारियों को कुछ राहत मिल सकेगी।

नई दिल्‍ली। Covid 19 के मरीजों को घर पर किसी बीमारी के इलाज के लिए भी हेल्थ इंश्योरेंस कवर (Covid Health insurance cover) मिलेगा। भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (इरडा) ने दिल्‍ली हाईकोर्ट को बताया कि इंश्योरेंस कंपनियों को ऐसा प्रोडक्ट, जिसमें Add on Feature हो, को तैयार करने के लिए कहा गया है। कोरोना काल में घर पर इलाज के मामले में इंश्योरेंस कवरेज की सफलता को देखते हुए IRDAI ने नए तरीके से घर पर होने वाले इलाज के लिए कंपनियों को यह सुविधा उपलब्ध देने के लिए कहा है।

ग्राहकों से कुछ शुल्क ले सकती है कंपनियां:- IRDA ने कोर्ट को बताया कि इंश्योरेंस कंपनियों से कहा गया है कि वे चाहें तो अपने ग्राहकों से कुछ शुल्क लेकर पहले से चले आ रहे हेल्थ इंश्योरेंस में यह सुविधा जोड़ सकती हैं या होम केयर ट्रीटमेंट कवरेज के साथ नया उत्पाद ला सकती हैं।

होम ट्रीटमेंट इंश्योरेंस:-इरडा के जवाब के मुताबिक होम ट्रीटमेंट इंश्योरेंस के तहत डाक्टरी सलाह पर किसी ऐसी बीमारी का इलाज अगर घर पर होता है जिसके लिए अस्पताल जाना जरूरी माना जाता है तो उसे कवर किया जाएगा। अभी आमतौर पर अस्पताल में भर्ती होकर इलाज कराने पर ही हेल्थ इंश्योरेंस का फायदा मिलता है।

'कोरोना कवच' पॉलिसी;-नियामक ने कहा कि कोरोना पर केंद्रित होने के बावजूद 'कोरोना कवच' पॉलिसी में बीमा अवधि के दौरान अन्य सभी बीमारियों का इलाज भी कवर होगा। इस पॉलिसी की अवधि छोटी रहेगी। सभी जनरल और हेल्थ इंश्योरेंस कंपनियों को अनिवार्य रूप से 'कोरोना कवच' पॉलिसी जारी करने को कहा गया है। वहीं 'कोरोना रक्षक' पॉलिसी को वैकल्पिक रखा गया है।

नई दिल्‍ली। Indian railways ने अपने लाखों कर्मचारियों के Provident Fund Khata की ब्‍याज दरें जारी कर दी हैं। नई ब्‍याज दरें 1 जुलाई 2021 से 30 सितंबर 2021 तक के लिए हैं। रेलवे बोर्ड ने बताया कि ये ब्‍याज दरें फाइनेंस मिनिस्‍ट्री से एप्रूवल मिलने के बाद लागू की गई हैं। इन तीन महीनों के लिए ब्‍याज दर समान रहेगी। इसके बाद अक्‍तूबर 2021 से दिसंबर 2021 तिमाही के…
नई दिल्‍ली। वैश्विक बाजारों में सकारात्मक रुख के बीच HDFC Bank, HCL tech जैसे बड़े शेयरों में बढ़त के कारण प्रमुख शेयर सूचकांक Sensex गुरुवार को 111.50 अंक या 0.21 प्रतिशत बढ़कर 53,015.55 के स्‍तर पर पहुंच गया है। जबकि व्यापक एनएसई निफ्टी 31.30 अंक या 0.20 प्रतिशत बढ़कर 15,885.25 पर पहुंच गया। इस बीच, बीते हफ्ते जिने दो कंपनियों GR Infraprojects और Clean Science and Technology के शेयरों का…
दिल्ली। इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (IPPB) अपने मोबाइल एप के जरिए डिजिटल रूप से बचत खाता खोलने की सुविधा प्रदान करता है। पोस्ट ऑफिस खाताधारक इस एप के जरिए आसानी से बेसिक बैंकिंग लेनदेन कर सकते हैं। इससे ग्राहकों की बैंकिंग सेवाओं तक काफी आसान पहुंच हो गई है। यदि आपके पास आईपीपीबी खाता खुलवाने के लिए पोस्ट ऑफिस जाने का समय नहीं है और आप वहां लाइन में खड़े…
नई दिल्ली:- घरेलू बाजार में अधिक स्टॉक के कारण भारत का पाम ऑयल आयात इस साल के पिछले महीने की तुलना में 24 प्रतिशत गिरकर 5,87,467 टन रह गया। उद्योग निकाय सॉल्वेंट एक्सट्रैक्टर्स एसोसिएशन (SEA) ने मंगलवार को यह जानकारी दी। SEA ने चिंता जताई कि सितंबर तक कच्चे पाम ऑयल (सीपीओ) और अन्य पाम ऑयल के आयात शुल्क में हालिया कटौती, साथ ही दिसंबर तक आरबीडी पामोलिन का अप्रतिबंधित…
Page 1 of 135

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें

data-ad-type="text_image" data-color-border="FFFFFF" data-color-bg="FFFFFF" data-color-link="0088CC" data-color-text="555555" data-color-url="AAAAAA">