नई दिल्ली। यह बहुत जरूरी नहीं है कि क्रेडिट स्कोर 750 से ऊपर हो तभी लोन मिल पाएगा। क्रेडिट स्कोर 300 से 900 के बीच आंका जाता है, जबकि 750 से ऊपर के स्कोर को बेहतर माना जाता है। हालांकि, कई लोग अभी भी नहीं जानते कि क्रेडिट स्कोर को बेहतर कैसे बनाया जाए। जिनकी सैलरी कम है वे भी क्रेडिट स्कोर बेहतर बना सकते हैं। कभी-कभी व्यक्ति कुछ मूर्खतापूर्ण गलतियां करते हैं जिसके कारण उनका क्रेडिट स्कोर नकारात्मक रूप से प्रभावित हो जाता है। ऐसे ही कुछ गलतियों के बारे में जानिए और आप इससे बचके रहिये।

1. लोन पेमेंट में चूक: समय पर अपने कर्ज के ईएमआई का भुगतान नहीं करने से आपका क्रेडिट स्कोर कम हो जाएगा। कभी-कभी, हम नियत तारीख के भीतर क्रेडिट कार्ड से भुगतान करने में विफल रहते हैं जिसके कारण बैंक जुर्माना लगाता है। इसका क्रेडिट स्कोर पर गंभीर प्रभाव पड़ता है। अगर आपके पास पैसे की दिक्कत नहीं है तो भी बैंक यह मानेंगे कि आप धन की कमी के कारण क्रेडिट कार्ड का बकाया चुकाने में सक्षम नहीं हैं। इसलिए लोन की किस्त का भुगतान समय पर कर दें। 

2. बहुत अधिक कर्ज लेना: यदि आप बहुत अधिक असुरक्षित लोन जैसे क्रेडिट कार्ड की बकाया राशि, पर्सनल लोन लेते हैं तो यह आपको क्रेडिट स्कोर को प्रभावित करेगा। बड़ी मात्रा में अवैतनिक देय राशि डिफ़ॉल्ट के जोखिम को बढ़ाती है। यदि आपकी मासिक कर्ज चुकौती (सभी कर्जों पर ब्याज और मूलधन) आपके घर के वेतन का 50% से अधिक है, तो यह आपके क्रेडिट स्कोर को कम कर देगा और दिखाएगा कि आप एक कमजोर ग्राहक हैं और किसी भी समय डिफ़ॉल्ट हो सकते हैं।

3क्रेडिट कार्ड का अत्यधिक उपयोग: यदि आप अक्सर अपने सभी कार्डों में अधिकतम क्रेडिट सीमा का उपयोग करते हैं तो यह आपके क्रेडिट स्कोर को नकारात्मक रूप से प्रभावित करेगा। विशेषज्ञों के अनुसार, 30% से कम की क्रेडिट उपयोग अनुपात (CUR) को बनाए रखना हमेशा अच्छे क्रेडिट स्कोर के लिए उचित होता है।

4. बहुत अधिक कर्ज के लिए आवेदन करना: कभी-कभी संपत्ति खरीदते समय लोग एक साथ लोन अस्वीकृति की संभावना को कम करने और ज्यादा बेहतर रेट प्राप्त करने के लिए कई बैंकों के साथ कर्ज के लिए आवेदन करते हैं। हालांकि, उन्हें ध्यान देना चाहिए कि हर बार जब वे लोन के लिए आवेदन करते हैं तो उनके बाकी के क्रेडिट हिस्ट्री के बारे में भी जाना जाता है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें