कारोबार

कारोबार (492)

नई दिल्ली। पिछले कुछ वर्षों में शहरी आबादी के बीच क्रेडिट कार्ड काफी लोकप्रिय हो गया है। हाल ही में ट्रांसयूनियन CIBIL इंडस्ट्री इनसाइट्स रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय अपने क्रेडिट कार्ड के उपयोग को लेकर काफी अग्ग्रेसिव एप्रोच रखने लगे हैं। रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि अभी देश में क्रेडिट कार्ड का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जा रहा है।क्रेडिट कार्ड ज्यादा कॉमन होने की वजह से अब इससे पेमेंट में भी चूक के मामले बढ़ गए हैं। ऐसे में क्रेडिट कार्ड यूजर के लिए कार्ड यूज करने से पहले कुछ ध्यान देने वाली बाते हैं। जिनपर गौर करके आप क्रेडिट का यूज आसानी से कर सकते हैं।
ज्यादा खर्च;-चूंकि क्रेडिट कार्ड स्वाइप करना आसान है और पैसे आपके खाते से तुरंत डेबिट नहीं होते हैं इसलिए आपको खर्च का ज्यादा एहसास नहीं होता है और क्रेडिट कार्ड के उपयोग करने का यह सबसे बड़ा जोखिम है। क्रेडिट कार्ड यूजर जितना खर्च का भुगतान कर सकते हैं उन्हें उतना ही खर्च करना चाहिए, उससे अधिक खर्च होगा तो वे सीधे कर्ज के जाल में फंस सकते हैं।इससे बचने का एक तरीका यह है कि आप अपने क्रेडिट कार्ड के लेनदेन पर नज़र रखें। सुनिश्चित करें कि एसएमएस/ईमेल अलर्ट सक्रिय हैं ताकि आप जान सकें कि आपने कितना खर्च किया है और आपकी क्रेडिट सीमा अभी भी कितनी बची है।
कर्ज:-क्रेडिट कार्ड यूजर को आंशिक भुगतान सुविधा का लाभ मिलता है, जिसका मतलब है कि कार्डधारक न्यूनतम देय शेष राशि का भुगतान कर सकता है और बाकी बचे राशि को आगे बढ़ा सकता है। लेकिन जो पैसा आगे बढ़ाया जाएगा उसपर ज्यादा ब्याज देना होगा ऐसे में रिपेमेंट में भी मुश्किल होगी और आप सीधे कर्ज के जाल में फंस सकते हैं।
क्रेडिट स्कोर:-अगर आप लोन लेना चाहते हैं तो कंपनियां आपसे क्रेडिट या सिबिल स्कोर पूछती है। अगर आपका यह स्कोर अच्छा होता है तो आपको आसानी से लोन मिल जाता है। अगर यह स्कोर खराब होता है तो आपकी लोन ऐप्लिकेशन रिजेक्ट भी हो सकती है। इसलिए अपने क्रेडिट स्कोर को ठीक रखें। क्रेडिट स्कोर में बिल की लेट पेमेंट, ज्यादा क्रेडिट कार्ड एप्लिकेशन, क्रेडिट लिमिट बढ़ाना जैसी चीजें असर डालती है। इस स्कोर को अच्छा करने के लिए 30/25/20 का फॉर्मूला काम आ सकता है।क्रेडिट स्कोर तय करने में लेट बिल पेमेंट का सबसे बड़ा योगदान होता है। क्रेडिट कार्ड बिल या कर्ज की लेट पेमेंट करने पर क्रेडिट स्कोर में 30 फीसद असर पड़ता है। इसलिए अपने क्रेडिट स्कोर को सही रखने के लिए समय पर बिल और लोन की किस्त चुकाते रहें।
शुल्क;-क्रेडिट कार्ड अक्सर अनपेड बैलेंस पर 35% से 50% ब्याज लेते हैं। इसके अलावा, यदि कोई व्यक्ति अगर समय पर क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान नहीं कर पाता है तो उसे 1,000 रुपये का अतिरिक्त विलंब शुल्क देना होगा। यदि कार्डधारक ने आंशिक रूप से बिल का भुगतान किया है और बाकी बचे बैलेंस को आगे बढ़ाने का फैसला किया है तो उसे फिर ब्याज ज्यादा देना होता है। इससे बचने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप समय पर बिलों का भुगतान कर दें और।

नई दिल्ली। एयरलाइन कंपनी गोएयर प्रमोशनल स्कीम के तहत 1399 रुपये में घरेलू फ्लाइट टिकट का ऑफर दे रही है। गोएयर के इस ऑफर के तहत टिकट बुकिंग की आखिरी तारीख 30 दिसंबर 2018 है। इस ऑफर के तहत बुक किए गए टिकट पर यात्रा की अवधि 13 जनवरी से 31 जनवरी 2019 है।गोएयर के इस ऑफर के तहत सबसे सस्ता टिकट बेंगलुरु, हैदराबाद, मुंबई-अहमदाबाद, कोलकाता-भुवनेश्वर, लखनऊ-दिल्ली, और पटना कोलकाता रूट्स पर उपलब्ध है, जबकि महंगा टिकट कोलकाता-अहमदाबाद और रांची-मुंबई रूट्स पर उपलब्ध है।गोएयर ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि यह यात्रा के प्लान के लिए सही समय है, आप हवाई यात्रा कर अच्छा खासा पैसा बचा सकते हैं, अपना बैग पैक करें और अपने पसंदीदा जगह पर निकल जाएं।इसके अलावा एक दूसरे स्कीम में गोएयर ने एक निश्चित समय के लिए 13,899 रुपये में अंतरराष्ट्रीय रूट्स पर फ्लाइट टिकट का ऑफर दिया है। एयरलाइन दिल्ली से फुकेट के लिए डेली डायरेक्ट फ्लाइट की घोषणा की है। इसके अलावा मुंबई और बेंगलुरु से वापसी का किराया भी 13899 रुपये है। इस ऑफर के तहत यात्रा की अवधि 31 मार्च 2019 है।दूसरी ओर प्रतिद्वंदी कंपनी जेट एयरवेज लिमिटेड पीरियड ऑफर के तहत टिकट पर 30 परसेंट डिस्काउंट दे रही है। जेट एयरवेज का डिस्काउंट ऑफर - चुनिंदा घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में प्रीमियर और इकोनॉमी बुकिंग क्लास में बेस किराए पर लागू 1 जनवरी, 2019 तक वैध है।

 

नई दिल्ली। सरकार ने चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-अक्टूबर अवधि में 6,585 मामलों में 38,896 करोड़ रुपये की वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) चोरी पकड़ी। वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने लोकसभा में शुक्रवार को कहा कि सात महीने की इस अवधि में 398 मामलों में 3,028.58 करोड़ रुपये की केंद्रीय उत्पाद शुल्क चोरी पकड़ी गई। इसी दौरान 3,922 मामलों में 26,108.43 करोड़ रुपये की सेवा कर चोरी पकड़ी गई।शुक्ल ने लोकसभा में एक लिखित जवाब में कहा कि 12,711 मामलों में 6,966.04 करोड़ रुपये की कस्टम चोरी पकड़ी गई और 6,585 मामलों में 38,895.97 करोड़ रुपये की जीएसटी चोरी पकड़ी गई। कुल अप्रत्यक्ष करों (जीएसटी, सेवा कर, उत्पाद और सीमा शुल्क) की चोरी इस दौरान करीब 75,000 करोड़ रुपये की पकड़ी गई।शुक्ल ने कहा कि सात महीने की इस अवधि में केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीआइसी) ने जीएसटी चोरी में से 9,480 करोड़ रुपये की वसूली कर ली।

नई दिल्ली। इंटरनेशनल डेस्टिनेशन पर जाने से पहले अक्सर लोग ब्लॉग या किताबों का सहारा लेते हैं। ऐसा इसलिए कि वे उस नए देश और जहां यात्रा करने जा रहे हैं वहां के बारे में जानना चाहते हैं। कई बार अपनी अंतरराष्ट्रीय यात्रा के दौरान हम गलती कर बैठते हैं। इसलिए हमें एक ट्रेवल एडवाइजर की जरूरत होती है। साथ ही पैसा भी ज्यादा खर्च होता है। हम इस खबर में आपको कुछ ऐसा ट्रिक बता रहे हैं जिनपर गौर करके आप विदेश यात्रा में अपने पैसे बचा सकते हैं।
जहां जाना हो वहां की करेंसी वैल्यू की जांच करें:-छुट्टी पर कहीं घूमने जाने से पहले वहां की करेंसी मूल्य की जांच कर लें। यदि आप ऐसे जगह जा रहे हैं जहां आपकी करेंसी का मूल्य कम हो रहा है तो आपको बहुत सारा पैसा बचेगा।
बेस्ट डील के लिए ट्रैवल साइट पार्टनर चुनें:-सबसे अच्छे सौदे के लिए ट्रैवल साइट पार्टनर का चुनाव करें। बहुत सारे ऑनलाइन ट्रैवल बुकिंग वेबसाइट हैं जिनके माध्यम से आप बेस्ट डील का ऑप्शन चुन सकते हैं। कई वेबसाइट एक महीने के कैलेंडर के साथ यात्रियों को विशेष पैकेज के लिए की जानकारी देते हैं।
ट्रैवल लोन की सुविधा:-विदेश यात्रा के लिए अगर आप अपनी सेविंग से पैसा जुटा सकते हैं तो यह बेहतर विकल्‍प है। अगर आप सेविंग से इसके लिए पर्याप्‍त पैसे नहीं जुटा पा रहे हैं तो आप पर्सनल लोन के लिए भी आवेदन कर सकते हैं। कई बैंक ट्रैवेल लोन दे रहे हैं। यह पर्सनल लोन का ही वैरिएंट होता है।
ट्रैवल फाइनेंसिंग स्‍कीम:-कई ट्रैवेल ऑपरेटर्स फाइनेंसिंग स्‍कीम चलाते हैं। जिससे आप ईएमआई पर ट्रैवेल हॉलीडे पैकेज ले सकते हैं। ट्रैवेल एजेंसियां बैंकों और एनबीएफसी से टाईअप करके फ्लाइट, खाने, रहने का खर्च कवर करती हैं। ऐसे ट्रैवेल फाइनेंस स्‍कीमों के तहत पैसे के रिपेमेंट की अवधि 1 से 5 साल तक होती है। इनका इंटरेस्‍ट रेट पर्सनल लोन की तरह होता है।
ऐसे बचाएं पैसा;-अक्सर देखा जाता है कि लोग घूमते वक्त प्राइवेट टैक्सी या कैब का सहारा लेते हैं, जिसके चलते उनका खर्च बढ़ जाता है। इसलिए जब भी घूमने जाएं तो पब्लिक ट्रांसपोर्ट को चुनें, क्योंकि यह सस्ता होता है। विदेशों में कई डेस्टिनेशन ऐसे हैं जहां पास के जरिए सफर को ज्यादा सस्ता बनाया जा सकता है।
फ्लाइट का किराया:-अगर आप विदेश यात्रा पर जा रहे हैं तो फ्लाइट पर मिलने वाली छूट का खासा ध्यान रखें। ज्यादातर खर्च जाने-आने और ठहरने में लगता है, इसलिए जब भी फ्लाइट बुक करें तो नेट पर अच्छे से फ्लाइट ऑफर को खंगाल लें ताकि आपको पता चल सके कि कौन सी फ्लाइट में कितनी छूट मिल रही है।

 


नई दिल्ली - पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले की वजह से बैंकों को तीन अरब डॉलर से अधिक का झटका लग सकता है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने आयकर विभाग के नोट के जरिए बताया है कि मार्च 2017 तक बैंकों ने नीरव मोदी और मेहुल चोकसी से जुड़ी ज्वैलरी कंपनियों को 176.32 अरब रुपये (2.74 अरब डॉलर) का लोन और गारंटी दे रखा है।
घोटाला सामने आने के बाद से लोन और कॉरपोरेट गारंटी की रकम में इजाफा हुआ है और यह 3 अरब डॉलर के स्तर को पार सकता है। बैंक ने अपनी शिकायत में बताया था कि फर्जी लेन-देन (लेटर ऑफ अंडरटेकिंग) की वजह से उसे 1.77 अरब डॉलर का नुकसान हुआ है। इसमें कहा गया है कि चोकसी की गीतांजलि जेम्स और सहायक कंपनियों ने 32 बैंकों के साथ लेन-देन किया, जिसमें यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, इलाहाबाद बैंक और एक्सिस बैंक शामिल हैं।
शुक्रवार को यूनियन बैंक ने बताया कि इस धोखाधड़ी में उसकी 30 करोड़ डॉलर की रकम शामिल है। घोटाले का भंडाफोड़ होने के बाद चोकसी और मोदी देश छोड़कर फरार हो चुके हैं।
हाल ही में कर्ज वसूली अधिकरण (डीआरटी) ने 7,000 करोड़ रुपये से अधिक के बकाए की वसूली के लिए भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी, उसके परिवार के सदस्यों और उसकी कंपनियों को नोटिस भेजा है। पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) ने अपने 7,029 करोड़ रुपये वसूलने के लिए जुलाई में अधिकरण से गुहार लगाई थी।
डीआरटी के नोटिस का जवाब देने के लिए उन्हें 15 जनवरी, 2019 तक का समय दिया गया है जिसमें विफल होने पर पंजाब नेशनल बैंक की याचिका पर एकतरफा फैसला होगा।


नयी दिल्ली - संसद की एक समित का निष्कर्ष है कि विमान यात्रियों के लिए निजी क्षेत्र की एयरलाइन इंडिगो का प्रदर्शन सबसे 'खराब है जबकि एअर इंडिया की यात्री- सामान नीति सबसे अच्छी है। पर्यटन, संस्कृति, सड़क, जहाजरानी और विमानन से जुड़ी संसद की स्थायी समिति की इन विषयों पर ताजा रपट की जानकारी देते हुए तृणमूल कांग्रेस के सदस्य और समिति के अध्यक्ष डेरेक ओ-ब्रायन ने बृहस्पतिवार को संवाददता सम्मेलन में कहा कि त्योहारों के मौसम में कुछ एयरलाइनों द्वारा सामान्य किराये से 8-10 गुना अधिक किराया लिये जाने को समिति ने गंभीरता से लिया है। समिति की संसद में हाल में प्रस्तुत की गयी।
ओ-ब्रायन ने कहा, “इस बात को लेकर हमारी समिति बिल्कुल स्पष्ट है कि यात्रियों के लिए इंडिगो सबसे खराब एयरलाइन है। सभी 30 सदस्य इस बात को लेकर सहमत हैं। कई शिकायतों के बावजूद इंडिगो ने उन पर गौर नहीं किया। ग्राहकों से व्यवहार एवं सामान का वजन केवल एक से दो किलोग्राम अधिक होने पर जिस तरह वे शुल्क वसूलते हैं...”
'इंडिगो एयरलाइंस का रुख बहुत हठी'
उन्होंने कहा, “(समिति) का हर सदस्य कुछ निजी एयरलाइनों के परिचालन के तरीके से निराश हैं लेकिन इंडिगो के मामले में कुछ ज्यादा निराश हैं। वह एयरलाइन बहुत अशिष्ट है। एयरलाइन का रुख बहुत हठी है और कई बार वह सामान का वजन एक से दो किलोग्राम अधिक होने पर भी शुल्क वसूलते हैं। समिति इससे नाखुश है और उसने मामले को गंभीरता से लिया है।”
ओ-ब्रायन ने कहा कि यह केवल उनके विचार नहीं है बल्कि समिति के सभी सदस्यों की राय भी कुछ इसी प्रकार की है। उल्लेखनीय है कि समिति में विभिन्न दलों के सदस्य शामिल हैं।
तृणमूल नेता ने कहा कि विमानन क्षेत्र में कई तरह की समस्याएं हैं। उन्होंने कहा, “समिति ने सिफारिश की है कि टिकट को रद्द कराने का शुल्क मूल किराये का 50 प्रतिशत से अधिक नहीं होना चाहिए। कर और ईंधन अधिभार यात्रियों को वापस किया जाना चाहिए। एयरलाइन बहुत अधिक धन वसूल रहे हैं।”
सामान से जुड़ी नीति के बारे में कहा कि सरकारी एयरलाइन की इससे जुड़ी नीति सबसे अच्छी है और अन्य विमानन कंपनियों को भी सामान की सीमा बढ़ानी चाहिए।

 

नई दिल्ली - महाराष्ट्र सरकार का नए साल पर कर्मचारियों को तोहफा देने जा रही है। 2019 के लोकसभा और राज्य विधानसभा चुनावों को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने अपने कर्मचारियों के लिए न्यू ईयर बोनांजा की घोषणा की है। महाराष्ट्र सरकार 1 जनवरी से सभी कर्मचारियों के लिए सिफारिशों को मंजूरी दे दी है।महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुआ बैठक में वेतन और भत्ता वृद्धि के फैसले को…
नई दिल्ली - अमेरिका में कच्चे तेल के साप्ताहिक आंकड़े आने से पहले गुरुवार को अंतरार्ष्ट्रीय बाजार में फिर कच्चे तेल के भाव में नरमी आई। इससे पहले बुधवार को प्रमुख विदेशी वायदा बाजारों में तेल के दाम में आठ फीसदी से ज्यादा का उछाल आया, जिसके कारण भारतीय वायदा बाजार में अब तक कच्चे तेल के सौदों में तेजी एक फीसदी से ज्यादा की बढ़त बनी हुई है। हालांकि,…
नई दिल्ली - दूरसंचार नियामक ट्राई 29 दिसंबर से केवल और डीटीएच ऑपरेटर के लिए नया टैरिफ नियम लागू कर रहा है। इसके तहत टीवी दर्शकों को 100 फ्री टू एयर चैनल मिलेंगे, जिनके लिए उनको 130 का भुगतान (जीएसटी अलग से) करना होगा। इसके अतिरिक्त दूसरे मनपसंद चैनल देखने के लिए ब्रॉडकास्टर्स द्वारा तय की गई बुके राशि का भुगतान करना होगा। ऐसे में नए नियम लागू होने से…
नई दिल्ली - लगातार घाटे में चल रही एयर इंडिया को मुनाफे में लाने के लिए सरकार ने योजना तैयार की है। इस योजना के तहत व्यापक वित्तीय पैकेज का प्रावधान रखा गया है, जिसमें रणनीतिक रुप से एयरलाइन के मुख्य व्यवसायों और मजबूत संगठनात्मक सुधारों के लिए अलग-अलग पैसा दिया जाएगा। केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने संसद को बताया कि एयर इंडिया की दशा बदलने की तमाम पहल की…
Page 34 of 36

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें