मुंबई। सरकारी क्षेत्र के कर्जदाता ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (ओबीसी) ने अब जाकर यह जानकारी दी है कि भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की जोड़ी उसके भी करीब 289 करोड़ रुपये ले भागी है। बैंक ने यह जानकारी ऐसे समय में दी है, जब उसका पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में विलय होने जा रहा है।नीरव मोदी और मेहुल चोकसी द्वारा पीएनबी को 13,500 करोड़ का चूना लगाने की खबर पिछले वर्ष फरवरी में आने के बाद देश का बैंकिंग सेक्टर हिल गया था। इस घटना के सामने आने के 18 माह बाद ओबीसी ने अब दोनों भगोड़े कारोबारियों और उनकी कंपनियों को विलफुल डिफॉल्टर घोषित करने संबंधी नोटिस जारी किया है। बैंक ने कहा है कि दोनों कारोबारियों ने उसकी मुंबई स्थित शाखा से 289 करोड़ का लोन लिया था। नोटिस के मुताबिक नीरव मोदी की कंपनी फायरस्टार इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड व फायरस्टार डायमंड प्रा. लि. ने ओबीसी का 60.41 करोड़ और 32.25 करोड़ का लोन नहीं लौटाया है।चोकसी की कंपनी गीतांजलि जेम्स लिमिटेड और नक्षत्र वल्र्ड लिमिटेड ने ओबीसी का 13.45 करोड़ और 59.53 करोड़ का लोन नहीं लौटाया है। बीते साल फरवरी में घोटाला सामने आने के बाद दोनों अपने परिवार के आरोपित सदस्यों के साथ देश छोड़कर भाग गए थे। ओबीसी ने 21 मार्च, 2018 को उनके लोन को एनपीए घोषित कर दिया था। इसके बाद बैंक ने लोन की रिकवरी के लिए दोनों भगोड़े कारोबारियों की संपत्ति की पहचान शुरू कर दी थी। घोटाला सामने आने के लगभग 18 माह बाद ओबीसी द्वारा लोन का ब्योरा देने पर सवाल उठ रहे हैं। दोनों व्यापारियों ने कुछ दूसरे बैंकों के लोन भी नहीं लौटाए हैं

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें