नई दिल्ली। अबिदाली जेड नीमचवाला (Abidali Z Neemuchwala) 31 जुलाई से विप्रो के मैनेजिंग डायरेक्टर और कंपनी के सीईओ के रूप में कार्यभार संभालेंगे। अजीम प्रेमजी (Azim Premji) 31 जुलाई से 5 साल की अवधि के लिए नॉन एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर होंगे और विप्रो के फाउंडर चेयरमैन के रूप में रहेंगे। विप्रो के एक्जीक्यूटिव चेयरमैन अजीम प्रेमजी का कार्यकाल 30 जुलाई, 2019 को समाप्त होगा और उसके बाद अबिदाली जेड नीमचवाला एमडी और सीईओ बनेंगे।भारतीय सॉफ्टवेयर सर्विस एक्सपोर्टर विप्रो (Wipro) लिमिटेड ने गुरुवार को बताया कि विप्रो के फाउंडर अजीम एच प्रेमजी कंपनी के एक्जीक्यूटिव चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर (MD) के पद से जुलाई के अंत में रिटायर होंगे और चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर अबिदाली जेड नीमचवाला नए एमडी के तौर पर कार्यभार संभालेंगे।अजीम प्रेमजी भारत के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति और जाने-माने समाजसेवी व्यक्ति हैं, जिन्होंने 1946 में स्थापित वेजिटेबल ऑयल कंपनी से विप्रो को एक ग्लोबल आईटी फर्म बनाने तक का सफर तय किया है। 50 से अधिक वर्षों तक कंपनी का कार्यभार संभालने वाले अजीम प्रेमजी ने एक स्टेटमेंट में कहा कि यह मेरे लिए एक लंबी और संतोषजनक यात्रा रही है। मैं भविष्य में अपना अधिक समय समाजसेवी गतिविधियों में बिताना चाहता हूं।विप्रो ने कहा कि अजीम प्रेमजी के बेटे रिशद प्रेमजी 5 सालों के लिए एक्जीक्यूटिव चेयरमैन बनेंगे और अजीम प्रेमजी नॉन एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर के तौर पर कार्य करेंगे। विप्रो ने 1982 में आईटी प्रोडक्ट के बिजनेस में प्रवेश किया था। टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज लिमिटेड और इंफोसिस लिमिटेड जैसे बड़ी कंपनियां इसकी प्रतिद्वंदी कंपनियां हैं।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें