नई दिल्ली। देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने ग्राहकों को राहत दी है। SBI ने MCLR की दरों में सभी अवधि के लिए 0.05 फीसद तक कटौती की है। अब आपका होम, ऑटो और पर्सनल लोन सस्ता हो जाएगा। नई दरें 10 नवंबर से प्रभावी होंगी। बैंक ने 10 अक्टूबर 2019 को भी MCLR में 0.10 फीसद तक की कटौती की थी। मालूम हो कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने इस साल अब तक रेपो रेट में पांच बात कटौती की है। केन्द्रीय बैंक ने कुल 135 बेसिस पॉइंट्स की कमी की है। बैंक के मुताबिक, अब एक साल के लिए नई MCLR दरें 8.05 फीसद से घटकर 8 फीसद पर आ गई है। बैंक ने मौजूदा वित्त वर्ष में लगातार सातवीं बार दरें घटाई हैं।गौरतलब है कि निजी क्षेत्र के बड़े बैंक HDFC ने विभिन्न टेन्योर के लिए अपने MCLR में 10 बेसिस पॉइंट्स तक की कटौती की है। बैंक ने 6 महीने के MCLR के लिए 5 बेसिस पॉइंट्स की कटौती की है, जिसके बाद यह 8.1 फीसद हो गया है। 1 साल की अवधि के लिए 5 बेसिस पॉइंट्स की कटौती के बाद यह 8.3 फीसद हो गया है। 2 साल के टेन्योर के लिए 5 बेसिस पॉइंट्स की कटौती के बाद यह 8.4 फीसद और 3 साल की अवधि के लिए 10 बेसिस पॉइंट्स की कटौती के बाद 8.5 फीसद हो गया है। सभी दरें 7 नवंबर से प्रभावी हैं।बता दें कि केन्द्रीय बैंक ने रेपो रेट में कटौती के बाद सभी बैंकों से कहा है कि वह कटौती का लाभ तुरंत ग्राहकों को दें। दरअसल, आरबीआई को ऐसी शिकायत मिली थी कि बैंक रेपो रेट में कटौती का पूरा लाभ ग्राहकों को नहीं दे रहे हैं।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें