नई दिल्ली। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने 1 जनवरी, 2020 से SBI एटीएम के माध्यम से रात 8 बजे से सुबह 8 बजे के बीच 10,000 रुपये निकालने के लिए OTP आधारित नकद निकासी की शुरुआत की थी। बैंक ने यह कदम एटीएम सुरक्षा प्रणाली को मजबूत करने और ग्राहकों की सुरक्षा को देखते हुए उठाया था। अब बैंक ने इसमें विस्तार किया है और 18 सितंबर, 2020 से अब देशभर में SBI के ग्राहकों को 10,000 और इससे ज्यादा निकासी के लिए उनके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी जाएगा, जिसे वह हर बार अपने डेबिट कार्ड पिन के साथ दर्ज करेंगे।24x7 ओटीपी-आधारित नकदी निकासी सुविधा की शुरुआत के साथ एसबीआई ने एटीएम नकदी निकासी में सुरक्षा स्तर को और मजबूत किया है। दिन भर इस सुविधा को लागू करने से एसबीआई डेबिट कार्डधारकों को धोखेबाजों, अनधिकृत निकासी, कार्ड स्किमिंग, कार्ड क्लोनिंग से बचने में मदद मिलेगी।OTP का इस्तेमाल ग्राहक बस एक लेनदेन के लिए कर सकते हैं। ग्राहक जब राशि निकालने के लिए एटीएम का सहारा लेंगे तो एटीएम स्क्रीन ओटीपी मांगेगा, वह OTP ग्राहक के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा। ओटीपी आधारित नकद निकासी की सुविधा केवल एसबीआई एटीएम में उपलब्ध है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें