नई दिल्ली। 5 जुलाई को देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2019 पेश किया, जिसमें कई बड़ी घोषणाएं हुईं और कई योजनाओं को लॉन्च किया गया है। यहां हम आपको एक्सपर्ट जितेंद्र सोलंकी से बजट 2019 को लेकर हुई बातचीत के बारे में बता रहे हैं। SEBI सर्टिफाइड इन्‍वेस्‍टमेंट एडवाइजर जितेंद्र सोलंकी ने बजट पर अपनी राय रखी।
बजट की महत्वपूर्ण बातें क्या हैं इसके सवाल पर उन्होंने क्या कहा?
बजट में सरकार ने इन्वेस्टमेंट के लिए कदम उठाए हैं, मार्केट में काम करने के लिए कहा है। इंश्योरेंस सेक्टर के लिए सरकार ने कदम उठाए हैं, बैंकिंग और एनबीएफसी को मजबूत करने की बात कही है, एजुकेशन पॉलिसी के लिए सरकार ने नए कदम उठाए हैं और टैक्स में भी कहीं न कहीं बदलाव किए हैं। सरकार ने इस बजट में काफी कुछ फेरबदल किए हैं।
डेट मार्केट पर इसका क्या असर होगा?
डेट पेपर को कंपनियां निकालती हैं जो कि एफडी की तरह होता है। डेट मार्केट में एनबीएफसी को काफी दिक्कते आईं थी, जिसे कम करने के लिए क्रेडिट गारंटी निकाली गई है। लॉन्ग टर्म फॉर्म के लिए सरकार ने कदम उठाए हैं। वर्तमान में दिक्कतों को कम किया जाएगा, जिससे छोटे निवशकों को फायदा होगा।
इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाई गई है, इसका बाजार पर क्या असर होगा?
इसका बाजार पर खासा असर नहीं होगा, लेकिन गोल्ड की कीमतें बढ़ी हैं, जिसका असर निवेश पर होगा। तुरंत इसके फायदे नहीं दिखेंगे, लेकिन धीरे धीरे इससे फायदे होंगे।
क्रेडिट ग्रोथ बढ़ी, एनफीएफसी की फंडिग पर रोक नहीं इसके सवाल पर क्या कहा?
बैंकों को 70 हजार करोड़ रुपये दिया गया है, एनपीए में कमी आई है, जिससे बैंकों को राहत मिलेगी और इसका एनबीएफसी को भी फायदा होगा। इसका फायदा सीधे-सीधे छोटे निवेशकों को होगा।
मीडिया में निवेश, इंश्योरेंस में 100 फीसद निवेश और एविएशन में निवेश के सवाल पर क्या कहा?
जो बाहर की बड़ी कंपनियां हैं वो भारत आकर निवेश करेंगी, इससे इन इंडस्ट्री को काफी फायदा होगा। इन तीनों सेक्टर के लिए कैपिटल की जरूरत है, जिससे इन्हें बहूत ग्रोथ मिलेगी।
पैन की जगह आधार भी इस्तेमाल कर सकते हैं इसके सवाल पर क्या कहा?
पैन की जगह आधार का भी इस्तेमाल मान्य करने से देश में करदाताओं की संख्या में इजाफा होगा, क्योंकि कई लोगों के पास पैन कार्ड नहीं है, लेकिन उनके पास आधार कार्ड है।
वित्त मंत्री ने कहा कि 20 लाख करोड़ रुपये देश को चाहिए इसके सवाल पर क्या?
एफबीआई निवेश से फायदा होगा, सरकार आरबीआई के जरिए फंड लेगी। स्टार्टअप को राहत दी गई है, जिससे मदद मिलेगी।
5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने के सवाल पर क्या कहा?
अगर 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था हम चाहते हैं तो इंफ्रास्ट्रक्चर ठीक होना चाहिए औ रुरल डेवलेपमेंट होना चाहिए जिससे अर्थव्यस्था को ग्रोथ मिलेगी। रोजगार अच्छा होगा तो इससे अर्थव्यस्था ग्रोथ करेगी, जिसके लिए सरकार को इन क्षेत्रों में कार्य करने होंगे।

 

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें